Home /News /uttar-pradesh /

बुजुर्ग कांग्रेसियों के सहारे राहुल गांधी के गढ़ अमेठी को अभेद्य बनाने की कोशिश

बुजुर्ग कांग्रेसियों के सहारे राहुल गांधी के गढ़ अमेठी को अभेद्य बनाने की कोशिश

बुजुर्गों से लिया जा रहा है फीडबैक

बुजुर्गों से लिया जा रहा है फीडबैक

दरअसल, 2019 लोकसभा चुनाव के पहले कांग्रेस कोई भी चूक करने के मूड में नहीं दिख रही है. कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के पहले ऐसे कांग्रेसी नेताओं को साधना शुरू कर दिया है जो सालों पहले कांग्रेस की रीढ़ माने जाते थे और बदलते समय के साथ वो या तो घर बैठ गए या फिर पार्टी से दूरी बना ली.

अधिक पढ़ें ...
    कांग्रेस के गढ़ अमेठी में बीजेपी की बढ़ती सक्रियता और स्मृति ईरानी की मौजूदगी से कांग्रेसी खेमे में हलचल मची हुई है. बीजेपी की इसी सक्रियता को कम करने और पार्टी से दूर जा रहे वरिष्ठ कांग्रेसियों को साधने के लिए अमेठी कांग्रेस द्वारा विचार विमर्श संगोष्ठी का आयोजन किया गया. संगोष्ठी में जिले के सभी वरिष्ठ कांग्रेसी नेता उपस्थित हुए. संगोष्ठी का मुख्य मुद्दा लोकसभा चुनाव के पहले संगठन को मजबूत करना और अमेठी लोकसभा क्षेत्र में बीजेपी को घेरने की रणनीति तैयार करना था. संगोष्ठी में बाकायदा 20 प्रश्नों वाले फार्म भरवाकर कांग्रेसियों ने उनके फीडबैक भी लिए.

    दरअसल, 2019 लोकसभा चुनाव के पहले कांग्रेस कोई भी चूक करने के मूड में नहीं दिख रही है. कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के पहले ऐसे कांग्रेसी नेताओं को साधना शुरू कर दिया है जो सालों पहले कांग्रेस की रीढ़ माने जाते थे और बदलते समय के साथ वो या तो घर बैठ गए या फिर पार्टी से दूरी बना ली. कार्यक्रम का आयोजन गौरीगंज स्थित राहुल गांधी के जनसंपर्क कार्यालय में हुआ, जहां अमेठी लोकसभा के पांचों विधानसभाओं के काउंटर बनाए गए. साथ ही अलग-अलग विधानसभा के टेंट लगाए गए. कार्यक्रम में आने वाले वरिष्ठ कांग्रेसियों को पहले काउंटर पर उपस्थिति दर्ज कराई गई. जिसके बाद सवालों से भरे फार्म का एक बैग दिया गया. बैग लेकर सभी अपने-अपने विधानसभा के लगाए गए टेंट में गए और फार्म भरकर अपनी राय रखी.

    सरकारी आवास पर HC की टिप्पणी से घिरी योगी सरकार, लोकायुक्त प्रशासन ने उठाए गंभीर सवाल

    बांटे गए फार्म में 20 प्रश्न लिखे गए थे, जिनमें क्षेत्र के मुद्दे, जनहित के मुद्दे जिससे विपक्ष को घेरा जाए, केंद्र सरकार की जन विरोधी नीति, राज्य सरकार की असफलता, पार्टी की विचारधारा, प्रचार के लिए मुख्य मुद्दा, शक्ति अभियान और सोशल मीडिया के सुझाव के साथ ही किसान और गरीब तबकों के लोगो को जोड़ने के लिए कौन-कौन से कार्यक्रम चलाये जाने चाहिए प्रमुख थे.

    'इंसेफेलाइटिस से मौतों पर UP की जनता को गुमराह कर रहे हैं सीएम योगी'

    उधर कार्यक्रम को लेकर कांग्रेस का साफ कहना था कि कांग्रेस पार्टी लोकतांत्रिक पार्टी है और पार्टी में जो भी योजना बनती है विचार विमर्श करके बनती है. राहुल गांधी के प्रतिनिधि चंद्रकांत दुबे ने कहा उसी के तहत आज वरिष्ठ कांग्रेसजानों से विचार विमर्श किया और एक्शन प्लान जैसे नोटबन्दी से हुए देश को नुकसान, देश की स्थिति, किसानों की स्थिति, योगी सरकार के पशुओं से हो रहे नुकसान को लेकर आज विचार गोष्टी का आयोजन किया गया. इस तरह के कार्यक्रम पार्टी द्वारा हमेशा की जाती है और इस बार सब मिलकर राहुल गांधी को बड़े वोटों से जिताएंगे.

    तस्वीरों में देखिए बुलंदशहर में कैसे हो रही है 'शराबी आलू' की खेती

    वहीं बीजेपी नेता प्रकाश मिश्रा ने कांग्रेस के इस प्रयास को हताशा बताया है और कहा कि राहुल गांधी अमेठी में घबरा चुके है. अमेठी का जनमानस जाग चुका है. पिछली बार लोकसभा चुनाव में राहुल जी बहुत कम वोटों से जीते थे और अब उनको एहसास हो चुका है कि उन्होंने विकास का काम नही किया. लोकसभा क्षेत्र के बुजुर्गों के सहारे वो मीटिंग कर रहे हैं, जबकि युवा उनके साथ है ही नहीं. मोदी जी के कार्यशैली से जनता खुश है और इस बार स्मृति ईरानी चुनाव जीतेंगी.

    (रिपोर्ट: पपू पांडेय)

    ये भी पढ़ें: 

    एक्टर नसीरुद्दीन शाह को भेजा गया 50 हजार का चेक, दी गई पाकिस्तान जाने की सलाह

    PHOTOS: योगी 'राज' में जेल के अंदर कैदी कर रहे गौ सेवा, धुल रहे हैं पाप!

    पानी की टंकी पर चढ़ इस महिला ने दी आत्मदाह की धमकी, जाने क्या है मामला

    VIDEO: छेड़खानी का विरोध किया तो आरोपी ने किया जानलेवा हमला

    Tags: Amethi news, BJP, Congress, Rahul gandhi, Up news in hindi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर