• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Ayodhya: जीतन राम मांझी की राम पर टिप्पणी से आक्रोश, संतों ने उन्हें बताया एक्सीडेंटल हिंदू

Ayodhya: जीतन राम मांझी की राम पर टिप्पणी से आक्रोश, संतों ने उन्हें बताया एक्सीडेंटल हिंदू

भगवान राम पर टिप्पणी को लेकर जीतनराम मांझी पर भड़के अयोध्या के संत.

भगवान राम पर टिप्पणी को लेकर जीतनराम मांझी पर भड़के अयोध्या के संत.

Ayodhya News: जीतन राम मांझी को अयोध्या के संतों ने एक्सीडेंटल हिंदू बताया है. संतों ने कहा कि उनका बयान दुर्भाग्यपूर्ण है. यह केवल राजनीति से प्रेरित बयान दे रहे हैं. उन्हें अपने माता पिता से पूछना चाहिए था कि उनके नाम में राम क्यों लगाया.

  • Share this:

अयोध्या. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीनत राम मांझी Jitan Ram Manjhi के द्वारा भगवान राम को लेकर दिए गए बयान पर अयोध्या Ayodhya के संतो में आक्रोश है. संत समाज ने जीतन राम मांझी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि राजनीति चमकाने के लिए इस तरीके का बयान न दें. यह बहुत ही दुखद और बेतुका बयान है. संतों ने तर्क दिया कि उनके नाम में भी राम है और अब उनकी मां और पिता नहीं होंगे. उनको एक बार उनसे भी समझना चाहिए था कि आखिर उनके नाम में राम शब्द का इस्तेमाल क्यों किया गया. अयोध्या के संतो ने कहा कि राजनीति में सनातन धर्म हिंदू देवी देवताओं के बारे में कमेंट करना आम सी बात हो गई है.

जीतन राम मांझी को अयोध्या के संतों ने एक्सीडेंटल हिंदू बताया है और कहा कि उनका बयान दुर्भाग्यपूर्ण है. यह केवल राजनीति से प्रेरित बयान दे रहे हैं. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री के बयान पर भड़के हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने कहा कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी का बयान दुर्भाग्यपूर्ण है. उनकी बुद्धि भ्रष्ट हो गई है. जहां कण कण में राम हैं भारत की आत्मा राम में बसती हो उस राम के अस्तित्व को नकारना यह दुर्भाग्यपूर्ण है. उनका यह बयान राजनीति से प्रेरित है. उन्हें राजनीति करनी है चुनाव आने वाला है .

उसमें कहा कि सभी को लगता है कि हिंदुत्व को गाली देना हिंदुत्व को टारगेट करना सनातन धर्म पर कुठाराघात करना देवी देवताओं के बारे में कमेंट करना यह राजनेताओं के लिए आम सी बात हो गई है. हिंदुस्तान में हर व्यक्ति स्वतंत्र है. हर व्यक्ति सनातन धर्म के बारे में कुछ न कुछ बोलता रहता है, क्योंकि उसको राजनीतिक रोटी सेंकनी है. महंत राजू दास ने पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी को एक्सीडेंटल हिंदू बताया और कहां की जीतन राम मांझी उनके नाम में राम जुड़ा है. राम के अस्तित्व को नहीं मानता है अब जीतन राम मांझी के माता-पिता स्वर्गवासी हो गए होंगे उनको अपने माता-पिता से पूछना चाहिए था कि नाम में राम क्यों लगाया गया है.

दरअसल जीतन राम मांझी से जब सवाल पूछा गया था कि क्या बिहार के स्कूल और कॉलेज के पाठ्यक्रम में रामचरितमानस और रामायण की पढ़ाई शामिल की जाए, तो इस पर जीतन राम मांझी ने कहा कि राम कोई जीवित और महापुरुष व्यक्ति थे, ऐसा मैं नही मानता. रामायण की कहानी को भी सच नहीं मानता, लेकिन रामायण में कही गई बातों का समर्थन करता हूं. मांझी ने कहा कि रामायण में लोगों के लिए अच्छी बातें कही गई हैं. इन बातों से बेहतर व्यक्तित्व का निर्माण होता है. रामायण के कई श्लोक हैं जो हमें सही राह दिखाते हैं. रामायण की बातों को शिक्षा में शामिल करना चाहिए और मैं इसे पढ़ाई में शामिल करने का पक्षधर हूं.

वही रामा दल ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत कल्किराम ने कहा कि भगवान राम को लेकर के बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी जो टिप्पणी की है वह बहुत ही निंदनीय है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज