मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह बोले- उप चुनाव में रहा BJP का दबदबा, 2022 में फिर से बनेगी योगी सरकार

 यूपी में दोबारा 2022 में बनेगी BJP की सरकार
यूपी में दोबारा 2022 में बनेगी BJP की सरकार

मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह (Minister Siddharth Nath Singh) ने कहा कि विपक्ष लगातार जनता को कोरोना की विफलता, किसान सुधार बिल के मुद्दे पर गुमराह कर रहा था.

  • Share this:
प्रयागराज. योगी सरकार (Yogi Government) के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह (Minister Siddharth Nath Singh) ने विधान सभा उपचुनाव में बीजेपी को मिली बढ़त को लेकर कहा है कि जनता योगी सरकार के काम से खुश है. उन्होंने कहा है कि विकास कार्यों को लेकर जो नीतियां बन रही हैं, उसे जनता पसंद कर रही है. सीएम योगी के नेतृत्व में लोग जनसेवा में लगे हैं. उपचुनाव के नतीजों से साफ है कि 2022 में होने आम विधानसभा चुनाव में भी बीजेपी की ही दोबारा सरकार बनेगी. वहीं बिहार विधान सभा चुनाव में एनडीए को मिली बढ़त को लेकर कहा कि पीएम की लोकप्रियता आज भी बरकरार है.

बिहार की जनता ने सुशासन बाबू के विकास कार्यों पर एनडीए को वोट किया है. जनता राजद के जंगल राज को अब तक भूली नहीं है. इसलिए जो जंगलराज, गुंडाराज की राजनीति करेगा उसका यही हश्र होगा. सिद्धार्थनाथ सिंह ने ये भी कहा कि बिहार के चुनाव और यूपी के उपचुनाव के बाद अब बंगाल की बारी है. सिंह ने कहा कि बिहार चुनाव में योगी फैक्टर का बड़ा असर रहा है, योगी जी बेहद लोकप्रिय है उनकी जितनी सभाएं होनी थी उससे दोगुनी सभाएं हुई है.

ये भी पढ़ें- लखनऊ: मेदांता अस्पताल पहुंचकर CM योगी ने जाना महंत नृत्य गोपाल दास का हालचाल



उन्होंने कहा कि सीएम योगी की बिहार में बहुत डिमांड थी. पीएम मोदी, सीएम योगी और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की बिहार चुनाव में सबसे ज्यादा डिमांड रही है. सभी नेताओं ने कड़ी मेहनत की है, जिससे 15 साल के एंटी इनकंबेंसी फैक्टर के बाद भी एनडीए की सरकार बन रही है. मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि विपक्ष लगातार जनता को कोरोना की विफलता, किसान सुधार बिल के मुद्दे पर गुमराह कर रहा था. लेकिन जनता ने विपक्ष के बहकावे में न आकर उनको नकार दिया और समझदारी से विकास के लिए वोट किया है. यूपी में सरकार ने चार साल जनहित के लिए काम किया है और हमारी लीडर शिप स्ट्रांग है. यूपी और केंद्र दोनों सरकारी लगातार जनहित के अच्छे काम कर रही हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज