• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • COVID-19: लॉकडाउन खत्म होते ही अयोध्या में शुरू होगा भव्य राम मंदिर निर्माण

COVID-19: लॉकडाउन खत्म होते ही अयोध्या में शुरू होगा भव्य राम मंदिर निर्माण

लॉकडाउन के दौरान 'रामलला' को मिला करोड़ों रुपये का दान (file photo)

लॉकडाउन के दौरान 'रामलला' को मिला करोड़ों रुपये का दान (file photo)

अब लॉकडाउन में दी गई छूट के चलते राम जन्मभूमि परिसर में राम मंदिर निर्माण के पहले के कार्य शुरू कर दिए गए है. परिसर में साफ-सफाई शुरू करने के साथ ही भूमि के समतलीकरण का कार्य शुरू हो गया है. साथ ही ग्रिल आदि धीरे-धीरे हटाई जा रही है

  • Share this:
अयोध्या. कोरोनावायरस (COVID-19) के चलते लागू लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से अयोध्या में राम मंदिर निर्माण (Ram Temple Construction) का कार्य शुरू नहीं हो सका है. लेकिन अब लॉकडाउन में दी गई छूट के चलते राम जन्मभूमि परिसर में राम मंदिर निर्माण के पहले के कार्य शुरू कर दिए गए है. परिसर में साफ-सफाई शुरू करने के साथ ही भूमि के समतलीकरण का कार्य शुरू हो गया है. साथ ही ग्रिल आदि धीरे-धीरे हटाई जा रही है. यह वही ग्रिल बैरियर है जिससे होकर पहले दर्शनार्थी गर्भगृह में विराजमान रामलला के दर्शनों के लिए जाते थे.

सूत्रों की माने पिछले दिनों आए आंधी-तूफान के बाद रामलला के अस्थाई गर्भ ग्रह के ऊपर रखे पेड़ के ऊपर जाने की वजह से पानी की बौछार अंदर जा रही थी. उसे भी बदला गया है और मजबूत किया गया है. माना जा रहा है की राम मंदिर निर्माण से पहले राम मंदिर के फाउंडेशन निर्माण के पहले की सभी औपचारिकताएं पूर्ण कर ली जाएंगी. जिससे कि लॉकडाउन समाप्त होने के बाद तेजी से राम मंदिर निर्माण कार्य शुरू किया जा सके.

राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास के उत्तराधिकारी कमल नाथ दास ने बताया कि अभी महामारी को देखते हुए धीरे-धीरे साफ-सफाई किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि लोहे की पाइप की घेराबंदी, लोहे की जाली, अस्थाई सुरक्षाकर्मियों के कैंप को हटा कर समतल कराने का कार्य जोरों पर है. कमल नाथ दास के मुताबिक जैसे इस महामारी से फुरसत होगी, तेजी से कार्य प्रारंभ हो जाएगा. और जल्दी से भगवान श्री राम की जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा.

टल गया था भूमि पूजन
देश की परिस्थितियां सामान्य होने तक राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन नहीं किया जाएगा. कोरोना आपदा आने से पहले रामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला को परिसर में नियत स्‍थल पर प्रतिष्ठित करवाने के बाद मंदिर के निर्माण का काम शुरू करवाने की योजना बनाई गई थी. इस पूरी योजना के तहत चैत्र नवरात्र के पहले दिन रामलला को नए भवन में प्रतिष्ठित करवाने और बैसाख नवरात्र की सप्तमी पर 30 अप्रैल को भूमि पूजन के साथ ही निर्माण शुरू करने का‌ निर्णय लिया गया था.

ये भी पढे़ं:

UP में तय रेट से महंगी शराब बेची तो देना पड़ेगा 75000 जुर्माना, दोबारा पकड़े जाने पर मिलेगी ये सजा

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज