अपना शहर चुनें

States

अमेठी बदसलूकी का वीडियो पोस्ट कर प्रियंका गांधी ने पूछा- ये कौन सा व्यवहार है डीएम साहब?

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने रायबरेली में डीएम की बदसलूकी का वीडियो  पोस्ट कर सवाल खड़े किए हैं.
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने रायबरेली में डीएम की बदसलूकी का वीडियो पोस्ट कर सवाल खड़े किए हैं.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने फेसबुक पर अमेठी डीएम प्रशांत कुमार (DM, Amethi, Prashant Kumar) की बदसलूकी का वीडियो पोस्ट कर पूछा है कि ये कौन सा व्यवहार है DM साहेब? इस video में अमेठी के कलेक्टर महोदय जिस व्यक्ति से दुर्व्यवहार कर रहे हैं, उनके भाई की कल बदमाशों ने हत्या कर दी थी.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अमेठी में बीजेपी नेता (BJP Leader) के बेटे की हत्या (Murder) के बाद पोस्टमार्टम (Postmortum) के दौरान आक्रोशित भीड़ को समझाने की बजाए अमेठी के डीएम प्रशांत कुमार (DM Prashant Kumar) अपना आपा खो बैठे. डीएम ने आक्रोशित भीड़ के बीच मृतक सोनू सिंह के चचेरे भाई और पीसीएस अधिकारी सुनील सिंह का कॉलर पकड़कर खींचा. उधर इस घटना को लेकर अब सियासत भी तेज हो गई है. मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने वाड्रा ने डीएम से उनके व्यवहार पर सवाल उठाते हुए बीजेपी सरकार पर हमला बोला है.

बीजेपी सरकार पर किया हमला

प्रियंका गांधी ने फेसबुक पर डीएम की बदसलूकी का वीडियो पोस्ट कर पूछा है, "ये कौन सा व्यवहार है DM साहेब? इस video में अमेठी के कलेक्टर महोदय जिस व्यक्ति से दुर्व्यवहार कर रहे हैं, उनके भाई की कल बदमाशों ने हत्या कर दी थी. भाजपा सरकार में प्रशासन का बल अपराधियों पर तो नहीं चलता है; लेकिन पीड़ित परिवार के लोगों से इस तरह का शर्मनाक व्यवहार आए दिन होता है."




स्मृति ईरानी ने भी दी डीएम को सलाह

बता दें इससे पहले इस पूरे मामले में अमेठी की सांसद स्मृति ईरानी ने भी ट्वीट कर डीएम को उनके कर्तव्य का एहसास कराया.अपने ट्वीट में स्मृति ईरानी ने डीएम अमेठी को टैग करते हुए लिखा है, "विनयशील एवं संवेदनशील बनें हम यही प्रयास होना चाहिए. जनता के हम सेवक है, शासक नहीं."

बीच-बचाव के दौरान चंद्रशेखर ने सोनू सिंह को मार दी गोली
बता दें अमेठी के जिला मुख्यालय गौरीगंज (Gauriganj) में मामला गौरीगंज कोतवाली क्षेत्र के मुसाफिरखाना मार्ग पर स्थित बिशुनदासपुर का है. जहां कस्बे में ही रहने वाले अर्पित और चंद्रशेखर के बीच एक पुराने विवाद को लेकर कहासुनी हो गई. दोनों के बीच विवाद बढ़ता देख पास में ही मौजूद भाजपा नेता शिवनायक सिंह (BJP Leader Shivnayak Singh) के बेटे और भट्ठा व्यवसायी सोनू सिंह (Sonu Singh) बीच-बचाव करने पहुंचे. इस पर चंद्रशेखर ने सोनू पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं और मौके से फरार हो गया. गंभीर रूप से घायल सोनू को जिला अस्पताल पहुंचाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची एसपी (SP) को भी परिजनों के विरोध का सामना करना पड़ा. परिजनों के साथ ही ग्रामीणों ने एसपी के सामने पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. दिनदहाड़े सरेबाजार हुई युवक की हत्या के बाद पूरे कस्बे में तनाव की स्थिति बनी हुई है, जिसके बाद मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है. फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. वहीं पोस्टमार्टम के दौरान डीएम मौके पर पहुंचे तो ये घटना सामने आई.

ये भी पढ़ें:

स्मृति ईरानी ने ट्वीट कर डीएम अमेठी को दी सलाह- जनता के हम सेवक हैं शासक नहीं

बीजेपी नेता के बेटे की हत्या: डीएम ने मृतक के PCS भाई को कॉलर पकड़कर खींचा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज