लाइव टीवी

अयोध्‍या मामला: अमेठी पुलिस सतर्क, जिले को 4 जोन और 14 सेक्टर में बांटा

News18 Madhya Pradesh
Updated: November 8, 2019, 11:12 PM IST
अयोध्‍या मामला: अमेठी पुलिस सतर्क, जिले को 4 जोन और 14 सेक्टर में बांटा
अयोध्या फैसले को लेकर अमेठी में खास अलर्ट.

अयोध्‍या मामले (Ayodhya Case) पर कल यानी शनिवार सुबह 10.30 बजे सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) फैसला सुनाएगा. इस फैसले के मद्देनजर अयोध्या से सटे अमेठी (Amethi) में पुलिस प्रशासन (Police Administration) पूरी तरीके से मुस्तैद दिख रहा है. पुलिस अधीक्षक डॉ. ख्याति गर्ग (Dr. Khyati Garg) सभी थाना क्षेत्रों खास आदेश दिया है.

  • Share this:
अमेठी. अयोध्‍या मामले (Ayodhya Case) पर कल यानी शनिवार सुबह 10.30 बजे सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) फैसला सुनाएगा. जबकि इस फैसले के मद्देनजर श्रीराम की नगरी अयोध्या से सटे अमेठी (Amethi) में पुलिस प्रशासन (Police Administration) पूरी तरीके से मुस्तैद दिख रहा है. यही नहीं, अमेठी पुलिस अधीक्षक डॉ. ख्याति गर्ग (Dr. Khyati Garg) ने जिले के सभी थानाक्षेत्रों में लगातार फुट पेट्रोलिंग और पीस कमेटी की बैठक करने के साथ जिले के सभ्रांत लोगों के साथ सामंजस्य बनाकर फैसले के स्वागत की अपील की गई है.

अमेठी एसपी ने तय की सबकी जिम्मेदारी
अमेठी जिले को 4 जोन और 14 सेक्टर में बांटा गया. फैजाबाद के नजदीक होने के चलते अमेठी में भी राम भक्तों की संख्या काफी है और फैसले के दिन लोगों की प्रतिक्रिया क्या होगी इन‌ बातों की ना सिर्फ मॉनीटरिगं की जा रही है. इसी वजह से अमेठी जिले को 14 सेक्टर और 4 जोन में बांट दिया गया है. नोडल अधिकारी के तर्ज पर एएसपी दया राम सरोज को सुपर ज़ोनल मजिस्ट्रेट की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

अमेठी जिले में भी बनाया गया कंट्रोल रूम

अयोध्या मंडल से सटे जनपद अमेठी में कोई अप्रिय घटना न घटित हो इसके लिए अधिकारी से लेकर खुद सरकार तक सक्रिय नजर आ रही है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या फैसले पर सभी जिलाधिकारियों और पुलिस कप्तानों को सख्त निर्देश दिए हैं कि हर तरीके से संदिग्ध लोगों पर नजर रखी जाए. समाज में भ्रामक खबरें देने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाए. इसी वजह से अमेठी जिला और पुलिस प्रशासन ने कंट्रोल रूम का गठन किया है. अमेठी जिले में तीन कंट्रोल रुम बनाए गए हैं. यही नहीं, अमेठी पुलिस प्रशासन ने सेना भर्ती के लिए डेल्टा नाम से कंट्रोल रुम बनाया गया है तो अयोध्या मामले पर नज़र रखने के लिए टैंगो कंट्रोल रूम सर्तक रहेगा. इस कंट्रोल रूम में सोशल मीडिया के साथ-साथ सभी माध्यमों पर पैनी नजर रखी जाएगी ताकि कोई भी अप्रिय घटना घटित ना हो. यह कंट्रोल रूप 24 घंटे काम करेंगे और इसके लिए बाकायदा शिफ्ट में कर्मचारियों की ड्यूटी भी लगाई गई है.

अमेठी पुलिस अधिक्षक ने किए खास इंतजाम
अमेठी पुलिस अधीक्षक ख्याति गर्ग की मानें तो अमेठी में अयोध्या फैसले को लेकर के तैयारियां पूरी कर ली गई हैं और जिले को 14 सेक्टरों के साथ 4 जोन में बांटा गया है, जिसके लिए ड्यूटी लगाई गई है. सभी थाना प्रभारियों को अपने-अपने क्षेत्र में एक्टिव रहकर ज्यादा से ज्यादा पेट्रोलिंग, संदिग्ध वाहनों और व्यक्तियों पर नजर रखने के कड़े दिशा-निर्देश भी दिए गए हैं. अमेठी जिले से अयोध्या के फैसले को लेकर सभी रास्तों पर खास चेकिंग अभियान के साथ 53 जगह वैरियर भी लगाए गए हैं और 2 जगह जो बॉर्डर का एरिया है वहां पर 24 घंटे पुलिस फोर्स तैनात की गई है. जबकि कलेक्ट्रेट सभागार में पुलिस अधीक्षक और अपर जिलाधिकारी ने राम मंदिर के फैसले को लेकर जिले के 221 विद्यालय के प्रबंधक और प्रिसिपंल के साथ मीटिंग की और बताया गया कि बच्‍चों का व्‍यवहार कैसा रहे.
Loading...

फैसले के लिए बनाया गया मैन पॉवर ऑडिट
अमेठी पुलिस अधिक्षक ख्याती गर्ग ने अमेठी जिले के बॉर्डर एरिया के सभा गांवों में मैन पॉवर ऑडिट की व्यवस्था की गई है. मैन पॉवर ऑडिट का मतलब है कि उस गांव में बाहर को कोई भी व्यक्ति ना हो. अमेठी जिले की सभी सीमावर्ती गांवों में प्रधानों के सम्पर्क में सीधे पुलिस अधिक्षक रहेंगी. इस गांव के लोगों स्वंय इस बात की जानकारी रखेगी कि उनके गांव में कोई भी बाहर का व्यक्ति नहीं रुकेगा.

ये भी पढ़ें-
अयोध्या: सुप्रीम कोर्ट कल सुबह 10.30 बजे सुनाएगी फैसला, PM मोदी ने की शांति बनाए रखने की अपील

1528 में मस्जिद निर्माण से 2019 में कोर्ट की सुनवाई तक, अयोध्या जमीन विवाद की पूरी कहानी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेठी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 8, 2019, 11:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...