अपना शहर चुनें

States

राजस्थान के करौली में पुजारी को जिंदा जलाने पर अयोध्या के संतों में भारी रोष, घटना को बताया पालघर पार्ट-2

घटना को लेकर साधु-संतों ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला
घटना को लेकर साधु-संतों ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला

राजस्थान के करौली में पुजारी (Priest) को जिंदा जलाने की घटना पर अयोध्या के साधु-संतों में खासा रोष है. साधु-संतों ने इस घटना को पालघर पार्ट-2 बताया है.

  • Share this:
अयोध्या. महाराष्ट्र के पालघर में संत की हत्या के बाद एक बार फिर दिल दहलाने वाली सनसनीखेज वारदात राजस्थान से सामने आई. राजस्थान के करौली में पुजारी (Priest) को जिंदा जला दिया गया. इस घटना से अयोध्या के साधु-संतों में खासा रोष है. साधु-संतों ने इस घटना को पालघर पार्ट-2 बताया है. और घटना को लेकर राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) और कांग्रेस पर तीखा हमला बोला.

तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास ने राजस्थान की घटना को लेकर राहुल, प्रियंका और सोनिया गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि ये लोग इसलिए पालघर और करौली की घटना का विरोध नहीं कर रहे हैं, क्योंकि दोनों जगहों पर सरकार इनकी है.

'यूपी में आकर चिल्लाने वाले कहां गये?'



हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने कहा कि राजस्थान के करौली में पुजारी की निर्मम हत्या कर दी गई. इस घटना पर टुकड़े-टुकड़े गैंग, सोनिया सेना, राहुल बाबा, जैन के बाबा और वैसे लोग जो उत्तर प्रदेश में आकर चिल्लाते थे, कहां चले गए. क्या साधु की हत्या हत्या नहीं है. ये पालघर पार्ट-2 है. इसका हम पुरजोर विरोध करते हैं.
पीड़ित परिवार के लिए मुआवजे और नौकरी की मांग 

महंत राजू दास ने इस मामले में केंद्र और राजस्थान सरकार से पीड़ित परिवार के लिए मुआवजे की मांग की. साथ ही मृतक पुजारी की बेटियां के लिए सरकारी नौकरी की भी मांग की.

उन्होंने कहा कि साधु की हत्या पर न कोई पहुंचेगा और न कोई बोलेगा. लेकिन अगर किसी मुस्लमान की हत्या हो गई होती, तो पूरे देश में आग लग जाती. पर साधु की हत्या हुई है तो सब मौन साधे हुए हैं. इस मामले में दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज