राहुल गांधी के गढ़ अमेठी में बड़ा फेरबदल, युवा चेहरों को मिली जिम्मेदारी

अमेठी का किला ढहाने के लिए बीजेपी भी लगातार कोशिशें कर रही है. अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का इस पर विशेष ध्यान है. अमित शाह लगातार अमेठी और रायबरेली पर निगाह रखे हुए हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 2, 2019, 2:49 PM IST
राहुल गांधी के गढ़ अमेठी में बड़ा फेरबदल, युवा चेहरों को मिली जिम्मेदारी
(फाइल फोटो- राहुल गांधी)
News18 Uttar Pradesh
Updated: February 2, 2019, 2:49 PM IST
कांग्रेस के गढ़ अमेठी में शनिवार को बड़ा फेरबदल किया गया है. इसी कड़ी में शेषनाथ सिंह समेत 6 लोगों को जिला महासचिव बनाया गया है. इस पूरे फेरबदल में पार्टी ने युवा चेहरों को जगह दी गई है. अमेठी कांग्रेस के जिलाध्यक्ष योगेंद्र मिश्रा ने पत्र जारी किया. दरअसल, 2019 लोकसभा चुनाव के पहले कांग्रेस कोई भी चूक करने के मूड में नहीं दिख रही है. कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के पहले ऐसे कांग्रेसी नेताओं को साधना शुरू कर दिया है जो सालों पहले कांग्रेस की रीढ़ माने जाते थे और बदलते समय के साथ वो या तो घर बैठ गए या फिर पार्टी से दूरी बना ली थी.

अमेठी का किला ढहाने के लिए बीजेपी भी लगातार कोशिशें कर रही है. अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का इस पर विशेष ध्यान है. अमित शाह लगातार अमेठी और रायबरेली पर निगाह रखे हुए हैं. बीजेपी ने रायबरेली से एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह को अपने पाले में कर लिया है. उनके विधायक भाई बीजेपी के साथ हैं. लेकिन सदस्यता जाने के खतरे से औपचारिक तौर पर बीजेपी के साथ नहीं हैं. बीजेपी की तरफ से कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी राहुल के गढ़ में सेंध लगाने की कोशिश कर रहीं हैं.

जिला महासचिव की लिस्ट

क्या है अमेठी लोकसभा का इतिहास



अमेठी संसदीय क्षेत्र 1967 में बना था. इसके पहले सांसद कांग्रेस के विद्याधर वाजपेयी बने थे. तब से लेकर आज तक कांग्रेस यहां सिर्फ 2 बार चुनाव हारी है. 1977 में संजय गांधी जनता पार्टी के उम्मीदवार रवींद्र सिंह से चुनाव हार गए थे. उसके बाद 1998 में तब बीजेपी उम्मीदवार संजय सिह ने सतीश शर्मा को हराया था.


संजय गांधी के निधन के बाद 1981 में राजीव गांधी यहां से सांसद निर्वाचित हुए थे. इस सीट पर बीजेपी सिर्फ 1998 में चुनाव जीत पाई है. लेकिन तब के बीजेपी सांसद काफी पहले घर वापसी कर चुके हैं. संजय सिंह इस वक्त कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य हैं.


(रिपोर्ट: पप्पू अमेठी)


एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स


Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...