लाइव टीवी
Elec-widget

बसपा नेता दिलीप रावत ने छोड़ी पार्टी, मायावती पर लगाया पैसे लेकर टिकट देने का आरोप

KB Shukla | News18 Uttar Pradesh
Updated: December 2, 2019, 4:27 PM IST
बसपा नेता दिलीप रावत ने छोड़ी पार्टी, मायावती पर लगाया पैसे लेकर टिकट देने का आरोप
मिल्कीपुर विधानसभा क्षेत्र के प्रभारी दिलीप रावत ने पार्टी सुप्रीमो मायावती पर गंभीर आरोप लगाते हुए पार्टी छोड़ दी.

बहुजन समाज पार्टी की नीतियों से नाखुश होकर बहुजन समाज पार्टी छोड़ने का ऐलान किया. बसपा नेता दिलीप रावत मिल्कीपुर विधानसभा सुरक्षित सीट से विधानसभा चुनाव लड़ने की इच्छा भी जाहिर की थी.

  • Share this:
अयोध्या. अयोध्या (Ayodhya) जनपद में बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) को उस समय बड़ा झटका लगा, जब मिल्कीपुर विधानसभा क्षेत्र (Milkipur Assembly Seat) के प्रभारी दिलीप रावत (Dilip Rawat) ने पार्टी सुप्रीमो मायावती (Mayawati) पर गंभीर आरोप लगाते हुए पार्टी छोड़ दी. उन्होंने कहा कि बसपा में जो नेता पैसा वसूल कर देता है वही सर्वमान्य नेता होता है. बहुजन समाज पार्टी के पुराने नेता मिल्कीपुर विधानसभा क्षेत्र के प्रभारी दिलीप रावत और उनकी पत्नी मसौधा तृतीय से जिला पंचायत सदस्य हेमलता रावत ने पार्टी छोड़ने का ऐलान कर दिया.

बहुजन समाज पार्टी की नीतियों से नाखुश होकर बहुजन समाज पार्टी छोड़ने का ऐलान किया. बसपा नेता दिलीप रावत मिल्कीपुर विधानसभा सुरक्षित सीट से विधानसभा चुनाव लड़ने की इच्छा भी जाहिर की थी, लेकिन पार्टी ने दिलीप रावत को टिकट नहीं दिया. विधानसभा चुनाव में टिकट न मिलना भी पार्टी छोड़ने का कारण बताया जा रहा है. कांग्रेस नेता जयकरण वर्मा ने दिलीप रावत और उनकी पत्नी हेमलता रावत के साथ 1 दर्जन से अधिक बहुजन समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं की प्रेसवार्ता करवाई. उम्मीद जताई जा रही है कि नेता दंपत्ति जल्द ही कांग्रेस पार्टी ज्वाइन करेंगे.

बसपा पर लगाए गंभीर आरोप

दरअसल बसपा में रहे दिलीप रावत पार्टी के पुराने नेता हैं. इनके पिता भी बहुजन समाज पार्टी में ही विश्वास रखते थे. दिलीप रावत की पत्नी मसौधा तृतीय से पार्टी की जिला पंचायत सदस्य हैं, लेकिन दिलीप रावत ने आरोप लगाया कि बसपा सुप्रीमो सिर्फ पैसा देखती है. उन्हें कैडर से मतलब नहीं होता. जो पैसा देता है उसी को टिकट देती हैं. आरोप लगाते हुए दिलीप रावत ने कहा कि बसपा सुप्रीमो मायावती को जो नेता पैसा वसूल कर देता है वही पार्टी में सर्वमान्य नेता होता है. उन्होंने कहा कि वह शुरू से ही बसपा की सेवा कर रहे हैं और 2 वर्ष से मिल्कीपुर विधानसभा क्षेत्र के प्रभारी हैं. जनता की सेवा कर रहे हैं, लेकिन उन्हें तवज्जो नहीं दी जा रही है. इसलिए वह पार्टी छोड़ रहे हैं. दिलीप रावत ने कहा कि बसपा छोड़ने का ऐलान वे पार्टी को फैक्स कर देंगे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अयोध्या से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 2, 2019, 4:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...