Lok Sabha Result 2019: जीत के बाद स्मृति ईरानी बोलीं- अमेठी के लिए एक नई सुबह
Amethi News in Hindi

अमेठी लोकसभा सीट को कांग्रेस के अभेद्य दुर्ग के रूप में जाना जाता था, जिसे बीजेपी की स्मृति ईरानी ने ध्‍वस्‍त कर दिया.

  • Share this:
लोकसभा चुनाव 2019 के सबसे अप्रत्‍याशित परिणाम की बात की जाएगी तो उसमें अमेठी का नाम जरूर आएगा. बीजेपी नेता स्‍मृति ईरानी ने गांधी परिवार के इस परंपरागत सीट पर किसी और को नहीं, बल्कि कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी को हराया है. जीत मिलने के बाद स्‍मृति ईरानी ने मतदाताओं को धन्‍यवाद दिया और इसे अमेठी के लिए नई सुबह बताया.

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का गढ़ कहे जाने वाली अमेठी सीट पर 21 साल बाद बड़ा उलटफेर हुआ है. स्मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल को 55,120 वोटों से हराया है. स्मृति को 4,68,514 तो राहुल गांधी को 4,13,394 वोट मिले हैं. इस लोकसभा सीट को कांग्रेस के अभेद्य दुर्ग के रूप में जाना जाता था.

स्मृति ईरानी ने कहा, 'आपने विकास पर विश्वास जताया और कमल का फूल खिलाया. इसके लिए अमेठी का आभार. अमेठी के लिए एक नई सुबह, एक नया संकल्प किया है. धन्यवाद अमेठी...शत-शत नमन.' बता दें कि जीत की औपचारिक घोषणा होने से पहले ही राहुल गांधी ने उन्हें जीत की बधाई दे दी थी और अमेठी का खयाल रखने को कहा था.





बता दें कि 2014 में पहली बार स्मृति ईरानी चुनाव लड़ने अमेठी पहुंची थीं और वह हार गईं थी. पिछले चुनाव में राहुल गांधी अब तक के सबसे छोटे अंतर से जीते थे. हार की वजह के सवाल पर राहुल गांधी ने बाद में प्रतिक्रिया देने की बात कही है. बता दें कि सपा-बसपा गठबंधन ने कांग्रेस का समर्थन करते हुए यहां से अपना प्रत्याशी नहीं उतारा था. राहुल अमेठी से चौथी बार चुनाव मैदान में थे. अमेठी को छोड़कर राहुल ने केरल की वायनाड सीट से भी चुनाव लड़ा  और रिकॉर्ड तोड़ 8 लाख से अधिक वोटों से जीत दर्ज की है.

ये भी पढ़ें -

चुनावी नतीजों पर कुमार विश्वास का मजेदार ट्वीट, आत्ममुग्ध फ्यूज बल्बों की चमकदार विदाई

कैप्टन अमिरंदर ने सिद्धू पर फोड़ा हार का ठीकरा, बोले- बाजवा को गले लगाने से हुआ नुकसान

PM मोदी और अमित शाह के वो 10 फैसले जिसने बदल दी चुनाव की तस्वीर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज