होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /अयोध्या में दीपोत्सव की तैयारियां: 500 क्विंटल देसी-विदेशी फूलों से सजाई जा रही है राम की नगरी

अयोध्या में दीपोत्सव की तैयारियां: 500 क्विंटल देसी-विदेशी फूलों से सजाई जा रही है राम की नगरी

Ayodhya News:

Ayodhya News:

Ayodhya News: भगवान श्रीराम के चौदह बरस के बाद वन से अयोध्या में आगमन के मौके पर दीपोत्सव का त्योहार देशभर में तो मनाया ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पिछले पांच दिनों से 300 से ज्यादा मजदूर सजा रहे है रामलला का दरबार
200 क्विंटल फूल की सजावट भगवान रामलला के अस्थाई मंदिर में की जाएगी
आर्केट, थोनीयम, लिली, अलबेरा और काननेशन फूल विदेशों से मंगवाए गए हैं

अयोध्या. हर बार की तरह दीपोत्सव (Deepotasav) इस बार अयोध्या  में बहुत धूमधाम से मनाया जा रहा है. प्रधानमंत्री के आगमन की तैयारियों को लेकर पूरी अयोध्या (Ayodhya) दुल्हन की तरह सज गई है. अयोध्या का जो नजारा है वो त्रेता वाली अयोध्या का है. लोगों में उत्साह है. भगवान राम लला (Bhagwan Ram lala) के परिसर को फूलों से सजाया जा रहा है. अयोध्या में एक ओर राम लला के मंदिर निर्माण की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं, दूसरी ओर दीपोत्सव के मौके पर अयोध्या को सजाने की विशेष तैयारियां चल रही हैं.

भगवान राम लला के परिसर को सजाने में  500 क्विंटल फूल लगाए जा रहे हैं. राम जन्म भूमि मंदिर के जिस गेट से प्रधानमंत्री प्रवेश करेंगे, वहां से एक किलोमीटर लंबे मार्ग को दोनों तरफ फूलों से सजाया जाएगा. मुख्य गेट पर फूलों की सजावट की जा रही है. इसके अलावा विराजमान रामलला के अस्थाई मंदिर को लगभग 200 क्विंटल फूलों से सजाया जाएगा, जिसमें विदेशी फूलों का भी इस्तेमाल किया जा रहा है.

Diwali 2022: मेरठ जेल में बने दीपों से रोशन होंगे घर, ईको-फ्रेंडली दीये और LED बल्ब तैयार कर रहे बंदी

आपके शहर से (अयोध्या)

अयोध्या
अयोध्या

विशेष सजावट के लिए देशी-विदेशी फूल भी
भगवान राम लला के निर्माणाधीन स्थल पर फूलों की सजावट की जा रही है और फूलों की रंगोली बनाई जा रही है. साकेत महाविद्यालय से दीपोत्सव स्थल तक सड़क के मुख्य मार्ग पर भी फूलों की सजावट की जाएगी. इसी महाविद्यालय के पास प्रधानमंत्री हेलीकॉप्टर से उतरेंगे. अयोध्या में दीपोत्सव पर विशेष सजावट के लिए आर्केट, अंथोनीयम, लिली, अलबेरा और काननेशन फूल विदेशों से मंगाए गए हैं.

कोलकात्ता से थाईलैंड तक से मंगाए फूल
फ्लावर डेकोरेटर ने बताया कि कोलकाता, दिल्ली, बनारस और थाईलैंड से फूल मंगाए गए हैं. संपूर्ण राम जन्मभूमि परिसर में 500 क्विंटल फूलों की सजावट की गई है. फ्लावर डेकोरेटर के अनुसार मुख्य राम जन्मभूमि के गेट से राम जन्म भूमि के गर्भ गृह तक सजावट की जा रही है. 200 क्विंटल फूल की सजावट भगवान रामलला के अस्थाई मंदिर में की जाएगी, जहां पर विदेशी फूलों का इस्तेमाल भी किया जा रहा है.

तीन सौ से ज्यादा वर्कर कर रहे दिन-रात काम
फ्लावर डेकोरेटर ने कहा कि प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर हम लोग भी उत्साहित हैं और 300 वर्कर 5 दिन से दिन-रात भगवान राम लला के परिसर को फूलों से सजाने का काम कर रहे हैं. कल सुबह 9 बजे तक हम रामलला के दरबार को फूलों से सजा देंगे. सुबह 9 बजे तक हमें एसपीजी को राम जन्मभूमि परिसर हैंड ओवर कर देना है.

Tags: Ayodhya Deepotsav, Ayodhya News, Ayodhya ram mandir, Diwali festival, Up news in hindi

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें