कांग्रेस के गढ़ अमेठी में राहुल गांधी को घेरने में जुटी बीजेपी, बनाया ये प्लान

राहुल गांधी के दौरे से एक दिन पहले ही बीजेपी संगठन महामंत्री सुनील बंसल और योगी सरकार में राज्य मंत्री सुरेश पासी का अमेठी दौरा चर्चा का केंद्र बना हुआ है. मंगलवार को उन्होंने मंत्री, विधायक व जिला पदाधिकारियों के साथ गुपचुप बैठक की.

Ajayendra Rajan | News18Hindi
Updated: July 4, 2018, 12:50 PM IST
कांग्रेस के गढ़ अमेठी में राहुल गांधी को घेरने में जुटी बीजेपी, बनाया ये प्लान
अमेठी में बैठक करते बीजेपी के महामंत्री संगठन सुनील बंसल. Photo: News 18
Ajayendra Rajan
Ajayendra Rajan | News18Hindi
Updated: July 4, 2018, 12:50 PM IST
उत्तर प्रदेश के कांग्रेस के गढ़ माने जाने वाली अमेठी में इन दिनों सियासत उफान पर है. दो दिन के दौरे के लिए एक तरफ कांग्रेस अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी बुधवार को अमेठी पहुंच रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ बीजेपी भी राहुल गांधी को उनके ही गढ़ में घेरने के लिए रणनीति का जाल बुन रही है. इसी क्रम में राहुल गांधी के दौरे से एक दिन पहले ही बीजेपी संगठन महामंत्री सुनील बंसल और योगी सरकार में राज्य मंत्री सुरेश पासी का अमेठी दौरा चर्चा का केंद्र बना हुआ है. मंगलवार को उन्होंने जिलाध्यक्ष के आवास पर मंत्री, विधायक व जिला पदाधिकारियों के साथ गुपचुप बैठक की.

बीजेपी संगठन महामंत्री सुनील बंसल ने अमेठी संसदीय क्षेत्र के गौरीगंज मुख्यालय स्थित बीजेपी जनसम्पर्क कार्यालय पर जिलास्तरीय पदाधिकारियों के साथ बैठक की. बंद कमरे में काफी देर चली इस बैइक में संगठन मंत्री ने कार्यकर्ताओं से बुनियादी सुविधाओं से लेकर अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर भी चर्चा की.

यह भी पढ़ें: स्मृति ईरानी की अगुवाई में राहुल गांधी को उनके ही गढ़ में ऐसे घेर रही है बीजेपी



बताया जा रहा है कि इस बैठक में निर्देश दिए गए है कि केंद्र सरकार के अलावा यूपी सरकार के काम और बीजेपी द्वारा खासतौर पर अमेठी में कराए गए कामों, शुरू की गई योजनाओं से लेकर ब्लॉक स्तर तक जमकर प्रचार शुरू कर दिया जाए. सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक बीजेपी कार्यकर्ताओं को एकजुट किया जाए और जनता की समस्याओं पर आगे बढ़कर सहयोग किया जाए.

उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे संगठन की रीढ़ हैं. उन्हे ही समस्याओं को ऊपर तक पहुंचाना होगा, जिससे सरकार को भी काम करने का मौका मिलेगा. साथ ही हमारी, आपकी छवि के साथ सरकार की भी छवि दूसरी राजनैतिक पार्टी कि अपेक्षा सबसे बेहतर होगी. उन्होंने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में अभी एक साल का वक्त है, इसलिए जिलास्तरीय कार्यकर्ताओं के साथ बूथ लेवल के कार्यकर्ताओं को भी मेहनत व एकजुटता दिखानी होगी.

यह भी पढ़ें: मिशन 2019: अमित शाह और राहुल गांधी के यूपी दौरे से गरमाई सूबे की चुनावी फिजा

बैठक को राज्यमंंत्री सुरेश पासी, बीजेपी विधायक मयंककेश्वर शरण सिंह, जिला अध्यक्ष उमाशंकर पाण्डेय, कालीबक्श सिह ने भी संबोधित किया. इस मौके पर जिला महामंत्री भूपेन्द्र मिश्र, रामप्रसाद मिश्र, केशव सिह, पूर्व विधायक जमुना प्रसाद मिश्र, राघवेन्द्र सिंह, अनुराग पाण्डेय, अरूण मिश्र सहित संगठन के वरिष्ठ पदाधिकारी वा कार्यकरता मौजूद रहे.
Loading...

वैसे अमेठी में इन दिनों सियासत जोरों पर है. एक तरफ सांसद राहुल गांधी हैं सांसद निधि आदि से अमेठी के लिए कई योजनाएं ला रहे हैं. दूसरी तरफ बीजेपी की केंद्र और प्रदेश सरकार स्मृति ईरानी की अगुवाई में कई योजनाएं पेश कर राहुल को उनके ही गढ़ में घेरने में जुटी हैं. स्मृति ईरानी अब अमेठी में दीदी के नाम से जानी जाती हैं. दिलचस्प यह है कि दोनों ही राजनीतिक दिग्गजों की वर्चस्व की जंग में अमेठी के लोगों को पिछले चार सालों में खासा फायदा हुआ है. करीब 60 से ज्यादा परियोजनाएं और प्रोजैक्ट अमेठी को मिले हैं. इनमें कांग्रेस के करीब एक दर्जन प्रोजैक्ट हैं. वैसे कांग्रेस का आरोप ये भी है कि उसके कई प्रोजैक्ट को बीजेपी सरकार ने जानबूझकर या तो पूरा नहीं होने दिया या अमेठी से छीन लिया.

 

(इनपुट: पप्पू पांडेय)

ये भी पढ़ें: 

2019 रण के लिए यूपी में खिंचीं तलवारें, बीजेपी और कांग्रेस उतरीं मैदान में

मिशन 2019 में लगे अमित शाह यूपी के सांसदों, विधायकों की लेंगे 'परीक्षा'

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...