पुलिस वर्दी में डकैती करने आए 4 बदमाश गिरफ्तार, भारी मात्रा में हथियार बरामद

गिरफ्तार डकैतों के पास से एक पिस्टल एक तमंचा 6 जिंदा कारतूस के अलावा वर्दी नेम प्लेट बैच स्टार पांच मोबाइल और घटना के प्रयुक्त एक इंडिका कार समेत मोटरसाइकिल बरामद हुई है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 29, 2019, 11:42 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 29, 2019, 11:42 PM IST
अमेठी में पुलिस की वर्दी में डकैती करने वाले चार शातिर डकैतों को फुरसतगंज पुलिस और स्वाट टीम के ज्वाइन ऑपरेशन में गिरफ्तार किया गया. गिरफ्तार डकैतों के पास से एक पिस्टल एक तमंचा 6 जिंदा कारतूस के अलावा वर्दी नेम प्लेट बैच स्टार पांच मोबाइल और घटना के प्रयुक्त एक इंडिका कार समेत मोटरसाइकिल बरामद हुई है. गिरोह के सरगना विजय सिंह उर्फ मामा के ऊपर अलग अलग जनपदों में तीन दर्जन से अधिक आपराधिक मामले दर्ज है. पुलिस ने सभी डकैतों को जेल भेज दिया है. गिरफ्तार करने वाली टीम को एसपी ने दस हजार रुपए का इनाम देने की घोषणा की है.

मामला फुरसतगंज थानाक्षेत्र के नहर कोठी का है. जहां देर शाम स्थानीय पुलिस को सूचना मिली कि दो चार पहिया गाड़ियों और बाइक पर 9 डकैत इकट्ठा हैं. जो उन्नाव में किसी व्यापारी के यहां डकैती डालने की योजना बना रहे हैं. मुखबिर से मिली सूचना के बाद हरकत में आये थाना प्रभारी ने तत्काल इसकी सूचना स्वाट टीम प्रभारी को दी. जिसके बाद दोनों अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे.

5 डकैत स्कोर्पियो गाड़ी से भागने में सफल

बड़ी संख्या में पुलिसबल अपनी तरफ आता देख 5 डकैत स्कोर्पियो गाड़ी से भागने में सफल हो गए. जबकि इंडिका कार और एक मोटरसाइकिल पर बैठे गिरोह के सरगना समेत चार डकैत पुलिस के हत्थे चढ़ गए. तलाशी के दौरान गाड़ी से एक पिस्टल, एक तमंचा, 6 जिंदा कारतूस, दो पुलिस की वर्दी, नेम प्लेट, बैच, स्टार, पांच मोबाइल फोन बरामद हुआ.

अमेठी पुलिस अधिकारी


घटना का खुलासा करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि ये सभी शातिर डकैत हैं. जो उन्नाव के किसी व्यापारी को निशाना बनाने की प्लानिंग कर रहे थे. लेकिन उसके पहले ही सरगना समेत चार को गिरफ्तार कर लिया गया. जबकि कई मौके से भागने में सफल रहे. जिनकी गिरफ्तारी के लिए लगातार दबिश दी जा रही है. उन्हें भी जल्दी गिरफ्तार कर किया जाएगा.

गाड़ियों की चेकिंग के बहाने डकैती
Loading...

गैंग का सरगना विजय सिंह उर्फ मामा अम्बेडकर नगर के अकबरपुर थाना क्षेत्र का रहने वाला है. जो पुलिस की वर्दी पहनकर बड़ी-बड़ी गाड़ियों को चेकिंग के बहाने रुकवाता था और अपने गिरोह के साथ डकैती की घटना को अंजाम देता था. इसके ऊपर अलग-अलग जिलों के कई थानों में तीन दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज है. इन सभी को जेल भेजा जा रहा है. गिरफ्तार करने वाली टीम को एसपी के आदेश पर 10 हजार रुपए इनाम देने की घोषणा की है. (रिपोर्ट-पप्पू पांडेय)

ये भी पढ़ें: राहुल गांधी के समर्थन में यूपी कांग्रेस के कई पदाधिकारियों ने भी दिया इस्तीफा
First published: June 29, 2019, 11:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...