UP Panchayat Chunav 2021: अमेठी में प्रत्याशियों ने अपनाया अनोखा हथकंडा, एसपी बोले- होगी कड़ी कार्रवाई

गोरखपुर में केंद्रीय सुरक्षा बलों की मौजूदगी में पंचायत चुनाव कराए जाएंगे.  (file photo)

गोरखपुर में केंद्रीय सुरक्षा बलों की मौजूदगी में पंचायत चुनाव कराए जाएंगे. (file photo)

एसपी (SP) के मुताबिक आचार संहिता के दौरान अगर किसी प्रत्याशी द्वारा गिफ्ट देने की शिकायत मिलेगी तो कार्रवाई की जाएगी.

  • Share this:
अमेठी. यूपी पंचायत चुनाव- 2021 (UP Panchayat Chunav - 2021) में वोटरों (Voters) को लुभाने के लिए उम्मीदवार अब पर्दे के पीछे कई तरह के तरकीब शुरू कर दिए हैं. यूपी के अमेठी (Amethi) जिले में महिला वोटरों (Women Voters) को लुभाने के लिए साड़ी, चूड़ी, नथुनी, बिंदिया, अंगूठी, पायल और बिछुआ सहित कई तरह के उपहार (Gifts) दिए जा रहे हैं. वहीं प्रत्याशी और समर्थक व्यवहारिकता के चलते अपने-अपने वोटरों को शराब, पायल, बिछुआ, साड़ी समेत उनकी जरुरत के हिसाब से उन्हें मदद मुहैया कराने में जुटे हुए है. प्रत्याशी वोटरों को तरह-तरह के प्रलोभन देकर रणनीति बनाने में लगे हुए हैं.

आचार संहिता से बचने के लिए शुरू किया प्रयोग

गांव-गांव में होने वाले इस तरह के आयोजनों पर सरकारी तंत्र की खास नजर नहीं पड़ती है. लिहाजा, दावेदार आचार संहिता से बचने के लिए नए-नए प्रयोगों के साथ व्यवहार पहुंचा रहे हैं. यह व्यवहार नकद कम कीमती वस्तुओं के रूप में ज्यादा नजर आ रहा है. कोई साड़ी गिफ्ट में दे रहा है तो कोई पायल और बिछुआ जैसे उपहार महिला वोटरों को लुभाने के लिए भेज रहा है. ये उपहार परिवार में वोटों के हिसाब से दिए जा रहे हैं. अगर वोट ज्यादा है तो व्यवहार में वजन ज्यादा हो जाता है.

शिकायत मिलने पर होगी कार्रवाई- एसपी
अमेठी पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह ने कहा कि जिले में कहीं भी अगर शराब बांटी या फिर परोसी जाएगी तो संबंधित प्रत्याशी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने बताया कि पड़ोसी जिलों से शराब खरीदने की सूचना मिलने पर कड़ी कार्यवाई की जाएगी और साथ ही संबंधित एसएचओ के खिलाफ भी एक्शन लिया जाएगा. इसलिए अमेठी के सभी थाना प्रभारी अपने-अपने क्षेत्रों में गश्त रखें और मुखबिर तंत्र को अलर्ट रखें. इस तरीके की सूचना मिलने पर तुरंत कार्रवाई करें. एसपी के मुताबिक आचार संहिता के दौरान अगर किसी प्रत्याशी द्वारा गिफ्ट देने की शिकायत मिलेगी तो कार्रवाई की जाएगी.

श्रृंगार आइटम की बढ़ी डिमांड

पर्दे के पीछे इस चुनाव में साड़ी, नथुनी, बिंदिया की धड़ल्ले से बांटने की शुरुआत हो गई है. यूपी पंचायत चुनाव में इसकी डिमांड बढ़ जाने से दुकानदारों ने स्टॉक भी बढ़ाना शुरू कर दिया है. इस समय पूरे यूपी में महिलाओं के श्रृंगार आइटम की डिमांड सबसे ज्यादा हो गई है. नकदी बांटने की चर्चा लगभग हर चुनाव में सुनने को मिलती है, लेकिन इस बार के पंचायत चुनाव में पुराने प्रयोगों के साथ-साथ नए ‘व्यवहार’ भी शुरू किए जा चुके हैं. ऐसे में अब देखना यह है कि प्रशासन इस नए प्रचलन या व्यवहार पर कैसे काबू पाता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज