अमेठीः जमीन विवाद में भतीजे ने चाचा को पीट-पीटकर मार डाला

दिनदहाड़े हुए इस हत्याकांड के खबर मिलते ही अपर पुलिस अक्षीक्षक भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और हत्यारोपियों की जल्द गिरफ्तारी के आदेश दिए हैं


Updated: June 27, 2018, 10:23 PM IST

Updated: June 27, 2018, 10:23 PM IST
अमेठी जिले में बुधवार को जमीन विवाद में एक भतीजे द्वारा चाचा को पीट-पीटकर मार डालने का मामला सामने आया है. बताया जाता है भतीजे ने करीबी रिश्तेदारों के साथ मिलकर चाचा को लाठी-डंडों से पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया और घटना को अंजाम देने के बाद आसानी से मौके से फरार हो गए. दिनदहाड़े हुए इस हत्याकांड के खबर मिलते ही अपर पुलिस अक्षीक्षक भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और हत्यारोपियों की जल्द गिरफ्तारी के आदेश दिए हैं.

यह भी पढ़ें-जमीन विवाद में चाचा ने भतीजे को कुल्‍हाड़ी मारकर उतारा मौत के घाट

रिपोर्ट के मुताबिक वारदात मुन्शीगंज कोतवाली क्षेत्र के सरवनपुर गांव का है. सरवरपुर गांव निवासी दो सगे भाई राम नरेश वर्मा और राजेश वर्मा के बीच पिछले कई वर्षों से जमीन को लेकर विवाद चल रहा था, लेकिन जुबानी विवाद ने इस बार हिंसक रूप अख्तियार कर लिया और छोटे भाई के बेटे ने अपने दोस्तों और करीबी रिश्तेदारों के साथ मिलकर चाचा राम नरेश वर्मा और उसके परिवार को लाठी डंडों से हमला कर दिया और मरणासन्न हालत में चाचा को छोड़कर फरार हो गए.

यह भी पढ़ें-अमेठी: फेसबुक दोस्त से मिलने आई इंडोनेशियाई युवती

बताया जाता है गंभीर रूप से घायल चाचा राम नरेश वर्मा को उपचार के लिए ग्रामीण जिला अस्पताल ले जा रहे थे, लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो गई. हमले में मृतक के परिवार के 3 और लोग भी जख्मी हुए हैं, जिनका अस्पताल में अभी भी इलाज चल रहा है. वारदात के बाद से पूरे इलाके में हड़कंप है.

ग्रामीणों का कहना है कि भतीजे ने बाहर से कुछ लोगों को बुलाकर हत्या को अंजाम दिया है. आरोपी भतीजे की पहचान बच्चू पुत्र राजेश कुमार वर्मा के रूप में हुई है. मृतक हत्यारोपी भतीजे के पिता का मौसेरा भाई था. 45 वर्षीय मृतक के शव को कब्जे में लेकर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

यह भी पढ़ें-अमेठी: संदूक में मिला 10 साल के बच्चे का शव, हत्या की आशंका

मामले पर अपर पुलिस अधिक्षक बलरामचारी दूबे ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ.कठोर कार्यवाही की जाएगी.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर