Amethi News: भाजपा MLA दल बहादुर कोरी के घर पहुंची केंद्रीय मंत्री स्मृति, बोलीं- हमेशा रहूंगी परिवार के साथ

भाजपा MLA दल बहादुर कोरी के घर पहुंची केंद्रीय मंत्री स्मृति

भाजपा MLA दल बहादुर कोरी के घर पहुंची केंद्रीय मंत्री स्मृति

बता दें कि रायबरेली के डीह ब्लाक के पदनमपुर बिजौली गांव के निवासी दल बहादुर कोरी (62) मौजूदा समय में सलोन विधानसभा से विधायक (MLA) थे.

  • Share this:

अमेठी. उत्तर प्रदेश में अमेठी (Amethi) से सांसद और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (MP Smriti Irani) शनिवार को अचानक अमेठी पहुंची. रायबरेली के सलोन से भाजपा के विधायक रहे दल बहादुर कोरी (BJP MLA Dal Bahadur Kori) के निधन पर स्मृति ईरानी ने उनके घर पहुंचकर शोक संवेदनाएं व्यक्त की और उन्हें श्रद्धांजलि दी. विधायक के परिवारजनों से मुलाकात कर उन्हें ढांढस बंधाया. स्मृति घर के अंदर कमरे में गईं तो दिवंगत विधायक की पत्नी राजकुमारी उनके गले से लिपटकर रोने लगीं. सांसद ने उन्हें ढांढस बंधाया और बड़े बेटे कैलाश कुमार व अशोक कुमार आदि परिवरजनों से कहा कि मैं हमेशा आप लोगों के साथ रहूंगी. उन्होंने कहा कि सलोन विधानसभा में पार्टी को अपूर्णनीय क्षति हुई है.

इस दौरान उनके साथ भाजपा के नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे. दल बहादुर कोरी तीन बार विधायक और एक बार समाज कल्याण राज्य मंत्री रह चुके थे. 7 मई को रायबरेली के सलोन से भारतीय जनता पार्टी के विधायक दल बहादुर कोरी का कोरोना से लखनऊ में निधन हो गया था. सलोन विधायक दल बहादुर कोरी का लखनऊ के निजी अस्पताल में 1 महीने से इलाज चल रहा था. उनकी कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आ गई थी. अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी लेकिन दोबारा वह पॉजिटिव हो गए और अस्पताल में भर्ती कराने के बाद उनका निधन हो गया. इस तरह कोरोना की दूसरी लहर में अभी तक भाजपा के 4 विधायकों की जान जा चुकी है.

UP में पिछले एक साल में 13 माननीयों को लील गया कोरोना, सबसे ज्यादा BJP के विधायकों ने गंवाई जान

बता दें कि रायबरेली के डीह ब्लाक के पदनमपुर बिजौली गांव के निवासी दल बहादुर कोरी (62) मौजूदा समय में सलोन विधानसभा से विधायक थे. साल 1984 में इन्होंने कानपुर में भाजपा की सदस्यता ली थी. फिर 1989 में राम मंदिर आंदोलन में सक्रिय रहे. उनकी सक्रियता और कर्मठता देख पार्टी ने 1991 में सलोन से टिकट दिया था. बीते कई सालों से दल बहादुर कोरी का स्वास्थ्य उनका साथ नहीं दे रहा था और हार्ट की परेशानी की वजह से इन्हें अपनी एंजियोग्राफी भी कुछ साल पहले करानी पड़ी थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज