अमेठी: घर से निकली दूल्हे की बारात, पर आधे रास्ते कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट लेकर पहुंचे अधिकारी, फिर...
Amethi News in Hindi

अमेठी: घर से निकली दूल्हे की बारात, पर आधे रास्ते कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट लेकर पहुंचे अधिकारी, फिर...
स्वास्थ्य विभाग ने शादी रोक दी. प्रतीकात्मक तस्वीर)

आधे रास्ते बारात को रोक दिया गया, लेकिन दूल्हा मेडिकल टीम को हैदरगढ़ (Haidergarh) में मिला जबकि बारात को कमरौली थाना क्षेत्र में रेलवे क्रासिंगी के पास रोक लिया गया.

  • Share this:
अमेठी. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अमेठी (Amethi) जिले में कोरोना संक्रमण से जुड़ा एक अजीबो गरीब मामला सामने आया है. शादी के लिए निकले दूल्हे की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव (Coronavirus) आ गई. मामले की जानकारी लगते ही प्रशासनिक अमला सक्रिय हो गया. आधे रास्ते बारात को रोक दिया गया, लेकिन दूल्हा मेडिकल टीम को हैदरगढ़ में मिला जबकि बारात को कमरौली थाना क्षेत्र में रेलवे क्रासिंगी के पास रोक लिया गया. अब दूल्हे के पिता समेत 10 लोगों को गौरीगंज जिला अस्पताल लाया गया है. अमेठी CMO राजेश मोहन श्रीवास्तव ने इसकी पुष्टि भी की है.

अमेठी में शुक्रवार की शाम आई रिपोर्ट में नौ लोग कोरोना संक्रमित पाए गए. इनमें शुकुल बाजार के बरसंडा निवासी तीन लोग शामिल हैं. सभी दिल्ली से आए थे. बरसंडा निवासी जिस युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली उसकी शुक्रवार को ही शादी थी. युवक ने 16 तारीख को सैंपल जांच के लिए दिया था. शुक्रवार शाम को आई रिपोर्ट पॉजिटिव निकली. यही नहीं उसके पिता भी कोरोना संक्रमित पाए गए लेकिन इससे पहले बारात बाराबंकी के हैदरगढ़ के लिए निकल चुकी थी.

प्रशासन ने रोकी बारात



युवक की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद अधिकारी फौरन हरकत में आ गए. प्रशासन ने सक्रियता दिखाते हुए बारात रुकवाई. हालांकि दूल्हा और कुछ बराती पहले ही निकल चुके थे. जब मेडिकल टीम पहुंची तो संक्रमित पाया गया दूल्हा उन्हें नहीं मिला. इस संबंध में अमेठी सीएमओ राजेश मोहन श्रीवास्तव ने बताया कि बारात निकल चुकी थी. दूल्हे की रिपोर्ट पाजिटिव आई है. वह मौके पर नहीं मिला लेकिन दूल्हे को हैदरगढ़ से मेडिकल टीम इलाज के लिए गौरीगंज ला रही है.
ये भी पढ़ें: खजूरबानी शराबकांड: 4 साल बाद 13 पुलिसकर्मी बर्खास्त, 8 अधिकारी भी शामिल

कोरोना के बढ़े मामले

मालूम हो कि उत्तर प्रदेश में 19 और मौतों के साथ शुक्रवार को कोविड-19 संक्रमण से मरने वालों की संख्या 500 से अधिक हो गई है. जबकि प्रदेश में बीते 24 घंटे के दौरान किसी एक दिन में संक्रमण के सबसे अधिक 817 मामले सामने आने के साथ ही कुल मामले बढ़कर 16594 हो गये हैं. जबकि यूपी के अपर मुख्य सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में संक्रमण का इलाज कराने वाले लोगों की संख्या 6092 है जबकि 9995 लोगों को पूर्णतया स्वस्थ होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है.

ये भी पढ़ें: आधी रात बदमाशों ने तोड़ा घर का ताला, लाखों लूटकर फरार, देखें Video

अब तक 507 लोगों की मौत
अपर मुख्य सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि कोविड-19 संक्रमण के कारण बीते 24 घंटे में 19 और मौतों के साथ ही इस संक्रमण के मृतकों का आंकडा 507 हो गया है. पृथक-वास में 6095 लोगों का विभिन्न चिकित्सालयों में अपना इलाज चल रहा है. जबकि पृथक-वास में रह रहे 7378 लोगों के सैंपल एकत्र कर उनकी जांच की जा रही है. गुरुवार को प्रदेश में सैम्पलिंग की संख्या एक बार फिर से बढ़ी और यह 17 हजार के आंकडे के पार हो गयी. कुल 17221 सैम्पल की जांच की गयी. जबकि अब तक उत्‍तर प्रदेश में अब तक कुल 5, 32, 505 सैम्पल की जांच की जा चुकी है. उन्होंने बताया कि पूल सैम्पल के माध्यम से गुरुवार को ही पांच- पांच सैम्पल के 1229 पूल लगाये गये, जिनमें से 167 पॉजिटिव निकले जबकि दस दस सैम्पल के 110 पूल लगाये गये, जिनमें से 24 पॉजिटिव पाये गये हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading