Home /News /uttar-pradesh /

bati chokha prasad is distributed in hanuman temple saryu river nodark

अजब-गजब: अयोध्या के इस मंदिर में प्रसाद के रूप में लड्डू-पेड़ा की जगह मिलता है बाटी-चोखा, जानिए क्‍यों?

अयोध्या में सरयू तट पर स्थित राजघाट में हनुमान जी का प्राचीन मंदिर है. इस मंदिर में प्रतिदिन बजरंग बली को बाटी और चोखा का भोग लगाया जाता है. साथ ही प्रसाद के रूप में भक्तों को बाटी और चोखा दिया जाता है. हालांकि राम नगरी के अन्‍य मंदिरों में लड्डू, पेड़ा और चरणामृत मिलता है.

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट-सर्वेश श्रीवास्तव

    अयोध्या. राम नगरी अयोध्या में हजारों मठ मंदिर हैं और सभी की अपनी अलग-अलग परम्पराएं हैं. ज्यादातर मंदिरों में प्रसाद के रूप में लड्डू, पेड़ा और चरणामृत मिलता है, लेकिन आज हम आपको एक ऐसे मंदिर के बारे में बताएंगे जहां प्रसाद के रूप में बाटी चोखा मिलता है. राम नगरी में सरयू तट पर स्थित राजघाट (Rajghat) पर एक हनुमान जी का प्राचीन मंदिर है. इस मंदिर में प्रतिदिन बजरंग बली को बाटी और चोखा का भोग लगाया जाता है. साथ ही प्रसाद के रूप में भक्तों को बाटी और चोखा बांटा जाता है. लगभग 5 वर्षों से इस मंदिर में ऐसी परंपरा चली आ रही है.

    इसके अलावा हर मंगलवार को विशेष धार्मिक आयोजन होते हैं, जहां सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु बाटी चोखा का प्रसाद ग्रहण करने के लिए उपस्थित होते हैं. शुद्ध सात्विक बाटी और बिना लहसुन प्याज के चोखा बनाया जाता है. श्रद्धालु बताते हैं कि महावीर के भोग लगने के बाद प्रसाद दिव्य हो जाता है.

    वहीं, बाटी बाबा बताते हैं कि पहले हम बालू के घाटों पर रहे और जो भी भक्त आते थे हम उनको बाटी और चोखा खिलाते थे. धीरे-धीरे समय बीतता गया और श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ती गई, जिसका प्रत्यक्ष उदाहरण आप के सामने है. इसमें बजरंग बली बाबा का पूर्ण आशीर्वाद है. महावीर जी को भाटी चोखे का भोग लगता है और सभी भक्त लोग प्रसाद के रूप में इसे ग्रहण करते हैं.

    यहां स्थित है मंदिर
    सरयू तट पर स्थित राजघाट जहां बजरंग बली का एक मंदिर है. प्रतिदिन यहां बजरंगबली को बाटी चोखे का भोग लगाया जाता है और श्रद्धालुओं को बाटी चौकी का प्रसाद दिया जाता है.

    Ayodhya news

    Tags: Ayodhya latest news, Ayodhya Mandir, Hanuman Temple

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर