अमेठी: गेहूं बेचने के इंतजार में दम तोड़ने वाले किसान अब्दुल सत्तार के घर पहुंचे राहुल गांधी

जायस मंडी में गेहूं बेचने के गए किसान अब्दुल सत्तार की कई दिनों इंतजार के बाद ही मौत हो गई थी. पता चला था कि अधिकारी की मनमानी रवैया के चलते किसान के गेंहू की कई दिनों तक खरीद नही हो सकी थी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 4, 2018, 3:01 PM IST
अमेठी: गेहूं बेचने के इंतजार में दम तोड़ने वाले किसान अब्दुल सत्तार के घर पहुंचे राहुल गांधी
किसान अब्दुल सत्तार के परिवार से मुलाकात करते राहुल गांधी. Photo: News 18
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 4, 2018, 3:01 PM IST
अमेठी के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे सांसद राहुल गांधी बुधवार को फुरसतगंज से सीधे जायस के ​धिंगई गांव रवाना हो गए. यहां वह किसान अब्दुल सत्तार के घर पहुंचे. यहां उन्होंने परिजनों से मुलाकात कर शोक संवेदना व्यक्त की. साथ ही राहुल गांधी ने हर संभव मदद देने का भरोसा दिया.  बता दें मई में जायस मंडी में गेहूं बेचने के गए किसान अब्दुल सत्तार की कई दिनों इंतजार के बाद ही मौत हो गई थी. पता चला था कि अधिकारी की मनमानी रवैया के चलते किसान के गेंहू की कई दिनों तक खरीद नही हो सकी थी. पीड़ित के परिवार का आरोप है कि उन्हें किसी तरह की आर्थिक सहायता नही दी गई थी.

इसके बाद राहुल गांधी दूनी का पुरवा गांव पहुंचे. यहां गांव में स्थित मदरसा फ़ातिमतुल कुबरा में राहुल गांधी ने लंच किया. तिलोई विधानसभा में स्थित इस गांव में राहुल गांधी पहले भी प्रियंका गांधी के साथ आ चुके हैं. दरअसल अमेठी के फुरसतगंज थानाक्षेत्र के धिंगई का पुरवा गांव निवासी अब्दुल सत्तार (40) ट्रैक्टर ट्रॉली पर दो मई को गेहूं लेकर बेचने के लिए पहुंचे थे. तीन दिन से गेहूं बेचने के लिए किसान अब्दुल सत्तार को अपनी बारी का इंतजार था. लेकिन केंद्र पर बोरा न होने की बात कह खरीद बंद थी. इसके बाद परेशान किसान अब्दुल सत्तार की की जान चली गई. वह रात में मंडी में ही सोया और सुबह नहीं उठा.

अब्दुल सत्तार की पत्नी फूलजहां और तीन बेटियां गुलशन, सबीहा, साहिबा व दो मासूम बेटों आसिफ, अयान हैं.  किसान के परिजनों ने क्रय केंद्र प्रभारी पर उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है. उधर एसडीएम गिरिजेश चौधरी ने कहा कि दो दिन इंतजार के बावजूद गेहूं की खरीद क्यों नहीं हुई, इसकी जांच की जा रही है. किसान के परिजनों के आरोपों की भी जांच हो रही है. आरोप सही हैं तो खरीद अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें: 

कांग्रेस के गढ़ अमेठी में राहुल गांधी को घेरने में जुटी बीजेपी, बनाया ये प्लान

अमेठी में बोले राहुल गांधी, 'मोदी की ट्रेन बुलेट नहीं, मैजिक ट्रेन है जो कभी नहीं बनेगी'

कांग्रेसजनों से सीधे संवाद के लिए राहुल गांधी ने अमेठी में लॉन्च ​किया शक्ति प्रोजेक्ट
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर