अमेठी : पुलिस ने बहुचर्चित डबल मर्डर केस में किया बड़ा खुलासा

क्षेत्राधिकारी बीनू सिंह ने बताया कि 7 मार्च की सुबह हरिप्रसाद का दामाद जगन्नाथ प्रसाद अपने ससुर से मिलने आया. जगन्नाथ जैसे ही कमरे के बाहर पहुंचा. कमरे का दरवाजा बाहर से बंद था. इसके बाद खिड़की से देखा तो दोनों की लाश जमीन पर पड़ी थी.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: March 12, 2018, 3:40 PM IST
ETV UP/Uttarakhand
Updated: March 12, 2018, 3:40 PM IST
अमेठी के बहुचर्चित डबल मर्डर केस की पुलिस ने खुलासा किया. पुलिस ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया. इसके पास से 15 हजार रुपए नकद, चाकू, हथौड़ा और एक मोबाइल बरामद हुआ है.

मामला मोहनगंज कोतवाली क्षेत्र के ठीक सामने का है. जहां बीती 7 मार्च को बदमाशों ने धारदार हथियार से बुजुर्ग दंपत्ति को चाकूओं मारकर हत्या कर दी थी. पुलिस का कहना है कि हत्या पूरी तरह से लूट के इरादे से हुई थी. बगल के कमरे में रहने वाले युवक ने चाकू से गोद के बेहरमी से घटना को अंजाम दिया था.

बताया जा रहा है कि मृतक हरिप्रसाद वर्मा तिलोई ब्लॉक के जगन्नाथपुर गांव के रहने वाले थे. जो जामो ब्लॉक के अजबगढ़ स्थित उच्च प्राथमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक के पद पर तैनात थे. पुलिस पहले तो हरिप्रसाद वर्मा की हत्या के मामले को लेकर संपति विवाद के तौक पर देख रही थी. क्योंकि मृतक से संपति को लेकर बहू और बेटे से काफी दिनों से विवाद भी चल रहा था. इसी वजह से वो नाराज होकर पत्नी सावित्री के साथ थाने के सामने पिछले चार महीने से किराये के मकान में रहते थे.

क्षेत्राधिकारी बीनू सिंह ने बताया कि 7 मार्च की सुबह हरिप्रसाद का दामाद जगन्नाथ प्रसाद अपने ससुर से मिलने आया. जगन्नाथ जैसे ही कमरे के बाहर पहुंचा. कमरे का दरवाजा बाहर से बंद था. इसके बाद खिड़की से देखा तो दोनों की लाश जमीन पर पड़ी थी. उसने तत्काल पुलिस को सूचना दी.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...