लाइव टीवी

अयोध्या रेप पीड़िता सुसाइड केस: परिजनों से मिले कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू
Ayodhya News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 17, 2020, 11:43 AM IST
अयोध्या रेप पीड़िता सुसाइड केस: परिजनों से मिले कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू

पीड़िता के पिता कहना है कि इस मामले में उन्होंने एसएसपी के यहां प्रार्थना पत्र दिया था, लेकिन इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई.

  • Share this:
अयोध्या. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के जनपद अयोध्या (Ayodhya) में गत शुक्रवार को रेप पीड़िता (Rape Victim) द्वारा ट्रेन से कटकर आत्महत्या (Suicide) के मामले में सियासत शुरू हो गई है. कांग्रेस (Congress) प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू (Ajay Kumar Lallu) सोमवार को अयोध्या पहुंचे. यहां उन्होंने मृतक के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी. इस दौरान परिजनों ने मामले में पुलिस पर लापरवाही का आरोप भी लगाया.

कांग्रेस लड़ेगी इंसाफ की लड़ाई

परिजनों से मुलाक़ात के बाद मीडिया से बात करते हुए लल्लू ने कहा कि अयोध्या रेप पीड़िता की आत्महत्या का मामला गंभीरता से सदन में उठाया जाएगा. इंसाफ के लिए कांग्रेस सड़क पर भी उतरेगी. उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारियों से फरियाद के बाद भी कोई कार्यवाई नहीं हुई थी. कांग्रेस पीड़ित परिवार के साथ न्याय की लड़ाई लड़ेगी.

कानून व्यवस्था पर लगाया गंभीर आरोप.



अजय कुमार लल्लू ने कानून-व्यवस्था पर भी सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा कि प्रदेश में अपराधियों के हौसले बुलंद हैं. प्रदेश में जंगल राज है. महिलाओं पर अत्यचार बढ़े हैं. बलात्कार की घटना बढ़ीहै. एनसीआरबी की रिपोर्ट में दलितों व पिछड़ों पर हो रहे अत्याचार की बात सामने आ गई है. घटनाओं में लिप्त पूर्व सांसद व सांसदों को फूल मालाओं से स्वागत होता है. मुख्यमंत्री से प्रदेश नहीं संभल रहा उन्हें गोरखपुर वापस जाना चाहिए. गोरखपुर उनका इंतजार कर रहा है.

पुलिस ने सभी आरोपियों को किया गिरफ्तार

उधर रविवार देर शाम पुलिस ने दो अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. बता दें मुख्य आरोपी समेत दो लोगों को पुलिस ने पीड़िता की आत्महत्या के बाद ही गिरफ्तार किया था. गौरतलब है कि चरों आरोपियों ने नाबालिग के साथ गैंगरेप कर उसका अश्लील वीडियो बनाया था. इसके बाद आरोपियों ने वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया था. वीडियो वायरल होने से आहात रेप पीड़िता ने ट्रेन से कटकर जान दे दी थी.

बदनामी के डर से की थी आत्महत्या

पीड़िता के पिता कहना है कि इस मामले में उन्होंने एसएसपी के यहां प्रार्थना पत्र दिया था, लेकिन इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई. इस बीच गांव में इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद बदनामी के डर से पीड़िता परेशान थी. शर्मिंदगी से आहत होकर युवती ने शुक्रवार देर शाम तकरीबन साढ़े चार बजे मालगाड़ी के सामने छलांग लगा दी. घटना में बुरी तरह घायल लड़की को श्रीराम अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

पुलिस पर लापरवाही का आरोप

पीड़ित लड़की के पिता का कहना है कि यह घटना बीते दो फरवरी को मनी पर्वत जैसे पवित्रस्थली पर हुई. मुझे तीन दिन पहले ही पता लगा. इस संदर्भ में प्रार्थना पत्र वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को दिया था. जिस वक्त यह घटना हुई मैं काम पर गया था. उसके बाद मैंने कोतवाली अयोध्या को इसकी सूचना दी. उन्होंने आरोप लगाया कि आरोपी युवक उनकी बेटी को इस घटना के बाद से वीडियो वायरल करने की लगातार धमकी दे रहे थे. उन्होंने अपने परिवार के लिए इंसाफ की मांग की है.

मां ने की फांसी की मांग

पीड़िता की मां का आरोप है कि घर से सामान लेने निकली उनकी बेटी को आरोपी युवक ने बात करने के बहाने से बुलाया था. उसके बाद चाकू दिखाकर उसके साथ रेप किया गया. आरोपी के साथ मौजूद तीन अन्य युवकों ने इस घटना का वीडियो बनाया और उसे वायरल कर दिया. इस घटना के बाद बदनामी के डर से नाबालिग पीड़िता ने ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली. लड़की की मां के अनुसार इस संबंध में एसएसपी को प्रार्थना पत्र भी हमने डाला था लेकिन उस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई. उन्होंने वारदात में शामिल आरोपियों के फांसी की मांग की है.

(इनपुट: निमिष गोस्वामी)

ये भी पढ़ें:

राजधानी लखनऊ के चौराहों पर लगे हाइटेक स्मार्ट स्ट्रिप, जानिए कैसे बन जाएगा "ग्रीन कॉरीडोर"

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अयोध्या से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 17, 2020, 11:23 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर