दलित प्रधानपति हत्या मामला: पीड़ित परिवार से मिला बसपा प्रतिनिधिमंडल, CM से इस्तीफे की मांग

बसपा प्रतिनिधिमंडल ने पीड़ित परिवार से मिलकर योगी सरकार पर हमला बोला
बसपा प्रतिनिधिमंडल ने पीड़ित परिवार से मिलकर योगी सरकार पर हमला बोला

पूर्व मंत्री गयाचरण दिनकर (Gaya Charan Dinkar) ने योगी आदित्यनाथ पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्हें सीएम पद से इस्तीफा दे देना चाहिए, क्योंकि वे इस पद के काबिल नहीं हैं. जाकर पूजा-पाठ करना चाहिए.

  • Share this:
अमेठी. दलित प्रधान के पति अर्जुन कोरी की जिंदा जलाकर हत्या के मामले में अब सियासत शुरू हो गई है. पूर्व मंत्री एवं बसपा नेता गयाचरण दिनकर (Gaya Charan Dinkar) रविवार को पीड़ित परिवार से घर जाकर मिले. और परिजनों को ढांढ़स बंधाया. पूर्व मंत्री ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) पर हमला बोलते हुए कहा कि आरएसएस के प्रोडेक्ट योगी आदित्यनाथ इस प्रदेश के संवैधानिक पद पर हैं, लेकिन वे अपने कर्तव्यों और दायित्वों का निर्वाहन नहीं कर पा रहे हैं. धर्म और जाति को आधार बनाकर जिस तरह पूरे प्रदेश में माहौल खराब किया जा रहा है, ऐसे में हर तबके के लोग खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं.

पूर्व मंत्री ने कहा कि ऐसी सरकार और ऐसी सरकार के मुखिया को उत्तर प्रदेश की जनता पर रहम करनी चाहिए. उन्हें सीएम पद से इस्तीफा दे देना चाहिए. क्योंकि वे इस पद के काबिल नहीं हैं. जिसके काबिल हैं वहां जाकर पूजा-अर्चना करें. एक पुजारी के बारे में कल्पना की जा सकती है़ कि वो भगवान के भक्तों यानी लोग की रक्षा करें. लेकिन यह पुजारी राजसत्ता में चूर होकर प्रदेश में गुंडा और माफिया को बढ़ावा दे रहे हैं.

पूर्व मंत्री ने कहा कि जिस सरकार के रहते जीने का हक छीन लिया जाता हो, जो अपने दायित्व और कर्तव्यों को भूल गई हो. संवैधानिक कर्तव्यों को भूलाकर जाति-धर्म के आधार पर प्रदेश की जनता के मान-सम्मान को रौंदने का काम कर रही हो, उस सरकार से कोई मांग नहीं की जा सकती.



पूर्व मंत्री के साथ बसपा का 6 सदस्यीय प्रतिनतिधिमंडल मुंशीगंज थानाक्षेत्र स्थित बन्दोइया गांव पहुंचकर पीड़ित परिवार से मुलाकात की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज