अयोध्या केस LIVE: मुस्लिम पक्ष ने लगातार पांचवें दिन सुनवाई का किया विरोध

अयोध्या (Ayodhya land dispute) मामले में मध्यस्थता के माध्यम से कोई आसान हल नहीं निकलने के बाद सर्वोच्च अदालत ने मामले मे रोजाना सुनवाई का फैसला किया है. गुरुवार को सुनवाई का तीसरा दिन है.

News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 12:10 PM IST
अयोध्या केस LIVE: मुस्लिम पक्ष ने लगातार पांचवें दिन सुनवाई का किया विरोध
अयोध्या मुद्दे पर SC में सुनवाई
News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 12:10 PM IST
सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद (Ayodhya land dispute) को लेकर सुनवाई जारी है. 6 अगस्त से शुरू हुई रोजाना सुनवाई का शुक्रवार को चौथा दिन  है. पहले तीन दिन सर्वोच्च अदालत में निर्मोही अखाड़ा और रामलला विराजमान ने अपना पक्ष रखा. आज मुस्लिम पक्ष अपना पक्ष रख रहे हैं. मुस्लिम पक्ष की ओर से वकील राजीव धवन ने सफ्ताह के पांच दिन सुनवाई का विरोध किया. इससे पहले अयोध्या मामले पर मध्यस्थता के माध्यम से कोई आसान हल नहीं निकलने के बाद सर्वोच्च अदालत ने मामले मे रोजाना सुनवाई का फैसला किया है. गुरुवार को सुनवाई शुरू होते ही जस्टिस भूषण ने रामलला के वकील से तीखे सवाल किए. उन्होंने पूछा कि क्या जन्मस्थान को व्यक्ति माना जा सकता है, जिस तरह उत्तराखंड की हाईकोर्ट ने गंगा को व्यक्ति माना था. इस पर रामलला के वकील ने कहा कि हां, रामजन्मभूमि व्यक्ति हो सकता है और रामलला भी. क्योंकि वो एक मूर्ति नहीं, बल्कि एक देवता हैं. हम उन्हें सजीव मानते हैं. राजनीतिक और धार्मिक रूप से संवेदनशील मामले में राम लला विराजमान के वकील ने बुधवार को अदालत को बताया था कि लाखों भक्तों की ‘‘अटूट आस्था’’ यह साबित करने के लिए काफी है कि अयोध्या में पूरा विवादित स्थल भगवान राम का जन्म स्थान है.
First published: August 8, 2019, 11:36 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...