Ayodhya News: 5 मिनट में 2 करोड़ की जमीन हो गई 9 गुना महंगी, जानिए क्यों लगा राम मंदिर ट्रस्ट पर भूमि घोटाले का आरोप

श्री राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट पर लगा भूमि घोटाले का आरोप

Ram Mandir Land Scam: आप नेता संजय सिंह ने दावा किया कि अयोध्या सदर तहसील के बाग बिजैसी गांव में पांच करोड़ 80 लाख रुपये की मालियत वाली जमीन को पहले दो करोड़ में खरीदा गया, फिर पांच मिनट बाद राम मंदिर ट्रस्ट ने इसे 18.5 करोड़ में खरीदा.

  • Share this:
    अयोध्या. धर्मनगरी अयोध्या में राम मंदिर (Ram Mandir) का निर्माण करा रहे श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट (Shri Ram Janambhumi Teerth Kshtra Trust) पर भ्रष्टाचार का गंभीर आरोप लगा है. आम आदमी पार्टी (AAP) और समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) ने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय (Champat Rai) पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि जिस जमीन की कीमत 2 करोड़ रुपए थी, उसे 5 मिनट बाद ही 18.5 करोड़ में खरीदकर बड़ा घोटाला किया है. आप और सपा ने अब इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय और सीबीआई से जांच की मांग की है. उधर, चंपत राय ने आरोपों पर सफाई देते हुए कहा कि वह इस तरह के आरोपों से नहीं डरते और इसकी जांच कराएंगे. उन्होंने कहा कि हम पर तो महात्मा गांधी की हत्या का भी आरोप लगा था.

    भ्रष्टाचार के आरोपों पर अयोध्या के हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास और रामलला के प्रधान पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने अपना विरोध दर्ज कराया है. आचार्य सत्येंद्र दास ने कहा कि राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट पर लगा आरोप निराधार है. उन्‍होंने कहा कि यह संभव नहीं है. यह राम भक्तों के द्वारा दान किए गए पैसे का अपमान है. अगर आरोप निराधार निकलते हैं तो आरोप लगाने वाले लोगों पर मुकदमा किया जाना चाहिए. हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने कहा कि इस पूरे मामले की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए. उन्होंने आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह पर हमला बोलते हुए कहा कि अगर इस मामले में आरोप गलत निकले तो 50 करोड़ रुपए के मानहानि का मुकदमा भी आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह पर करेंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि कोई दोषी मिलता है तो उन दोषियों के खिलाफ भी कठोर कार्रवाई होनी चाहिए.

    ये हैं आरोप
    रविवार को आप नेता संजय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कुछ दस्तावेज पेश करते हुए कहा, 'कोई कल्पना भी नहीं कर सकता कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के नाम पर कोई घोटाला और भ्रष्टाचार करने की हिम्मत करेगा, लेकिन जो कागजात मैं आपको दिखाने जा रहा हूं वे चिल्ला-चिल्ला कर कह रहे हैं कि राम जन्मभूमि ट्रस्ट के नाम पर चंपत राय जी ने करोड़ों रुपए चंपत कर दिए.'

    प्रति सेकेंड साढ़े पांच लाख रुपए बढ़े दाम
    संजय सिंह ने दावा किया कि अयोध्या सदर तहसील के बाग बिजैसी गांव में पांच करोड़ 80 लाख रुपये की मालियत वाली गाटा संख्या 243, 244 और 246 की जमीन सुल्तान अंसारी और रवि मोहन तिवारी नामक व्यक्तियों ने कुसुम पाठक और हरीश पाठक से 18 मार्च को दो करोड़ रुपए में खरीदी थी. आप सांसद ने कहा कि शाम सात बजकर 10 मिनट पर हुई इस जमीन खरीद में राम जन्मभूमि ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्रा और अयोध्या के मेयर ऋषिकेश उपाध्याय गवाह बने थे. साथ ही आरोप लगाया कि उसके ठीक पांच मिनट के बाद इसी जमीन को चंपत राय ने सुल्तान अंसारी और रवि मोहन तिवारी से साढ़े 18 करोड़ रुपए में खरीदा, जिसमें से 17 करोड़ रुपए आरटीजीएस के जरिए पेशगी के तौर पर दिए गए. उन्होंने आरोप लगाया कि दो करोड़ रुपए में खरीदी गई जमीन का दाम लगभग प्रति सेकंड साढ़े पांच लाख रुपए बढ़ गया.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.