स्वराज बचाओ अभियान के मद्देनजर राहुल गांधी संदेश यात्रा

27 नवंबर को बलिया से निकली यात्रा का समापन 23 दिसम्बर को दिल्ली के जंतर मंतर पर होगा. यात्रा की अगुवाई संयोजक बाबुल सिंह कर रहे हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 6, 2018, 10:29 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: December 6, 2018, 10:29 PM IST
स्वराज बचाओ अभियान के मद्देनजर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के संदेश को देश के जन-जन तक पहुंचाने के लिए 'राहुल संदेश' यात्रा अमेठी पहुंची है. इस यात्रा का उद्देश्य केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार के नाकामयाबियों को गिनाने और यूपीए सरकार द्वारा किये गए कामों को लोगों तक पहुंचाना है.

यह यात्रा बृहस्तपतिवार को राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी पहुंची है. जहां पर कांग्रेसी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने इसका स्वागत किया. इसके बाद पैदल मार्च करते हुए यह कलेक्ट्रेट ऑफिस पहुंची. जहां 7 सूत्री मांगों को लेकर राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा गया.

गौरतलब है कि 27 नवंबर को बलिया से निकली यात्रा का समापन 23 दिसम्बर को दिल्ली के जंतर मंतर पर होगा. यात्रा की अगुवाई संयोजक बाबुल सिंह कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के साढ़े चार साल का कार्यकाल पूरा हो गया है. लेकिन उन्होने अपने घोषणा पत्र में किए वादे को अभी तक पूरा नहीं किया है.

उन्होंने कहा कि इस यात्रा को बगावत की धरती बलिया से प्रारम्भ किया गया है. वे जनता के बीच जाकर उनको ये बात रहे हैं कि किस प्रकार केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार जनता के हितों के साथ खिलवाड़ कर रही है. देश की एकता, अखंडता और सामाजिक सौहार्द को खराब करने का ये सरकार षडयंत्र रच रही है.

देश की सरकार चाहती है कि इस देश का आपसी सद्भाव और गंगा-जमुनी तहजीब खत्म हो जाए. राहुल गांधी का संदेश लेकर ये यात्रा निकली है. हम लोगों ने गोरों को भगाया था अब देश के चोरो को भगाएंगे. (रिपोर्ट-पप्पू पांडेय)

ये भी पढ़ें:

संजय सिंह ने साधा योगी पर निशाना,कहा-गलत नीतियों से गई निर्दोष पुलिसकर्मी की जान
Loading...

फर्जी नाम व प्रमाण पत्र पर 6 साल तक सरकारी शिक्षक, ऐसे हुआ खुलासा

शहीद की प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम में मुलायम और अखिलेश साझा करेंगे मंच
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->