अपना शहर चुनें

States

अयोध्या: 26 जनवरी को रखी जाएगी 5 एकड़ में बनने वाली विशालकाय मस्जिद की नींव, ये होगा नाम

26 जनवरी को रखी जा सकती है मस्जिद की नींव
26 जनवरी को रखी जा सकती है मस्जिद की नींव

Ayodhya News: अयोध्या के रौनाही में मिली 5 एकड़ जमीन पर सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड द्वारा बनाया गया ट्रस्ट इंडो इस्लामिक कल्चर फाउंडेशन इस मामले में 26 जनवरी से मस्जिद निर्माण का काम शुरू कर सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 17, 2020, 3:10 PM IST
  • Share this:
अयोध्या. श्री राम जन्मभूमि (Ram Janambhumi) और बाबरी मस्जिद विवाद (Babri Mosque Dispute) के बाद अयोध्या (Ayodhya) के रौनाही में मिली 5 एकड़ जमीन पर मुस्लिम पक्षकार जल्द ही मस्जिद निर्माण (Mosque Construction) का कार्य शुरू कर सकता है. अयोध्या के रौनाही में मिली 5 एकड़ जमीन पर सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड द्वारा बनाया गया ट्रस्ट इंडो इस्लामिक कल्चर फाउंडेशन इस मामले में 26 जनवरी से मस्जिद निर्माण का काम शुरू कर सकता है. इंडो इस्लामिक कल्चर फाउंडेशन के प्रवक्ता अतहर हुसैन ने बताया कि 26 जनवरी से मस्जिद निर्माण का कार्य अयोध्या में शुरू हो सकता है. यानी 26 जनवरी को मस्जिद की नींव रखी जा सकती है.

19 दिसंबर को अहम बैठक 

इससे पहले 19 दिसंबर को इंडो इस्लामिक कल्चर फाउंडेशन की एक महत्वपूर्ण बैठक लखनऊ में आयोजित की गई है. इसमें इंडो इस्लामिक कल्चर फाउंडेशन के सभी सदस्यों, मस्जिद का नक्शा बनाने वाले आर्किटेक्ट को भी लखनऊ बुलाया गया है. अतहर हुसैन ने बताया कि जो भी लोग मीटिंग में लखनऊ नहीं आ पाएंगे उन्हें वर्चुअल मीटिंग के जरिए जोड़ा जाएगा.



बाबर के नाम का जिक्र नहीं 
अतहर हुसैन ने कहा कि अयोध्या में बनने वाली मस्जिद में कहीं भी बाबर या उससे जुड़ा कोई भी जिक्र नहीं होगा. उन्होंने कहा अयोध्या के रौनाही में जो मस्जिद बनेगी उसका नाम धन्नीपुर मस्जिद रखा जाएगा। मस्जिद का फाइनल नक्शा कैसा होगा इसकी जानकारी 19 दिसंबर को प्रेस वार्ता करके बताई जाएगी। हालांकि मस्जिद निर्माण को लेकर के तमाम तैयारियां शुरू हो चुकी हैं. इस्लामिक कल्चर फाउंडेशन ने भी एक खाता खोलकर लोगों से मस्जिद निर्माण में सहयोग की अपील की है. देश-विदेश से तमाम लोग मस्जिद निर्माण के लिए लगातार आगे आ रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज