अमेठी: पुलिस की मुस्तैदी से ढाई घंटे में सकुशल बरामद हुआ अगवा किशोर, मांगी गई थी 5 लाख की फिरौती

अपहृत किशोर शुभम

गौरीगंज कस्बे में देर शाम करीब 8 बजे अपने घर जा रहे एक किशोर शुभम का अपहरण कर अज्ञात बदमाशों मौके से फरार हो गए. अपहरण के कुछ देर बाद बदमाशों ने किशोर को छोड़ने के एवज में उसके पिता से 5 लाख की फिरौती मांगी.

  • Share this:
अमेठी. पुलिस (Police) की मुस्तैदी की वजह से अगवा होने के ढाई घंटे बाद ही किशोर को सकुशल बरामद कर लिया गया. अज्ञात बदमाशों (Kidnappers) ने गौरीगंज कोतवाली से चंद कदमों की दूरी पर 14 वर्षिय किशोर का अपहरण कर परिजनों से पांच लाख रुपये की फिरौती मांगी थी. इसकी सूचना मिलते ही एसपी दिनेश सिंह ने साइबर सेल के साथ ही कई टीम लगा दी. जिसका असर यह हुआ कि खुद को गिरता देख अपहरणकर्ताओं ने किशोर को छोड़ दिया और फरार हो गए.

5 लाख की फिरौती मांगी

दरअसल, गौरीगंज कस्बे में देर शाम करीब 8 बजे अपने घर जा रहे एक किशोर शुभम का अपहरण कर अज्ञात बदमाश मौके से फरार हो गए. अपहरण के कुछ देर बाद बदमाशों ने किशोर को छोड़ने के एवज में उसके पिता से 5 लाख की फिरौती मांगी. गौरीगंज कस्बे में पान विक्रेता के 14 वर्षिय बेटे शुभम के अपहरण के बाद पूरे परिवार में मातम पसर गया. बदमाशों ने रात में पान विक्रता के फोन कर 5 लाख रुपये की फिरौती मांग की. जिसके बाद पूरे मामले की जानकारी गौरीगंज कोतवाली को दी. पुलिस फौरन मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गई.

तुरंत एक्शन में आयी पुलिस

अमेठी पुलिस की साइबर सेल की मदद से युवक के मोबाइल का लोकेशन ट्रेस करने में जुट गई. घटना के बाद तुरंत एक्शन में आए अमेठी के पुलिस अधिक्षक दिनेश सिंह भी मौके पर पहुंचकर कई टीमें लगा दी. एसपी की सख्ती के बाद अपहरणकर्ता खुद को फंसता देख किशोर को बेहोशी की हालत में जामो रोड पर स्थित केया हॉस्पीटल के पास फेंक कर मौके से फरार हो गए. मौके पर एसपी दिनेश सिंह ने बेहोशी की हालत में मिले किशोर को स्वंय लेकर गौरीगंज जिला अस्पताल पहुंचे.

बेहोशी की हालत में मिला किशोर

न्यूज़18 से खास बातचीत में अमेठी पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह ने बताया कि पुलिस को 8 बजकर 5 मिनट पर यह सूचना प्राप्त हुई और जैसे ही सूचना मिली अमेठी की समस्त टीमों को सक्रिय कर दिया गया. पुलिस ने चारों तरफ से नाकेबंदी करनी शुरू कर दी. रेलवे स्टेशन, बस अड्डे और जितने भी शहर से बाहर जाने वाली सड़कें हैं  सभी को बंद कर दिया गया और पुलिस चेकिंग लगा दी गई. पुलिस की सभी टीमों ने बदमाशों की तलाश शुरू कर दिया. उन्होंने कहा कि जैसे ही यह किशोर होश में आएगा उससे पूछताछ के आधार पर आरोपियों की गिरफ़्तारी की जाएगी.

अमेठी के सीएमओ राजेश मोहन श्रीवास्तव को बताया कि डॉ पींताबर कनौजिया समेत कई डॉक्टरों ने बेहोशी की हालात में किशोर का इलाज किया और उसे खतरे से बाहर बताया है. फिलहाल किशोर का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.