Home /News /uttar-pradesh /

अमेठी: सैनिक की मौत के बाद दर-दर की ठोकरें खा रहे परिवार को मिला डीएम का सहारा

अमेठी: सैनिक की मौत के बाद दर-दर की ठोकरें खा रहे परिवार को मिला डीएम का सहारा

डीएम से गुहार लगातार सैनिक परिवार. Photo: ETV Network

डीएम से गुहार लगातार सैनिक परिवार. Photo: ETV Network

पंजाब में सेना के जवान की ड्यूटी के दौरान मौत के बाद दर-दर की ठोकरें खा रहे अमेठी के सैनिक परिवार को डीएम का सहारा मिल गया है. डीएम ने परिवार की हर संभव मदद का भरोसा दिया है.

    पंजाब में सेना के जवान की ड्यूटी के दौरान मौत के बाद दर-दर की ठोकरें खा रहे अमेठी के सैनिक परिवार को डीएम का सहारा मिल गया है. डीएम ने परिवार की हर संभव मदद का भरोसा दिया है.

    मामला अमेठी के भेटुआ ब्लाक के भीमी गांव का है. यहां रहने वाले पांचू के इकलौते बेटे विवेक की तैनाती भारतीय सेना की मिसाइल रेजिमेंट में थी.

    वह पंजाब के मोगा में स्थित 407 गन मिसाइल रेजिमेंट में ड्यूटी कर रहा था. इसी दौरान 2 नवम्बर को ड्यूटी के दौरान उसकी ब्रेन हैमरेज से उसकी मौत हो गई.

    रेजिमेंट में तैनात कमांडर के आदेश पर दो जवानों के साथ पिता पांचू अपनी बहू और दो नाबालिग बच्चों के साथ डीएम से मिलने अमेठी पहुंचे. यहां उन्होंने डीएम से परिवार की माली हालत के बारे में बताया.

    पांचू के अनुसार इकलौते बेटे की मौत के बाद उनके पास जीने का सहारा छिन गया है. परिवार की माली हालत काफी खराब हो गई है. पांचू के पास सिर्फ थोड़ी सी जमीन है लेकिन उससे परिवार का गुजर बसर नहीं हो पाता है. न ही मकान है, जिससे वह गुजर बसर कर सके.

    विवेक के दो बेटे हैं, जो अभी काफी छोटे हैं. उनका भविष्य भी अब अंधकार में है. पैसे की तंगी के चलते वो उन्हें पढ़ा भी नहीं सकते हैं. प्रशासन से मदद के लिए आज उन्होंने डीएम से मुलाकात की है और डीएम ने भी सरकार के योजनाओ के माध्यम से हरसंभव मदद का भरोसा दिया है.

    वहीं कमांडिंग आफिसर के आदेश पर मृतक जवान के परिवार के साथ जिलाधिकारी से मिलने पहुंचे लांसनायक देव सिंह यादव ने कहा कि इनकी मदद के लिए हमारे आफिसर ने यहां भेजा है. हमारे रेजिमेंट की तरफ से और रक्षा मंत्रालय की तरफ से इनके परिवार के साथ सहानुभूति है. हम लोगों ने मदद के लिए डीएम साहब से मुलाकात की है और उन्होंने कहा है कि परिवार के एक सदस्य को ग्रुप डी में एक नौकरी देने का आश्वासन दिया है.

    उधर मामले में डीएम योगेश कुमार ने कहा कि मोगा में पोस्ट फौजी की मौत हो गई थी. ये मामला मेरे संज्ञान में नहीं था लेकिन आज पत्नी, पिता और इंडियन आर्मी के जवान मिलने आये हैं. आर्मी की तरफ से निवेदन किया गया है. हमारा पूरा प्रयास रहेगा कि उनकी पत्नी को जल्द से जल्द कही समायोजित किया जाए. दूसरे सरकारी योजनाओं के माध्यम से इनके परिवार को पूरी मदद की जाएगी.

    रिपोर्ट: पप्पू पांडेय

    Tags: अमेठी

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर