होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Ayodhya: दीपोत्सव के तर्ज पर आज से रामनगरी में शुरू होगा रामायण मेला, CM योगी भी होंगे शामिल

Ayodhya: दीपोत्सव के तर्ज पर आज से रामनगरी में शुरू होगा रामायण मेला, CM योगी भी होंगे शामिल

Ayodhya Ramayan Mela: 41वें रामायण मेले में सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा देश के बड़े-बड़े कलाकार अपने मध ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट: सर्वेश श्रीवास्तव

अयोध्या: धर्म नगरी अयोध्या में परंपरागत तरीके से होने वाले रामायण मेले का तैयारी लगभग पूरा हो गया है. 40 वर्षों से लगातार चल रहे इस रामायण मेले का पहली बार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 27 नवंबर को उद्घाटन करेंगे. इस बार का रामायण मेला राम भक्त और धार्मिक क्षेत्र के लिए विशेष आकर्षण का केंद्र होगा, क्योंकि सूबे के मुखिया इस बार शामिल होंगे. हालांकि दीपोत्सव में ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या वासियों से आवाहन किया था कि राम नगरी अयोध्या में रामायण के प्रसंगों पर आधारित बड़े स्तर पर कार्यक्रम आयोजित होनी चाहिए. इसी मंशा के अनुरूप रामायण मेला समिति ने चार दिवसीय रामायण मेला कार्यक्रमों को सुसज्जित किया है.

हालांकि 4 दिवसीय इस कार्यक्रम में सनातन धर्म और आम जनमानस के लिए यह कार्यक्रम एक संदेश वाहक बनेगा. इस बार रामायण मेले में भगवान राम से जुड़ी हुई विभिन्न रसों की रीति- रिवाजों का मंचन किया जाएगा. इसके अलावा भगवान राम के चारों भाइयों के विवाह उपरांत पाव पूजन की रस्म का पोस्टर,अग्नि फेरा और ऋषि मुनियों के द्वारा चारों भाइयों को आशीर्वाद देने का चित्र भी रामायण मेले के पोस्टर में उल्लेख है. इसके साथ भव्य मंदिर का निर्माण हो रहा है, उसका उत्साह भी इस बार रामायण मेले में देखने को मिलेगा.

नामचीन कलाकारों से गुलजार होगा रामायण मेला
41वें रामायण मेले में सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा देश के बड़े-बड़े कलाकार अपने मधुर वाणी से भक्तों को मोहित करेंगे जिसमें अनुराधा पौडवाल, तृप्ति शाक्य, सुरभि सिंह, तथा संजौली पांडे जैसे अनेक कलाकार अपनी कला का प्रदर्शन करेंगे. इस बार की रामायण मेला में होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम के माध्यम से अयोध्या एक बार फिर राममय दिखेगी. कई वर्षों बाद रामायण मेले में बड़े-बड़े कलाकार अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे, चार दिवसीय रामायण मेले का आयोजन राम कथा पार्क में किया जाएगा.

अयोध्या को जो यूएसबी बनाने की कोशिश की गई है. उसमें हम लोगों ने पोस्टर के माध्यम से दर्शाया है प्रथम दिवस का कार्यक्रम भगवान राम और सीता जी का वन में मिलना उसके बाद गौरी जी से उनका आशीर्वाद लेना परशुराम जी से मिलना धनुष तोड़ना और वरमाला यह प्रथम दिवस का आयोजन है. जो इस बार स्कूल के बच्चों से मंजन करके श्रद्धालुओं को दिखाने की कोशिश करेंगे. जिसका उद्देश्य है कि अयोध्या को विश्व के स्तर पर एक पहचान मिले. दूसरे दिन रामलीला राम विवाह लोकगीत तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. ऐसे चार दिवसीय रामायण मेले में सांस्कृतिक कार्यक्रम से राम की नगरी अयोध्या गुलजार रहेगी.

Tags: Ayodhya Deepotsav, Ayodhya News, Ayodhya Ram Temple, CM Yogi, UP news, Yogi government

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें