Amethi news

अमेठी

अपना जिला चुनें

Amethi: गरीबों के लिए 10 साल पहले बने 518 फ्लैट शासन की लापरवाही के कारण फांक रहे धूल, जानें क्‍यों नहीं हुआ आवंटन

कांशीराम शहरी गरीब आवास योजना के तहत अमेठी में 518 फ्लैट बने थे.

कांशीराम शहरी गरीब आवास योजना के तहत अमेठी में 518 फ्लैट बने थे.

Amethi News: बसपा के शासनकाल में कांशीराम शहरी गरीब आवास योजना (Kanshiram Shahri Garib Awas Yojana) की शुरुआत हुई थी और इसके तहत यूपी के तमाम जिलों में आवास बनाए गए थे. इस दौरान अमेठी (Amethi) के मुसाफिरखाना नगर पंचायत और जायस नगर पालिका में करोड़ों रुपये की लागत से 518 मकान बने थे, लेकिन उनका आवंटन आज तक नहीं हुआ है.

SHARE THIS:

अमेठी. बसपा की तत्कालीन सरकार ने 2007 में शहरों में रह रहे गरीबों को आवास देने के लिए कांशीराम शहरी गरीब आवास योजना (Kanshiram Shahri Garib Awas Yojana) की शुरुआत की थी. इसके तहत यूपी के अमेठी (Amethi) के मुसाफिरखाना नगर पंचायत और जायस नगर पालिका में शासन की तरफ से आवास बनाने की संतुति हुई थी. यही नहीं, शासन के आदेश के बाद दोनों नगर पालिकाओं में आवास बनने शुरू हुए और 2012 में बनकर तैयार हो गए, लेकिन प्रसाशनिक लापरवाही से करीब 10 साल बीत जाने के बाद भी अभी तक शासन द्वारा गरीबों को दिया जाने वाला आशियाना नसीब नहीं हुआ. बता दें कि 518 मकान बनकर तैयार है, लेकिन प्रसाशन की लापरवाही के चलते आज भी धूल फांकने के साथ जर्जर हो रहे हैं.

बसपा के शासन काल 2012 में अमेठी के मुसाफिरखाना और जायस नगर पालिका में शहरी ग्रामीणों को आशियाना देने के लिए कई करोड़ की लागत से 518 फ्लैट बनाए गए थे, ताकि शहरों में रह रहे गरीब परिवार अपना जीवन यापन कर सकें. हालांकि अमेठी प्रसाशन की लापरवाही की वजह से कई साल बीत जाने के बाद भी यह गरीबों को नसीब नहीं हो सकें हैं. वहीं, अमेठी प्रसाशन भी इस ओर कोई ठोस कदम नहीं उठाया है, जिससे कि आम जनता को लाभ मिल सके. यही कारण रहा कि अब ये आशियाने धूल फांकने पर मजबूर है. यही नहीं, किसी तरह की देख रेख ना होने के कारण अनाधिकृत रूप से लोगों ने इन कीमती मकानों पर कब्जा भी कर लिया है.

अमेठी के डूडा अधिकारी ने कही ये बात
अमेठी के डूडा विभाग के जिला परियोजना अधिकारी उमा शंकर वर्मा ने बताया कि इन आवासों में लाइट और पानी की समस्या होने से अभी तक इसका आवंटन पात्र लोगों को नहीं किया जा सका है. इस संबंध में शासन स्तर पर लगातार पत्राचार किया जा रहा है. इसके साथ ही बताया कि संबंधित उप जिलाधिकारी के द्वारा भी पत्राचार किया गया है. जैसे ही निर्देश प्राप्त होगा बिजली और पानी की व्यवस्था करा कर पात्र लोगों को आवंटन कर दिया जाएगा.धन होने के चलते अभी तक यह कार्य पूरे नहीं हो पाए हैं.

स्थानीय लोगों की सरकार से गुहार
वहीं, लोगों का कहना है कि सरकार को चाहिए कि इन आवास को आवंटित कर दें जिससे गरीब लोगों को छत मिल जाए. ऐसे में इन आवासों पर कब्जा जमाए लोगों का कहना है कि हम लोगों के पास रहने का कोई घर नहीं था तो चेयरमैन के कहने पर हम लोग यहां रहने लगे हैं, लेकिन यहां तमाम तरह की दिक्कतें हैं. सरकार को चाहिए कि हम लोगों को छत मुहैया करा दें जिससे हम लोग अपने परिवार के साथ इन बने हुए आवासों में रह सकें. ऐसे में अब देखना दिलचस्प होगा कि क्या 2022 के पहले अमेठी के अधिकारी इन आवासों को गरीबों को आवंटित कर पाएंगे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

ठेले की चाट और चाय की चुस्कियों के बीच स्मृति ईरानी ने सुनी लोगों की समस्याएं, देखें Exclusive Video

स्मृति ईरानी ने चाट वाले की भी समस्याएं सुनी और अधिकारियों को समस्याएं सुलझाने के निर्देश दिए.

Amethi news: कुश्ती प्रतियोगिता का शुभारंभ करने फुरसतगंज पहुंची केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, काफिला रोक कर सड़क किनारे ठेले से खाई चाट और चाय की चुस्कियों के बीच सुनी लोगों की समस्याएं.

SHARE THIS:

अमेठी. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी अपने अमेठी दौरे के दूसरे दिन फुरसतगंज पहुंची. यहां पर उन्होंने तीन दिवसीय राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता का शुभारंभ किया. इसके बाद वापसी के दौरान जायस कस्बे में उनका काफिला अचानक रुक गया. वे अपनी गाड़ी से उतरीं और एक ठेले पर पहुंच गईं. यहां पर उन्होंने चाट खाई और चाय पीने की इच्छा जताई. इसके बाद उन्होंने कार्यकर्ताओं को भी चाट खिलाई और वहां मौजूद लोगों की समस्याओं को सुना. इस दौरान उन्होंने चाट बनाने वाले की भी समस्याएं सुनी और तत्काल अधिकारियों को समस्या का निवारण करने के भी निर्देश दिए.
ईरानी के साथ मौजूद पुलिसकर्मियों व अधिकारियों को भी उन्होंने चाट खिलाई और वहां लोगों की समस्याएं सुनने के साथ ही उन सभी की लिखित अर्जी भी ली व अधिकारियों को दी. स्मृति ईरानी के ठेले पर चाट खाने की खबर तेजी से फैली और मौके पर लोगों की भीड़ लग गई. कोई अपनी समस्या लेकर पहुंचा था तो कोई केवल अपने क्षेत्र की नेता को देखने के लिए पहुंचा था.

नामी पहलवान शामिल हुए
आजादी के अमृत महोत्सव और प्रधानमंत्री के जन्मदिन के मौके पर अमेठी में शुक्रवार से तीन दिवासीय राष्ट्रीय कुश्ती का महा मुकाबला शुरू किया गया है. इस दौरान केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने इसका शुभारम्भ किया. इस खेल में देश के अलग-अलग प्रदेशो से 500 से अधिक खिलाड़ी शामिल हुए, वहीं अंतराष्ट्रीय कुश्ती खिलाड़ी बबीता फोगाट, रवि दहिया और बजरंग पुनिया समेत देश के नामी गिरामी पहलवान इस कुश्ती दंगल में शामिल हुए हैं.

एक परिवार ने किया अमेठी का शोषण
इस दौरान केंद्रीय पंचायती राज्य मंत्री गिरिराज सिंह ने बताया कि यहां पर एक परिवार ने अमेठी का शोषण किया है. अमेठी की जनता के दुख दर्दों को मिटाने में विफल रहा और मैने तो यहां देखा एक कलेक्टर का ऑफिस तक डिस्‍ट्रिक्ट लेवल का नहीं है. आज स्मृति ईरानी सैनिक स्कूल भी खोल दिया है और एक कुश्ती प्रतियोगिता भी हो रही है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश मे 2022 मे फिर से योगी की सरकार बनेगी क्योंकि योगी के रहते कोई दंगाई सर नही उठा पा रहा है.

UP Election 2022: प्रियंका गांधी के UP दौरे को लेकर सियासत तेज, स्वतंत्र देव सिंह बोले- फिर से पधारी पिकनिक मनाने

UP Election 2022: प्रियंका गांधी के UP दौरे को लेकर सियासत तेज (File photo)

Priyanka Gandhi Lucknow Visit: बताया जा रहा है कि लखनऊ (Lucknow) में होने वाली बैठक में प्रियंका गांधी विशेष तौर पर हर गांव कांग्रेस अभियान की समीक्षा करेंगी.

SHARE THIS:

लखनऊ. यूपी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) से पहले सभी राजनीतिक पार्टियां एक्टिव नजर आ रही हैं. इसी कड़ी में गुरुवार को कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा अपने तीन दिवसीय दौरे पर लखनऊ पहुंची (Priyanka Gandhi) हैं. लेकिन इस बीच बीजेपी और कांग्रेस के बीच ट्विटर वॉर शुरू हो गया है. जिसके चलते आज एक बार फिर मिशन-2022 को लेकर प्रियंका गांधी के यूपी पहुंचने पर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) ने ट्वीट कर कटाक्ष किया, तो उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने भी उसके जवाब में स्वतंत्र देव सिंह की एक फोटो ट्वीट कर उन पर जमकर निशाना साधा है.

इस दौरान बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा कि ‘प्रियंका वाड्रा जी आज फिर से पिकनिक मनाने के लिए लखनऊ पधार रही है. ‘ जिसके बाद उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के ट्वीट पर पलटवार करते हुए उन्हें टैग कर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की एक फोटो ट्वीट की. जिसमें प्रियंका गांधी के लखनऊ आने के बाद बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह अपने कार्यकर्ताओं के साथ भागते हुए नजर आ रहे है.

बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने ट्वीट कर प्रियंका के लखनऊ आने पर ली चुटकी

बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने ट्वीट कर प्रियंका के लखनऊ आने पर ली चुटकी

चुनाव को लेकर रणनीति बनाएंगी प्रियंका गांधी
इसके बाद 10 सितंबर को कांग्रेस मुख्यालय पर सुबह 10 बजे सबसे पहले यूपी कांग्रेस की एडवाइजरी एंड स्ट्रेटजी कमेटी के साथ बैठक करेंगी. फिर प्रदेश इलेक्शन कमेटी के साथ बैठक के बाद प्रियंका जोनवार बैठक करेंगी. प्रियंका गांधी 10 और 11 सितंबर को विधानसभा चुनावों को लेकर उत्तर प्रदेश के सियासी और जातिगत समीकरणों को ध्यान में रखते हुए अपने उम्मीदवारों का चयन और उनके नामों की घोषणा के साथ प्रमुख चुनावी मुद्दों को लेकर अहम रणनीति भी बनाएंगी.

हर गांव कांग्रेस अभियान की समीक्षा
बताया जा रहा है कि लखनऊ में होने वाली बैठक में प्रियंका गांधी विशेष तौर पर हर गांव कांग्रेस अभियान की समीक्षा करेंगी. इसके चलते हर जोन से जुड़े पदाधिकारियों को जोन पर किए गए कार्यों की लिखित जानकारी के साथ पहुंचने का निर्देश दिया गया है. इस दौरान प्रियंका गांधी हर जोन में गठित कांग्रेस की ब्लॉक और न्याय पंचायत समितित के साथ ग्राम सभा अध्यक्षों के गठन की विस्तृत समीक्षा करेंगी.

Amethi News: अमेठी में तेज बारिश में दीवार ढही, मलबे में दबे 5 बच्चों में से 3 की मौत

अमेठी प्रशासन ने पीड़ित परिवारों को मदद का भरोसा दिया.

Heavy Rains in UP: उत्तर प्रदेश के अमेठी ज़िले (Amethi District) के एक गांव में मलबे में दबे दो अन्य घायल बच्चों का इलाज चल रहा है. वहीं, हादसे की खबर के बाद आनन-फानन में अमेठी का ज़िला प्रशासन मौका-ए-वारदात पर पहुंचा.

SHARE THIS:

अमेठी. ज़िले में बारिश के चलते एक मकान की कच्ची दीवार ढह गई, जिसकी चपेट में पांच मासूम बच्चे आ गए. हादसे के शिकार बच्चों को ग्रामीणों ने मलबे से निकालकर फौरन अस्पताल पहुंचाने की कवायद की, लेकिन सीएचसी में डॉक्टरों ने तीन बच्चों को मृत घोषित कर दिया और बाकी दो बच्चों के गंभीर रूप से घायल होने के बाद उन्हें खतरे से बाहर बताया गया. इधर, तीन बच्चों की मौत की खबर से पूरे गांव में कोहराम मच गया, इस दर्दनाक हादसे की खबर पाकर ज़िला प्रशासन के आला अफसर घटनास्थल पर पहुंचे और ग्रामीणों को उन्होंने हर तरह की मदद का आश्वासन दिया है.

पूरा मामला अमेठी ज़िले के तिलोई तहसील के टोडरपुर मजरे जमुरवां गांव का है. सोमवार शाम तेज़ बारिश में कच्ची दीवार ढहने से 8 वर्षिय वंश पुत्र श्यामलाल, 6 वर्षीय दिव्यांशु पुत्री राजेश और 10 वर्षीय सत्यम पुत्र शिवराज की मौके पर मौत हो गई. मासूमों की मौत के बाद परिजनों में मातम पसर गया, तो वहीं घायल 10 वर्षीय आशीष पुत्र श्यामलाल और शिवा (10) पुत्र राम बाबू को मलबे से निकालकर इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया गया. फिलहाल दोनों खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं.

ये भी पढ़ें : योगी के मंत्री भूपेंद्र चौधरी ने झांसी में किया दावा, ‘यूपी में बिल्कुल नहीं है मंहगाई’

ग्रामीणों की मदद से बच्चों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तिलोई ले जाया गया था. दो घायल बच्चों का सीएचसी में इलाज चला लेकिन बाद में एक बच्चे की हालत गंभीर होने के बाद उसे ज़िला अस्पताल रायबरेली रेफर किया गया. पूरे मामले की सूचना मिलते ही अमेठी डीएम अरुण कुमार, पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह, सीएमओ आशुतोष कुमार दुबे सहित कई अधिकारी मौके पर पहुंचे. डीएम ने मृतक बच्चों के परिवारों को हर संभव मदद का भरोसा दिया. वहीं, पुलिस ने शवों को कब्ज़े में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा.

स्मृति ईरानी ने 2 महीने पहले लिया था अमेठी के इस गांव को गोद, अब ऐसे बदलेगी सूरत

अमेठी के सुजानपुर गांव को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने गोद लिया है, ईरानी यहां के दौरे पर शनिवार को पहुंच रही हैं.

Amethi MP Village News: अमेठी में विकास के पथ पर दौड़ेगा मंत्री स्मृति ईरानी का गांव सुजानपुर. केंद्रीय मंत्री और सांसद स्मृति ईरानी शनिवार को गौरीगंज के सुजानपुर गांव पहुंच रही हैं. जहां पर वह विकास कार्यों का जायजा लेंगी. इस दौरान अमेठी के कलेक्टर भी साथ होंगे.

SHARE THIS:

अमेठी. केंद्रीय मंत्री और अमेठी सांसद स्मृति ईरानी (Smriti Irani) का गांव सुजानपुर (MP Village Sujanpur) अब विकास के रास्ते पर दौड़ता नजर आएगा. मंत्री स्मृति ईरानी शनिवार को अपने संसदीय क्षेत्र के दो दिवसीय दौरे पर अमेठी पहुंच रही हैं. स्मृति दो दिवसीय दौरे पर अमेठी पहुंचने के बाद शनिवार को अपने गोद लिए गांव सुजानपुर भी जाएंगी, जिसको लेकर अमेठी का जिला प्रशासन गांव में सभी तरह की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है. गौरीगंज ब्लॉक के सुजानपुर गांव में जल्द ही विकास की नई रफ्तार देखने को मिलेगी.

अमेठी के सुजानपुर गांव को केंद्रीय मंत्री व अमेठी सांसद स्मृति ईरानी ने आदर्श ग्राम योजना के तहत गोद लिया है. मंत्री की स्वीकृति मिलने के बाद से ही अधिकारी गांव में विकास की कार्ययोजना बनाने में जुटे हुए है. केंद्र की मौजूदा सरकार के पहले ही कार्यकाल में सांसद आदर्श ग्राम योजना लागू की गई थी. योजना के तहत सांसद अपनी इच्छा से अपने संसदीय क्षेत्रों के किसी गांव को गोद लेते हैं. इसके बाद प्रशासन द्वारा शासकीय योजनाओं को प्राथमिकता के आधार पर गांव में लागू किया जाता है.

2014 के चुनाव में स्मृति ईरानी अमेठी से सांसद तो नहीं बनीं, लेकिन उनकी पहल पर रक्षा मंत्री स्व. मनोहर परिकर ने जामों के बरौलिया व शाहगढ़ के हरिहरपुर गांव को गोद लिया था. मनोहर परिकर की पहल पर विभिन्न कंपनियों के सीएसआर से इन गांवों में विकास कार्य कराए गए. तत्कालीन सांसद राहुल गांधी ने भी डीह विकास क्षेत्र के जगदीशपुर गांव को गोद लिया था. 2019 में स्मृति ईरानी ने राहुल को हराकर अमेठी लोकसभा क्षेत्र से जीत दर्ज की. जिसके बाद उन्हें संसदीय क्षेत्र के एक गांव को आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत गोद लेना था. उन्होंने गौरीगंज ब्लॉक क्षेत्र के सुजानपुर गांव को गोद लेने की स्वीकृति पहले ही दे दी थी.

मंत्री स्मृति ईरानी को सुजानपुर गांव में मिले थे रिकॉर्ड वोट

2019 के लोकसभा चुनाव में सुजानपुर गांव में भाजपा की लहर चली थी. यह भी इस गांव को गोद लेने के पीछे प्रमुख वजह रही. सुजानपुर में भाजपा को 963 वोट मिलेथे जबकि कांग्रेस को 187 वोट मिले थे.

सुजानपुर की प्रोफाइल

अमेठी के गौरीगंज ब्लाक क्षेत्र के सुजानपुर गांव की प्रोफाइल की बात करें तो सुजानपुर ग्राम पंचायत में तीन राजस्व गांव हैं. सुजानपुर, सरोली और गोपालीपुर, इन तीनों गांव की कुल जनसंख्या 3,162 है. गांव में तीन प्राथमिक और एक उच्च प्राथमिक विद्यालय है. गांव में अनुसूचित जाति के की आबादी 1,023 है.

सुजानपुर के लिए बनाई गई ये कार्ययोजना

केंद्र और प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओं चरणबद्व तरीके से गांव में कराया जाएगा. गांव में योजनओं को प्राथमिकता से लागू करने के लिए जिला प्रशासन भी गंभीर नज़र आ रहा है. गांव में सड़क निर्माण, स्कूल का कायाकल्प, पंचायत भवन का निर्माण, पेंशन, पट्टे के साथ ही पेयजल योजना को भी प्रमुखता से लागू किया जाएगा.

दौड़ेगा विकास का पहिया

सांसद प्रतिनिधि विजय गुप्ता ने बताया कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने गौरीगंज विधानसभा के सुजानपुर गांव को गोद लिया है. जिले के अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर इस गांव में विकास कार्य कराए जाएंगे. गांव में हर उस कार्य को कराया जाएगा, जिसके होने से ग्रामीणों का विकास हो सके.

अमेठी जिलाधिकारी अरुण कुमार ने बताया कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी द्वारा सुजानपुर गांव को सांसद आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत गोद लेने की स्वीकृति प्राप्त हुई है. शनिवार को सांसद महोदय के सुजानपुर गांव जाने की भी सूचना मिली है, जिसके संबंध में अधिकारियों के साथ बैठक की गई है. जल्द ही गांव में कराए जाने वाले विकास कार्यों की पूरी कार्ययोजना तैयार की जाएगी.

अमेठी: PM मोदी के जन्मदिन पर स्मृति ईरानी कराएंगी कुश्ती का महादंगल, जुटेंगे दिग्गज

UP: सांसद और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पीएम नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस पर अमेठी में दंगल का आयोजन कराने जा रही हैं.

Amethi News: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की पहल पर राष्ट्रीय कुश्ती महासंघ ने राष्ट्रीय प्रतियोगिता की मेजबानी अमेठी को सौंपी है. कुश्ती प्रतियोगिता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन 17 सितंबर से शुरू होकर 19 सितंबर तक चलेगी.

SHARE THIS:

अमेठी. टोक्यो ओलंपिक और पैरा ओलंपिक में भारत के शानदार प्रदर्शन के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के जन्मदिन पर अमेठी (Amethi) में कुश्ती का महादंगल शुरू होने जा रहा है. 2022 के चुनावी दंगल के ठीक पहले केंद्रीय मंत्री और सांसद स्मृति ईरानी (Smriti Irani) दंगल प्रतियोगिता कराने जा रही हैं. अमेठी के युवाओं को खेल से सीधे जोड़ने के लिए सांसद की पहल पर राष्ट्रीय कुश्ती महासंघ ने इस बार राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता की मेजबानी इस बार अमेठी को सौंपी है, जो अमेठी के इतिहास में सबसे बड़ा खेल आयोजन होगा.

ओलंपिक प्रतियोगिताओं के बाद देश मे खेल का नया माहौल तैयार हो गया है. सांसद स्मृति ईरानी अमेठी को अपनी कर्मभूमि बनाने के बाद युवाओं के विकास में भी लगी हुई हैं. स्मृति की पहल पर लोकसभा क्षेत्र के अलग-अलग इलाकों में दो बार बड़े स्तर पर क्रिकेट प्रतियोगिता का भी आयोजन हो चुका है, जिसमें जिले भर के युवाओं ने हिस्सा लिया था.

एक बार फिर सांसद की पहल पर राष्ट्रीय कुश्ती महासंघ ने कुश्ती की राष्ट्रीय प्रतियोगिता की मेजबानी अमेठी को सौंपी है. कुश्ती प्रतियोगिता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन 17 सितंबर से शुरू होकर 19 सितंबर तक चलेगी. प्रतियोगिता में देशभर के 12 से 23 व आयु वर्ग के लगभग 550 पहलवान हिस्सा लेंगे. प्रतियोगिता गौरीगंज के कौहार स्थित सैनिक स्कूल परिसर में आयोजित की जाएगी. खिलाड़ियों को रहने और खाने की सारी व्यवस्था इसी परिसर में की जाएगी.

कार्यक्रम को सफल और संपन्न कराने के लिए स्मृति की टीम और उनके निर्देशन पर अमेठी में काम कर रही उत्थान सेवा संस्थान जुट गई है. अभी हाल ही में अमेठी के खिलाड़ियों के एक प्रतिनिधि मंडल ने दिल्ली जाकर स्मृति ईरानी से मुलाकात भी की थी.

प्रतियोगिता के शुभारंभ पर आएंगे दिग्गज

17 सितंबर को शुरू हो रही प्रतियोगिता के शुभारम्भ अवसर पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राष्ट्रीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष और सांसद बृजभूषण शरण सिंह के भी मौजूद रहने की संभावना है. पूरे कार्यक्रम के आयोजन पर खुद सांसद स्मृति ईरानी तीन दिनों तक अमेठी में ही रहेंगी. प्रतियोगिता के शुभारंभ या समापन के अवसर पर मुख्यमंत्री और डिप्टी सीएम केशव मौर्य के भी आने की उम्मीद है.

फोगाट बहने भी आएंगी अमेठी

कुश्ती प्रतियोगिता में पूरे विश्व मे देश का नाम ऊंचा करने वाली अंतराष्ट्रीय कुश्ती खिलाड़ी गीता फोगाट और बबिता फोगाट भी अमेठी आएंगी साथ ही देश के कई नामी पहलवान भी मौजूद रहेंगे.

खिलाड़ियों को मिलेगा प्रोत्साहन

कुश्ती प्रतियोगिता को लेकर सांसद स्मृति ईरानी के निजी सचिव ने कहा कि यह अमेठी के लिए गौरव का विषय है कि राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता की मेजबानी करने का अवसर  मिला है, जो दीदी स्मृति के प्रयास से संभव हो सका है. इसमें अमेठी के खिलाड़ियों को भी एक नई दिशा मिलेगी.

Amethi: दोस्त ने पति के सामने विवाहिता से रेप, फिर की जिंदा जलाकर मारने की कोशिश

UP: अमेठी में एक विवाहिता के साथ दुष्कर्म और उसे जिंदा जलाकर मारने की कोशिश का केस समाने आया है.

Rape And Attempt To Murder Case : पीड़िता का आरोप है कि उसके साथ यह घटना उसके पति की मौजूदगी में हुई. पति की सहमति से उसी के सामने उसके एक दोस्त ने रेप (Rape) किया. बाद में पति व उसके तीन दोस्तों ने उसके साथ मारपीट कर पेट्रोल डालकर फूंकने की कोशिश की.

SHARE THIS:

अमेठी. उत्तर प्रदेश में अमेठी (Amethi) के बाज़ार शुक्ल थानाक्षेत्र के कस्बे की रहने वाली एक विवाहिता से दुष्कर्म (Rape) के बाद मारपीट कर जिंदा जलाकर जान से मारने की कोशिश की सनसनीखेज वारदात सामने आई है. पीड़िता का आरोप है कि उसके साथ यह घटना उसके पति की मौजूदगी में हुई. पति की सहमति से उसी के सामने उसके एक दोस्त ने रेप किया. बाद में पति व उसके तीन दोस्तों ने उसके साथ मारपीट कर पेट्रोल डालकर फूंकने की कोशिश की. पीड़िता का आरोप है कि इस घटना की जानकारी के बावजूद पुलिस केस नहीं दर्ज कर रही.

बाजार शुक्ल कस्बे की रहने वाली विवाहिता का उसके पति श्रवण कुमार से पारिवारिक विवाद चल रहा है. पीड़ित महिला ने आरोप लगाया कि मेरे पति श्रवण कुमार से पुराना विवाद चल रहा है, जिसका मुकदमा परिवार न्यायालय में विचाराधीन है. इसी रंजिश को लेकर मेरे पति श्रवण कुमार अपने दोस्तों संग मिलकर ऐसा किया.

पहलेे पति ने पीटा, फिर दोस्त से करवाया रेप
महिला ने बताया कि बीते 24 अगस्त को उसका पति श्रवण कुमार अपने साथी राम गोपाल यादव, बब्बन तिवारी व एक अज्ञात के साथ कस्बा स्थित मकान में घुस आए. मकान में आने के बाद पति व उसके साथियों ने पहले विवाहिता की जमकर पिटाई की, उसके बाद उसके पति के दोस्त बब्बन ने उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया. फिर सभी दोस्तों संग मिलकर उन लोगों ने पेट्रोल डालकर उसे जिंदा जलाने की कोशिश की, लेकिन चीख-पुकार सुनकर लोगों को आता देख सभी मौके से भाग निकले.

पुलिस ने नहीं सुनी तो पीड़िता मदद को पहुंची एसपी ऑफिस
पीड़िता ने पूरे मामले की सूचना डायल 112 के साथ स्थानीय बाज़ारशुक्ल पुलिस को दी. पीड़िता का आरोप है कि सूचना के बाद पुलिस ने मुक़दमा दर्ज करने के बजाए छानबीन के नाम पर मामले को दबाने की कोशिश में जुट गई. पीड़िता की शिकायत पर मुक़दमा दर्ज ना होने से परेशान पीड़िता ने बुधवार को पूरे मामले की जानकारी अमेठी पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह को दी. एसपी दिनेश सिंह के निर्देश पर सभी आरोपियों के खिलाफ मुक़दमा दर्ज कर लिया गया.

पूरे मामले पर मुसाफिरखाना क्षेत्राधिकारी मनोज कुमार यादव ने बताया कि मामले की जानकारी मिली है. पुलिस हर पहलू की बारीकी से जांच कर रही है. जांच के बाद आरोपियों पर होगी कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

प्रॉपर्टी से जुड़ा है पूरा प्रकरण
पूरे मामले को लेकर बाजारशुक्ल थाना प्रभारी प्रेमचंद ने बताया पूरा मामला प्रॉपर्टी से जुड़ा हुआ है. पीड़ित महिला का उसके पति के साथ प्रॉपर्टी का विवाद चल रहा है. महिला ने जिसे आरोपी बनाया है, उसी पर प्रॉपर्टी को खरीदने का आरोप है, लेकिन पीड़िता की तहरीर पर पूरे मामले की गहनता से जांच की जा रही है, जो भी तथ्य सामने आएंगे कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

साइबर ठगों ने DM अमेठी के नाम से बनाई फर्जी Facebook ID, मांगे पैसे, FIR दर्ज

डीएम अमेठी के नाम फर्जी एफबी बनाकर ठगों ने लोगों से मांगे पैसे, एफआईआर दर्ज .

साइबर अपराधियों इस बार अमेठी जिलाधिकारी को ही शिकार बना लिया है. उनके नाम से एक फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर 25 हजार रुपये की मांग की. डीएम ने इस पर फौरन संज्ञान लिया और गौरीगंज कोतवाली में इस पर FIR दर्ज करा दी गई.

SHARE THIS:

अमेठी. साइबर अपराधियों (cyber criminals) इस बार अमेठी जिलाधिकारी (DM Amethi) को ही शिकार बना लिया है. उनके नाम से एक फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर 25 हजार रुपये की मांग की. अमेठी सूचना अधिकारी की तहरीर पर गौरीगंज कोतवाली में इस पर FIR दर्ज कर ली गई है. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी.

अमेठी में बेखौफ साइबर अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं कि अब उन्होंने अमेठी जिलाधिकारी के नाम से ही फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर लोगों को ठगने की योजना बना डाली. हांलाकि समय रहते अमेठी जिला प्रशासन को पूरे मामले की जानकारी हो गई. आईएएस अरुण कुमार के आदेश पर सूचना अधिकारी शिव दर्शन यादव ने गौरीगंज कोतवाली में एफआईआर दर्ज करवा दी है. पुलिस ने फर्जी आईडी को बंद करवाकर पूरे मामले की जांच शुरू कर दी.

आपको बता दें ऐसा पहली बार नहीं हुआ है. इससे पहले भी ठग अक्टूबर 2020 में भी दो बार ऐसा ही प्रयास कर चुके हैं. उस समय भी जिला प्रशासन को पूरे मामले की भनक लग गई थी, जिसके बाद साइबर अपराधी अपने इरादों में सफल नहीं हो पाए थे.

अमेठी में साइबर अपराधियों ने डीएम अमेठी अरुण कुमार की फोटो लगाकर डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट के नाम से फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर लोगों से पैसे मांगने के मामले की जानकारी होने पर डीएम ने पूरे मामले का संज्ञान लिया है. इस पर एसपी अमेठी दिनेश सिंह व जिला सूचना अधिकारी को पूरे मामले से अवगत कराते हुए कार्रवाई करने का निर्देश दिया है. गौरीगंज कोतवाली में पूरे मामले पर सूचना एवं प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा के तहत संबंधित अज्ञात फेसबुक आईडी संचालक के ऊपर मुक़दमा दर्ज कराया गया है. जिलाधिकारी की फर्जी फेसबुक आईडी को तत्काल बंद करवा दिया है.

अमेठी डीएम अरुण कुमार ने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि ऐसे साइबर अपराधियों के चंगुल में न फंसें. फेसबुक, व्हाट्सएप, टि्वटर, इंस्टाग्राम आदि सोशल नेटवर्किंग साइटों पर किसी भी व्यक्ति के द्वारा पैसे की मांग करने पर तत्काल इसकी सूचना अपने नजदीकी पुलिस थाने को दें. एसपी अमेठी दिनेश सिंह ने बताया कि पूरे मामले की बारीकी से जांच कराई जा रही है. जानकारी मिलते ही आरोपियों को गिरफ्तार कर कार्रवाई की जाएगी.

अमेठी: बैंक मैनेजर के व्यापारी बेटे का अपहरण, चंद घंटे में पुलिस ने किया खुलासा, जानिए पूरा मामला

UP: अमेठी पुलिस ने चंद घंटों के अंदर एक किडनैपिंग केस का खुलासा कर दिया और बैंक मैनेजर पिता को व्यापारी बेटे से मिला दिया.

Amethi News: बैंक मैनेजर का कपड़ा व्यापारी बेटा गौरव निगम अपने दोस्त के साथ अपनी दुकान खोलने राजा फत्तेपुर जा रहा था. वह अभी गंदा नाला पुल के पास पहुंचा ही था कि नीले रंग की कार पर सवार 4 बदमाशों ने उसका अपहरण कर लिया.

SHARE THIS:

अमेठी. उत्तर प्रदेश के अमेठी (Amethi) में बैंक मैनेजर के व्यापारी बेटे का अपहरण (Kidnapping) कर भाग रहे बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़ (Police Encointer) हो गई. मठभेड़ में सभी चार बदमाश पुलिस के हत्थे चढ़ गए, जिसमें एक बदमाश को पैर में गोली लगी जबकि एसओजी इंचार्ज के भी हाथ में गोली लगी है. दोनों का अमेठी सीएचसी में इलाज चल रहा है.

दरअसल कमरौली थाना क्षेत्र के इंडस्ट्रियल एरिया स्थित यूपीएसआईडीसी कालोनी में रहने वाले ग्रामीण बैंक मैनेजर के इकलौते बेटे का मोहनगंज थाना क्षेत्र में नीली कार सवार चार बदमाशों ने अपहरण कर लिया. घटना के कुछ समय बाद बदमाशों ने युवक के पिता के मोबाइल पर फोन कर 20 लाख की फिरौती मांगी. बेटे के अपहरण की खबर मिलते ही मां-बाप के हालात खराब हो गई और किसी तरह बुजुर्ग पिता मोहनगंज थाने पहुंचे और घटना की जानकारी दी.

दिनदहाड़े अपहरण की घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया. खुद एसपी दिनेश सिंह थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और एसओजी और सर्विलांस टीम को सक्रिय कर 4 टीमों का गठन कर जांच के आदेश दिए. पूरे मामले की मॉनिटरिंग कर रहे एसपी को सूचना मिली कि अपहरणकर्ता युवक को लेकर अमेठी कोतवाली की तरफ मूव कर रहे हैं.

इस सूचना पर पुलिस ने अमेठी कोतवाली और संग्रामपुर थाने के बॉर्डर पर सभी बदमाशों को घेर लिया. खुद को घिरता देख अपहरणकर्ताओं ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया, जिसके बाद पुलिसकर्मियों ने भी बदमाशों पर फायरिग की और सभी बदमाशों को गिरफ्तार कर अपहृत युवक को सकुशल बरामद कर लिया.

पुलिस और अपहरणकर्ताओं के बीच फायरिंग में एक बादमाश को गोली लगी जबकि एसओजी के प्रभारी विनोद यादव को भी हाथ में गोली लगी. दोनों का अमेठी सीएचसी में इलाज शुरू हुआ. घटना का खुलासा करने वाली टीम को एसपी ने 25 हजार रुपए का नगद इनाम देने की घोषणा भी कर दी.

चंद घंटे के भीतर सभी अपहरणकर्ता गिरफ्तार

सुबह 10 बजे बैंक मैनेजर का कपड़ा व्यापारी बेटा गौरव निगम अपने दोस्त के साथ अपनी दुकान खोलने राजा फत्तेपुर जा रहा था. गौरव अभी गंदा नाला पुल के पास पहुंचा ही था कि नीले रंग की कार पर सवार चार बदमाशों ने असलहे के बल पर उसका अपहरण कर लिया. दोस्त के अपहरण के बाद उसका साथी सीधे कमरौली थाने पहुंचा और थानाध्यक्ष शिवकांत पांडेय को आप बीती बताई.

थानाध्यक्ष युवक को लेकर घटनास्थल पहुंचे लेकिन घटनास्थल मोहनगंज होने के कारण उन्होंने पूरे मामले की जानकारी उच्चाधिकारियों के अलावा मोहनगंज थाना प्रभारी को दी. दिनदहाड़े हुए युवक के अपहरण की सूचना मिलते ही एसपी समेत कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची.

एसपी दिनेश सिंह ने तुरंत एसओजी और सर्विलांस और तीन टीमों का गठन कर अपहरणकर्ताओं की गिरफ्तारी और युवक को सकुशल बरामद करने का जिम्मा सौंपा, जिसके बाद टीमें सक्रिय हुई.

अपहरणकर्ताओं ने मांगी 20 लाख की फिरौती

युवक के अपहरण के तीन घंटे बाद अपहरणकर्ताओं ने युवक के मोबाइल से उसके पिता को फोन कर 20 लाख रुपए की फिरौती मांगी और पुलिस में शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी दी. सर्विलांस टीम ने अपहरणकर्ताओं की लोकेशन पता की. पता चला कि अपहरणकर्ता अमेठी कोतवाली और संग्रामपुर कोतवाली क्षेत्र के बॉर्डर पर मौजूद हैं, जिसके बाद कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची और बदमाशों को घेर लिया.

दो सगे भाइयों ने रची साजिश

शिवरतनगंज थाना क्षेत्र के रहने वाले दो सगे भाइयों आदित्य और अभय शुक्ला ने अपने साथियों के साथ मिलकर अपहरण की साजिश रची और पंजाब नंबर की नीली कार से अपहरण की घटना को अंजाम दिया.

अमेठी: बाइक सवार बदमाशों ने लूट के बाद बैंक संचालक को मारी गोली, ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर

अमेठी: बाइक सवार बदमाशों ने बैंक संचालक को मारी गोली

अमेठी (Amethi) के अपर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार पाण्डेय ने बताया कि बीओबी (BOB) बैंक के ग्राहक सेवा केंद्र पर 3 बाइक सवार बदमाश लूट के इरादे से पहुंचते है और संचालक से पैसा मांगते है.

SHARE THIS:

अमेठी. उत्तर प्रदेश के अमेठी (Amethi) जिले में शनिवार को मुसाफ़िरखाना क्षेत्र के भीखीपुर बाजार में कैश लूटने आये बाइक सवार बदमाशों ने बैंक ऑफ बड़ौदा (BOB) फ्रेंचाइजी संचालक को गोली मारकर 54 हजार रुपये लूटे लिए. गोली की आवाज सुनकर मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने बदमाशों को दौड़ा कर पकड़कर जमकर पिटाई कर दी. पिटाई के बाद ग्रामीणों ने बदमाशों को पुलिस को सुपुर्द कर दिया. उधर, घायल बैंक संचालक को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने तीनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है.

बता दें कि भीखीपुर बाजार स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा की फ्रेंचाइजी में बाइक सवार तीन बदमाश घुस आये और पैसा निकालने के लिए संचालक मृत्युंजय मिश्रा को आधार कार्ड थमाया. इसी बीच दो बदमाश पीछे से रूपये से भरा बैग छीनने लगे विरोध करने पर दोनों ने तमंचे से संचालक के ऊपर फायर झोंक दिया. घटना में दो गोली मृत्युंजय के गर्दन व कंधे पर लगी बताई जा रही है. बदमाशों के मृत्युंजय के भिड़ जाने के बाद बदमाशों ने उसे गोली मार कर केंद्र पर मौजूद 54 हजार रुपये लूट लिए. चीख पुकार सुनकर दौड़े ग्रामीणों ने बदमाशों का पीछा किया तो वे बाइक छोड़कर पैदल खेत के रास्ते भागने लगे. ग्रामीणों ने तीनों बदमाशों को घटनास्थल से डेढ़ किमी दूर नहर की पटरी पर पकड़ लिया और जमकर पिटाई कर पुलिस के हवाले कर दिया.

UP Chunav: क्या वीरों की धरती महोबा से PM मोदी करेंगे मिशन 2022 का शंखनाद, जानें BJP का प्लान…

सूचना पर पहुंची पुलिस ने बदमाशों को हिरासत में लेने के साथ घायल मृत्युंजय व बदमाशों को अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने प्राथमिक इलाज के बाद बैंक संचालक को लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया और मामूली रूप से घायल तीनों बदमाशों का मुसाफिरखाना सीएचसी में इलाज कर पुलिस को सौंप दिया गया. वहीं अमेठी के अपर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार पाण्डेय ने बताया कि बीओबी बैंक के ग्राहक सेवा केंद्र पर 3 बाइक सवार बदमाश लूट के इरादे से पहुंचते है और संचालक से पैसा मांगते है. संचालक के पैसा ना देने पर उसे गोली मारकर पैसे का बैग से भागने लगते है, तभी स्थानीय लोगों ने पीछाकर बदमाशों को पकड़ लिया.

दुबई में फंसे अमेठी के युवक ने भेजा मार्मिक VIDEO, पत्नी ने स्मृति ईरानी से लगाई गुहार

UP: अमेठी का एक युवक दुबई के शारजाह में फंसा हुआ है, परिवार ने सांसद स्मृति ईरानी से मदद की गुहार लगाई है

Amethi News: दुबई में काम नहीं मिलने और कमरा छूट जाने से परेशान कैलाश ने एक युवक की मदद से उसके मोबाइल में अपना वीडियो बनाकर अपनी पत्नी आरती को भेजा. वीडियो देखने के बाद परिवार में कोहराम मच गया है.

SHARE THIS:

अमेठी. उत्तर प्रदेश के अमेठी (Amethi) का रहने वाला एक युवक दुबई के शारजाह (Sharjah) में फंसा हुआ है. युवक ने व्हाट्सएप के माध्यम से अपने परिवार को मार्मिक वीडियो भेजा है. वीडियो मिलने के बाद से परिवारीजन परेशान हैं और उसे भेजने वाले एजेंट पर फंसाने का आरोप लगा रहे हैं. मामले परिजनों ने एसपी से युवक को वापस लाने की गुहार लगाई है, साथ ही अमेठी की सांसद स्मृति ईरानी को भी पत्र लिखकर मदद की गुहार लगाई है.

दरअसल नौकरी की चाह में एजेंट की मदद से दुबई के शारजाह गया एक युवक वहां फंस गया है. एजेंट के करीबियों की प्रताड़ना से परेशान युवक ने दूसरे के मोबाइल से एक मार्मिक वीडियो बनाकर पत्नी के व्हाट्स एप पर भेजकर वापस लाने की गुहार लगाई है.

युवक के परिजन शुक्रवार को अमेठी पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे और युवक को वापस लाने की मांग की. परिवार ने युवक को दुबई भेजने वाले एजेंट पर केस दर्ज करने के साथ पासपोर्ट व वीजा के नाम पर ली गई धनराशि वापस दिलाने के साथ कार्रवाई की मांग की है.

गौरीगंज कोतवाली क्षेत्र के सुभावतपुर वार्ड निवासी कैलाश को जामो थाने के गोरियाबाद निवासी बाबूलाल ने अच्छी नौकरी दिलाने की बात कहकर 21 फरवरी 2021 को दुबई भेजा था. इसके लिए उसने कैलाश के परिवार से 1 लाख 20 हज़ार रुपये लिए थे. आरोप है कि दुबई पहुंचने पर वहां रहने वाले बाबूलाल के करीबी एजेंट ने कैलाश का वीजा व पासपोर्ट अपने पास रख लिया. एजेंट ने कुछ दिन तक उसे काम के लिए आज-कल किया. इसके बाद उसे मारपीट कर कमरे से भी निकाल दिया.

पत्नी के व्हाट्सएप पर भेज मार्मिक वीडियो

काम नहीं मिलने व कमरा छूट जाने से परेशान कैलाश ने एक युवक की मदद से उसके मोबाइल में अपना वीडियो बनाकर अपनी पत्नी आरती को भेजा. वीडियो मिलने व उसे देखने के बाद परिवार में कोहराम मच गया. परिवार के लोगों ने एजेंट बाबूलाल से संपर्क किया तो उसने 20 हजार रुपये की अतिरिक्त मांग करते हुए कहा कि पैसा देने के बाद दुबई में उसे पूरी व्यवस्था मिल जाएगी.

कैलाश की परेशानी को देखते हुए शुक्रवार को आरती अपने पुत्र शिवांश, सास कुसुमा, देवर राम प्रसाद व जीजा राजकुमार के साथ एसपी कार्यालय पहुंची. पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे परिवार ने एसपी दिनेश सिंह को पूरे मामले की जानकारी देते हुए कैलाश को दुबई से वापस लाए जाने की मांग की.

अमेठी पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह ने बताया कि शिकायत को गंभीरता से लेते हुए इसकी जांच कराई जा रही है. जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी.

Load More News

More from Other District

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज