लाइव टीवी

कांवड़ियों पर फूल बरसाने वाली यूपी पुलिस को नमाज से दिक्कत होती है: ओवैसी


Updated: December 26, 2018, 1:40 PM IST
कांवड़ियों पर फूल बरसाने वाली यूपी पुलिस को नमाज से दिक्कत होती है: ओवैसी
AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (फाइल फोटो)

नोएडा में सार्वजनिक जगहों पर बिना इजाज़त नमाज़ पढ़ने पर पुलिस ने रोक लगा दी है. पुलिस ने ये फ़ैसला नोएडा सेक्टर 58 के एक सरकारी पार्क में होने वाली नमाज़ की शिकायत मिलने पर लिया.

  • Last Updated: December 26, 2018, 1:40 PM IST
  • Share this:
नोएडा के पार्कों में नमाज़ पर रोक लगाने के मामले में सियासत तेज़ हो गई है. इस मुद्दे को लेकर AIMIM सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर यूपी पुलिस पर निशाना साधा है. ओवैसी ने यूपी पुलिस पर सवाल उठाते हुए लिखा कि कांवड़ियों के लिए फूल बरसाने वाली पुलिस को हफ्ते में एक बार पढ़ी जाने वाली नमाज़ से दिक्कत होती है.

असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर लिखा, ''उत्तर प्रदेश की पुलिस ने कांवड़ियों के लिए फूल बरसाए थे, लेकिन हफ्ते में एक बार पढ़ी जाने वाली नमाज़ से शांति और सद्भाव बिगड़ सकता है. ये बिल्कुल वैसा हुआ कि आप मुसलमानों से कह रहे हो कि आप कुछ भी कर लो, लेकिन गलती तो आपकी ही होगी.''

उन्होंने आगे कहा कानून के मुताबिक, ये कहां तक सही है कि कोई कंपनी ये तय करे कि एक कर्मचारी अपनी निजी जिंदगी में क्या करता है.
क्या है मामला?
उत्तर प्रदेश के नोएडा में सार्वजनिक जगहों पर बिना इजाज़त नमाज़ पढ़ने पर पुलिस ने रोक लगा दी है. पुलिस ने ये फ़ैसला नोएडा सेक्टर 58 के एक सरकारी पार्क में होने वाली नमाज़ की शिकायत मिलने पर लिया.

नोएडा के पार्कों में नमाज़ को रोकने के लिए पास के गांव वालों ने पुलिस को शिकायत की थी. न्यूज़ 18 इंडिया को वो शिकायती चिट्ठी मिली है. 16 दिसम्बर को दर्ज कराई गई इस शिकायत में पुलिस से पार्क में नमाज़ को रोकने की मांग की गई थी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए उत्तर प्रदेश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 26, 2018, 10:30 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर