अम्बेडकरनगर: पुलिस हिरासत में युवक की मौत, SWAT प्रभारी और सिपाहियों पर हत्या, अपहरण का मुकदमा

अम्बेडकर नगर में पुलिस कस्टडी में एक शख्स की मौत के बाद हड़कंप मचा हुआ है.  (संकेतिक तस्वीर)

अम्बेडकर नगर में पुलिस कस्टडी में एक शख्स की मौत के बाद हड़कंप मचा हुआ है. (संकेतिक तस्वीर)

Ambedkar Nagar News: अम्बेडकर नगर में आजमगढ़ के जियाउद्दीन की पुलिस कस्टडी में मौत मामले में स्वाट प्रभारी और सिपाहियों के खिलाफ हत्या और अपहरण की एफआईआर दर्ज की गई है. ये पहले से ही लाइन हाजिर किए जा चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 27, 2021, 8:34 AM IST
  • Share this:
अंबेडकरनगर. उत्तर प्रदेश के अम्बेडकरनगर में आजमगढ़ निवासी जियाउद्दीन पुत्र अलाउद्दीन की पुलिस कस्टडी में मौत (Death in Police Custody) के बाद हड़कंप मचा हुआ है. मामले में स्वाट टीम प्रभारी और उनके हमराही सिपाहियों पर हत्या (Murder) और अपहरण (Kidnapping) का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. शुक्रवार देर रात्रि जियाउद्दीन के भाई की तहरीर पर अकबरपुर कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया.पुलिस पहले मुकदमा दर्ज करने में आनाकानी कर रही थी. परिजनों ने पोस्टमॉर्टम के बाद शव लेने से इनकार कर दिया था.

बता दें इससे पहले मामले में स्वाट टीम प्रभारी देवेंद्र पाल सिंह और 7 सिपाही लाइन हाजिर किए जा चुके हैं. दरअसल स्वाट टीम आजमगढ़ जनपद से जियाउद्दीन को लेकर आई थी. आरोप है कि पुलिस की पिटाई से युवक की मौत हो गई. पुलिस को जैतपुर थानाक्षेत्र में हुई एक लूट के सिलसिले में जियाउद्दीन पर शक था. इसी को लेकर स्वाट टीम ने उसे गुरुवार की रात उठाया था. बाद में उसे गंभीरावस्था में इसी रात 1.12 बजे जिला अस्पताल में भर्ती कराया. कुछ ही देर बाद 1.45 बजे इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

7 सदस्यीय स्वाट टीम लाइन हाजिर की गई, अब एफआईआर

मामले में एसपी ने प्रभारी देवेंद्र सिंह और आरक्षी हरिकेश यादव समेत 7 सदस्यीय स्वाट टीम को लाइन हाजिर कर दिया था, वहीं अब इन पर हत्या और अपहरण का मुकदमा दर्ज किया गया है. उधर मामले में मजिस्ट्रेट जांच गठित कर दी गई है. मामले में पुलिस का कहना है कि जियाउद्दीन से गाड़ी में पूछताछ के दौरान उसके सीने में दर्द होने लगा. इसके बाद उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया.
तीन दिन से गायब था जियाउद्दीन

वहीं परिजन कुछ और कहानी बयां कर रहे हैं. उनका कहना है कि तीन दिन से वे जियाउद्दीन की तलाश कर रहे थे. गुरुवार रात एक अज्ञात नंबर से जियाउद्दीन की पत्नी के मोबाइल पर कॉल आई. कॉल करने वाले ने जियाउद्दीन को हार्डअटैक होने की सूचना दी. आजमगढ़ के पवई थाने से अंबेडकर नगर के जैतपुर थाने जाने के लिए कहा गया, फिर स्वाट टीम का पता मिला. इस बीच देर रात जियाउद्दीन के मौत की सूचना मिली.  उन्होंने कहा कि जियाउद्दीन की पुलिसवालों ने हत्या की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज