अपना शहर चुनें

States

बीजेपी नेता के बेटे की हत्या: अमेठी डीएम ने मृतक के PCS भाई को कॉलर पकड़कर खींचा, मचा बवाल

अमेठी के डीएम प्रशांत कुमार मृतक सोनू सिंह के चचेरे भाई का गिरेबान पकड़े हुए.
अमेठी के डीएम प्रशांत कुमार मृतक सोनू सिंह के चचेरे भाई का गिरेबान पकड़े हुए.

अमेठी के डीएम प्रशांत कुमार (DM Prashant Kumar) ने आक्रोशित भीड़ के बीच मृतक सोनू सिंह (Sonu Singh) के चचेरे भाई और पीसीएस अधिकारी सुनील सिंह (Sunil Singh) का कॉलर पकड़कर खींचा. इस दौरान डीएम की हरकत का कैमरे में रिकॉर्ड हो गई.

  • Share this:
अमेठी. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में एक तरफ योगी सरकार कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए तमाम कोशिशें कर रही है, वहीं दूसरी तरफ सरकार के अफसर ही उसकी कोशिशों को पलीता लगा रहे हैं. ताजा मामला अमेठी से सामने आया है. यहां बीजेपी नेता (BJP Leader) के बेटे की हत्या (Murder) के बाद पोस्टमार्टम (Postmortum) के दौरान आक्रोशित भीड़ को समझाने की बजाए अमेठी के डीएम प्रशांत कुमार (DM Prashant Kumar) अपना आपा खो बैठे. डीएम ने आक्रोशित भीड़ के बीच मृतक सोनू सिंह के चचेरे भाई और पीसीएस अधिकारी सुनील सिंह का कॉलर पकड़कर खींचा. इस दौरान डीएम की हरकत का कैमरे में रिकॉर्ड हो गई. वहीं डीएम की इस हरकत के बाद मौके पर लोगों ने उनका कड़ा विरोध किया, जिसके बाद वह लोगों को भी हिदायत देते दिख रहे हैं.

बीच-बचाव के दौरान चंद्रशेखर ने सोनू सिंह को मार दी गोली
बता दें अमेठी के जिला मुख्यालय गौरीगंज (Gauriganj) में मामला गौरीगंज कोतवाली क्षेत्र के मुसाफिरखाना मार्ग पर स्थित बिशुनदासपुर का है. जहां कस्बे में ही रहने वाले अर्पित और चंद्रशेखर के बीच एक पुराने विवाद को लेकर कहासुनी हो गई. दोनों के बीच विवाद बढ़ता देख पास में ही मौजूद भाजपा नेता शिवनायक सिंह (BJP Leader Shivnayak Singh) के बेटे और भट्ठा व्यवसायी सोनू सिंह (Sonu Singh) बीच-बचाव करने पहुंचे. इस पर चंद्रशेखर ने सोनू पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं और मौके से फरार हो गया. गंभीर रूप से घायल सोनू को जिला अस्पताल पहुंचाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.


घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची एसपी (SP) को भी परिजनों के विरोध का सामना करना पड़ा. परिजनों के साथ ही ग्रामीणों ने एसपी के सामने पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. दिनदहाड़े सरेबाजार हुई युवक की हत्या के बाद पूरे कस्बे में तनाव की स्थिति बनी हुई है, जिसके बाद मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है. फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.



Amethi DM prashant
डीएम प्रशांत कुमार के मृतक के भाई का गिरेबान पकड़ने के बाद लोगों ने उनका विरोध शुरू कर दिया.


सभी पहलुओं की जांच की जा रही है: एएसपी
फिलहाल पुलिस प्रशासन के खिलाफ परिजन और स्थानीय लोगों में काफी रोष है. घटना को लेकर अपर पुलिस अधीक्षक दयाराम सरोज ने कहा कि विशुनदासपुर गांव की घटना है. अर्पित और चन्द्रशेखर दोनों आपस में विवाद कर रहे थे. विवाद में चन्द्रशेखर ने मामूली बात में गोली मार दी. सोनू की जिला अस्पताल मे मौत हो गई. पंचायतनामा और पोस्टमार्टम की कार्रवाई की जा रही है. साथ ही मामले की जांच भी की जा रही है कि किन कारणों से विवाद हुआ? सभी पहलुओं की जांच की जा रही है.

ये भी पढ़ें:

अमेठी में सरेबाजार बीजेपी नेता के बेटे की गोली मारकर हत्या, इलाके में तनाव

अयोध्या होगी देश की सबसे बड़ी धर्मनगरी, बनेगा हवाईअड्डा, सरयू में चलेगा क्रूज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज