अमेठी के युवक की तंजानिया में मौत, पीड़ित परिवार की गुहार पर स्मृति ईरानी ने विदेश मंत्री को लिखा पत्र
Amethi News in Hindi

अमेठी के युवक की तंजानिया में मौत, पीड़ित परिवार की गुहार पर स्मृति ईरानी ने विदेश मंत्री को लिखा पत्र
ईरानी ने कहा कि बचाव और पुनर्वास सुविधाएं महिलाओं को ही नहीं बच्चों को भी उपलब्ध कराई गई हैं.

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने विदेश मंत्री को भेजे पत्र में लिखा है कि उनके संसदीय क्षेत्र में कोरारी गिरधरशाह, अमेठी के निवासी रमेश चंद्र सिंह का पत्र संलग्न सहित प्रेषित कर रही हूं. इन्होंने अपने पुत्र अभयराज सिंह का शव और बहू व पौत्र को वापस स्वदेश लाने का अनुरोध किया है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
अमेठी. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti irani) के संसदीय क्षेत्र अमेठी (Amethi) के रहने वाले एक युवक की दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के तंजानिया (Tanzania) में मलेरिया बीमारी से मौत हो गई. युवक की मौत के बेटे के शव को वापस लाने के लिए बेबस पिता और परिजनों ने सांसद स्मृति ईरानी को पत्र भेजकर पूरे मामले से अवगत कराते हुए बेटे के शव को वापस लाने की अपील की है. न्यूज 18 की इस खबर का असर हुआ है. सांसद स्मृति ईरानी मृतक के बेबस माता-पिता की गुहार सुन ली है और विदेश मंत्री एस जयशंकर को पत्र लिखकर सहायता का अनुरोध किया है.

अभयराज का शव, बहू व पौत्र के स्वदेश लाने में सहयोग करें

स्मृति ईरानी ने विदेश मंत्री को भेजे पत्र में लिखा है कि उनके संसदीय क्षेत्र में कोरारी गिरधरशाह, अमेठी के निवासी रमेश चंद्र सिंह का पत्र संलग्न सहित प्रेषित कर रही हूं. इन्होंने अपने पुत्र अभयराज सिंह का शव और बहू व पौत्र को वापस स्वदेश लाने का अनुरोध किया है. अभयराज की मृत्यु मलेरिया बीमारी के इलाज के दौरान तंजानिया अस्पताल में हो गई है. आपसे अनुरोध है कि रमेश चंद्र सिंह के प्रार्थनापत्र पर सहानुभूतिपूर्वक विचार कर इनके पुत्र का शव और बहू व पौत्र को स्वदेश लाने में सहयोग का कष्ट करें.



खेल शिक्षक थे अभयराज सिंह, तंजानिया में मौत



दरअसल अमेठी के स्थानीय ब्लॉक के गांव कोरारी गिरधरशाह निवासी रमेशचंद्र सिंह का पुत्र अभयराज सिंह (38) दक्षिण अफ्रीका के तंजानिया स्थित एक इंडियन स्कूल दार ईएस सलाम में खेल शिक्षक थे. अभयराज की पत्नी रुचि सिंह भी इसी स्कूल में संस्कृत विषय की शिक्षिका हैं. शिक्षक दंपती के साथ उनका पुत्र देव आदित्य प्रताप सिंह (9) भी वहीं रहता है.

शुक्रवार को तंजानिया में अभयराज की अचानक तबियत बिगड़ी. विद्यालय के सहयोगियों एवं पत्नी द्वारा उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां रविवार रात उनकी मौत हो गई. घटना की सूचना मिलने के बाद गांव में रह रहे पिता रमेशचंद्र, माता पुष्पा देवी, छोटे भाई अनुराग सिंह सहित अन्य परिवारीजनों का रो-रोकर हाल बेहाल है. अब इस परिवार को अंतिम आस जिले की सांसद स्मृति ईरानी और प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ से ही बची.

Smriti
अमेठी से सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का पत्र


मौत की सूचना मिलने के बाद पूरे गांव में सन्नाठा पसरा हुआ है.

ये भी पढ़ें:

अमेठी के युवक की तंजानिया में मौत, परिवार ने योगी और स्मृति से लगाई गुहार

तराशे पत्थरों से ही बनेगा राम मंदिर, 2 साल में हो जाएगी प्राण-प्रतिष्ठा
First published: June 2, 2020, 3:12 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading