लाइव टीवी

UP में कदम जमाने की तैयारी में 'आप', 23 फरवरी को लखनऊ में होगा मंथन
Ayodhya News in Hindi

KB Shukla | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 19, 2020, 7:49 PM IST
UP में कदम जमाने की तैयारी में 'आप', 23 फरवरी को लखनऊ में होगा मंथन
आप ने प्रदेश में अब तक एक लाख 60 हजार से ज्यादा लोगों को पार्टी का सदस्य बनाया है.

दिल्ली में लगातार तीसरी बार सत्ता हासिल करने के बाद आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) ने अपनी नजर उत्तर प्रदेश पर गड़ा दी है. पार्टी मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के विकास मॉडल को आधार बनाकर यूपी में प्रचार करेगी.

  • Share this:
अयोध्या. देश की राजधानी दिल्ली में लगातार तीसरी बार सत्ता की कुर्सी हथियाने के बाद अब आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) ने अपनी नजर उत्तर प्रदेश पर गड़ा दी है. पार्टी दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के विकास मॉडल को आधार बनाकर उत्तर प्रदेश में अपनी जमीन मजबूत करेगी. प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने अयोध्या में कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की और 23 फरवरी को लखनऊ में होने वाली बैठक पर मंथन किया गया. आपको बता दें कि यूपी में पार्टी संगठन के विस्तार को लेकर 23 फरवरी को लखनऊ में प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह और आप के सांसद संजय सिंह कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे.

विस्‍तार के लिए पार्टी करेगी ये काम
सांगठनिक विस्तार के लिए आम आदमी पार्टी ने प्रदेश में मिस्ड कॉल सदस्यता अभियान की शुरुआत की है. इस मुहिम के तहत प्रदेश में अब तक एक लाख 60 हजार से ज्यादा लोगों को पार्टी का सदस्य बनाया है. हालांकि अब तक पांच दिन में 12 लाख से ज्यादा मिस कॉल हुए हैं. जबकि सियासी गलियारों में एक बात हमेशा से कही जाती रही है कि दिल्ली का रास्ता उत्तर प्रदेश से होकर गुजरता है. जी हां, इसी उत्तर प्रदेश से देश की सबसे बड़ी संसद लोकसभा में सबसे ज्यादा सांसद चुनकर जाते हैं. केंद्र की सत्ता में अमूमन उसी पार्टी अथवा गठबंधन की सरकार बनती है जिसको प्रदेश निर्वाचित कर भेजता है. यही नहीं, आजादी के बाद से अब तक सबसे ज्यादा प्रधानमंत्री इसी प्रदेश ने दिए हैं. जबकि वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इसी प्रदेश के वाराणसी संसदीय सीट से सांसद हैं.

aap, delhi, आप, दिल्‍ली
केजरीवाल के विकास मॉडल के देश की राजधानी समेत हर जगह पोस्‍टर लगाए गए हैं.




अन्ना आंदोलन की उपज है आप
अन्ना आंदोलन के बाद उपजी आम आदमी पार्टी ने केंद्र समेत तमाम प्रदेशों की सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी के विजय रथ को दिल्ली में घुसने नहीं दिया. केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी दिल्ली विधानसभा में बहुमत के साथ सरकार में है. तीसरी बार दिल्ली विधानसभा की सत्ता पर काबिज होने के बाद अब पार्टी उत्तर प्रदेश के रास्ते केंद्र की सत्ता तक पहुंचने की जुगत में है. इसी कवायद के तहत पार्टी ने 23 फरवरी को लखनऊ में इसी रणनीति पर चिंतन मंथन का निर्णय लिया है.

यही नहीं, केजरीवाल के विकास मॉडल से लोगों को रूबरू कराने के लिए प्रदेश की राजधानी से लेकर जनपदों और कस्बों तक पोस्टर, होर्डिंग और कटआउट लगवाए हैं. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह का कहना है कि अपने विकास मॉडल के बलबूते पार्टी तीसरी बार दिल्ली की सत्ता पर पहुंची है, अब केजरीवाल के विकास मॉडल को प्रदेश के जन-जन तक पहुंचाने की कोशिश है. इसके लिए बूथ स्तर तक के कार्यकर्ताओं को अपने-अपने क्षेत्र में प्रचार प्रसार के लिए कहा गया है.

 

ये भी पढ़ें-

गुरुजी ने छात्रा को बोला I LOVE YOU, स्‍टूडेंट्स मिलकर दी ये सजा

 

काशी में गंगा किनारे पूजे जाएंगे 108 नर्मदेश्वर शिवलिंग, ये है वजह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अयोध्या से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 19, 2020, 7:42 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर