स्मृति बोलीं- राहुल 'लापता सांसद', एक बार अमेठी आकर देखें वायनाड के लोग

स्मृति ईरानी ने कहा कि पिछले 15 साल से अमेठी के सांसद एक ऐसे व्यक्ति हैं, जो यहां पर आते ही नहीं हैं, उन्हें जवाब देना होगा कि इस देश को क्यों लूटा गया?

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 4, 2019, 1:43 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: April 4, 2019, 1:43 PM IST
लोकसभा चुनाव के रण में अब राजनीतिक पार्टियां आर-पार की लड़ाई लड़ रही हैं. एक तरफ जहां कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी केरल के वायनाड से नामांकन कर रहे हैं, वहीं उनकी दूसरी सीट अमेठी में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी उन पर हमलावर हैं. गुरुवार को लखनऊ एयरपोर्ट पर पहुंचने पर स्म़ृति ईरानी ने कहा कि वायनाड की जनता को अगर राहुल गांधी की क्षमता के विषय में कोई सवाल है तो उन्हें एक बार उन्हें अमेठी आकर देखना चाहिए.

स्मृति ईरानी ने कहा, 'पिछले 15 साल से अमेठी के सांसद एक ऐसे व्यक्ति हैं, जो यहां पर आते ही नहीं हैं. उन्हें जवाब देना होगा कि इस देश को क्यों लूटा गया? मैं वायनाड के लोगों को चेताना चाहती हूं, उन्हें अमेठी आकर एक बार देखना चाहिए.'

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जिस अमेठी को 15 साल तक एक लापता सांसद को झेलना पड़ा, जहां की व्यवस्थाओं को छिन-भिन्न किया. उसी अमेठी को सशक्त करने का दायित्व बीजेपी ने मुझे दिया है. स्मृति ईरानी ने कहा कि 15 साल बाद राहुल गांधी किसी और जगह से नामांकन कर रहे हैं, ये अमेठी का अपमान है. अमेठी की जनता इसे बर्दाश्त नहीं करेगी.

ये भी पढ़ें- मेनका गांधी का आरोप- मायावती को 15 करोड़ रुपये देकर टिकट खरीदने वाला क्या विकास करेगा?

बता दें कि बीजेपी राहुल गांधी के वायनाड से चुनाव लड़ने के फैसले पर लगातार हमलावर है. बीजेपी का कहना है कि हार के डर से राहुल वायनाड भाग गए हैं. 2014 लोकसभा चुनाव में भी स्मृति ईरानी राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ी थीं. लेकिन कड़ी टक्कर देने के बावजूद उन्हें जीत नहीं मिली. इस बार स्मृति ईरानी फिर से राहुल गांधी के खिलाफ ताल ठोक रही हैं.

यह भी पढ़ें- 

...जब जनसभा में अचानक रो पड़ीं जया प्रदा, आजम खान पर किया ये हमला
Loading...

क क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेठी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 4, 2019, 10:24 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...