UP Panchayat Election: 25 मार्च को फाइनल होगी आरक्षण लिस्ट, जानिए अमेठी में आईं कितनी आपत्तियां?

अमेठी में डीपीआरओ श्रेया मिश्रा  पंचायत चुनाव की आरक्षण अनंतिम सूची की आपत्तियों का तेजी से कर रहीं निस्तारण

अमेठी में डीपीआरओ श्रेया मिश्रा पंचायत चुनाव की आरक्षण अनंतिम सूची की आपत्तियों का तेजी से कर रहीं निस्तारण

UP Panchayat Chunav: अमेठी में आरक्षण की अनंतिम सूची पर आईं आपत्तियों पर तेजी से काम चल रहा है. डीपीआरओ के अनुसार 25 मार्च की शाम तक सूची फाइनल कर ली जाएगी और 26 मार्च को सार्वजनिक की जाएगी.

  • Share this:
अमेठी. उत्तर प्रदेश के अमेठी (Amethi) में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (UP Panchayat Election) आरक्षण की अनंतिम सूची शनिवार की दोपहर में जारी होने के बाद गांव-गांव चुनाव प्रचार एक बार फिर से तेज हो गया है. गांव की सरकार बनाने के लिए प्रत्याशी और समर्थक दोनों गांव और मोहल्लों में प्रचार शुरु कर दिए हैं. उधर डीपीआरओ कार्यालय में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में आरक्षित हुई सीटों की आपत्तियों को लेकर दावेदारों के पहुंचने का सिलसिला भी तेज हो गया है. डीपीआरओ श्रेया मिश्रा कार्यालय में पहुंचने वाले दावेदारों की आपत्तियों को गंभीरता से सुन रही हैं और उन्हें उनकी ग्राम सभा की सीट की पूरी जानकारी भी उपलब्ध कराने में जुटी हुई हैं. बता रही हैं कि किस वजह से उनके ग्राम सभा की सीट किस कोटे में आरक्षित हुई है.

2015 के आरक्षण के अनुसार ग्राम सभा में आरक्षित हुई सीटों को लेकर ज्यादातर दावेदारों में भ्रम की स्थिति बनी हुई है. इसके पीछे की वजह है 2011 की जनगणना लोग अपने ग्राम सभा में आरक्षण के हिसाब से सीटें आरक्षित होने की मांग कर रहे हैं. लेकिन सरकारी आंकड़ों में जो आंकड़ा है, उसी के अनुसार सीटें आरक्षित हुई हैं, जबकि वास्तविकता में उनके गांव में आरक्षण की स्थिति कुछ और है. ऐसे में जिला पंचायत राज अधिकारी के कार्यालय पहुंचने वाले दावेदार उन आंकड़ों को देखकर या फिर सुनकर कहीं ना कहीं मायूस जरूर हो रहे हैं. आरक्षण का जो प्रारूप तैयार किया गया है, वो 2011 की जनगणना के आधार पर सरकारी आंकड़ों की जो संख्या है, उसी के आधार पर आरक्षण बनाया गया है.

दावेदारों ने गांव में शुरू किया प्रचार

अमेठी में शनिवार से आपत्ति दर्ज की जा रही है और मंगलवार को आपत्ति दर्ज कराने का अंतिम दिन है. आपत्तियों का निस्तारण और आरक्षण के फाइनल सूची जारी कर दी जाएगी. उधर, कई दावेदारों ने गांव की सरकार बनाने के लिए पोस्टर-बैनर भी लगा दिए हैं. गांव में चुनाव के लिए बैठकें भी शुरू होने के साथ गांव में प्रधानी की सीट जीतने के लिए जोड़-तोड़ की राजनीति भी शुरू हो गई है तो वहीं राजनीतिक पार्टियों के नेता और कार्यकर्ताओं ने भी जनता से संपर्क तेज कर दिया हैं.
इससे पहले सोमवार की देर शाम तक 62 प्रधान, 13 बीडीसी, 2 ब्लॉक प्रमुख 2 जिला पंचायत सदस्य की आपत्ति दाखिल करने के पहले ही दिन आपत्तियों की भरमार रही. दावेदारों ने न केवल आपत्तियां दाखिल कीं बल्कि वरिष्ठ अधिकारियों से मिलकर सीट का आरक्षण बदलवाने की गुजारिश करते भी नज़र आए.

ग्राम पंचायत की 60 फ़ीसदी से अधिक सीटों का आरक्षण बदल गया

दो मार्च को जारी की गई अनंतिम आरक्षण सूची की तुलना में नई आरक्षण सूची में 60 फीसदी से अधिक सीटों में बदलाव होने जाने से दावेदारों में हड़कंप मच गया है. ग्राम सभा मे बड़ी संख्या में सीटों का आरक्षण बदल जाने से लोगों का समीकरण भी बदल गया है, जिसके कारण आपत्तियों की संख्या भी बढ़ गई हैं. पिछली बार पांच दिनों में जहां करीब 256 आपत्तियां दर्ज हुई थीं, वहीं इस बार अब तक 100 के करीब आपत्ति आ गई है. इस आरक्षण से तमाम लोगों को आपत्ति भी है. वो अपनी शिकायत जिला पंचायत राज अधिकारी कार्यालय और ब्लॉकों में कर रहे हैं.



अमेठी जिले में त्रिस्तरीय पंचायत के अंतिम आरक्षण को लेकर रार शुरू हो गई है. नए आरक्षण आवंटन के विरोध में सोमवार को 62 प्रधान, 13 बीडीसी, 2 ब्लॉक प्रमुख और 2 जिला पंचायत सदस्य के पदों की आपत्तियां आईं थी. अमेठी में प्रधानों के आरक्षण में बदलाव के साथ जिला पंचायत सदस्यों के लिए आरक्षित पदों को सीट बदलने की मांग की गई है. जिला प्रशासन ने शनिवार को 682 ग्राम प्रधान, 36 जिला पंचायत वार्डों के लिए नई आरक्षण सूची जारी की थी. इसमें 2015 के आधार पर पद आरक्षित सभी वार्डो की सीट बदल गई. आरक्षण सूची पर आपत्तियां दर्ज कराने के लिए डीपीआरओ, ब्लॉक और विकास भवन में दावेदारों के पहुंचने का सिलसिला जारी है. सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक सभी पदों के आरक्षण की आपत्तियां जी जा रही है.

25 की देर शाम तक फाइनल हो जाएगी अंतिम सूची

अमेठी में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में आरक्षण सूची जारी करने के बाद आपत्तियां आज देर शाम तक ली जाएंगी. अमेठी डीपीआरओ श्रेया मिश्रा ने बताया कि सभी की आपत्तियों का निस्तारण करके 25 मार्च की देर शाम तक अंतिम प्रकाशन सूची को फाइनल कर लिया जाएगा और उसे 26 मार्च को सार्वजनिक कर दिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज