होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /UP: नवरात्रि से पहले अयोध्या में बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहे 300 परिवार, धरने पर बैठे BJP पार्षद

UP: नवरात्रि से पहले अयोध्या में बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहे 300 परिवार, धरने पर बैठे BJP पार्षद

Ayodhya News: पार्षदों के धरने की सूचना पर आनन-फानन में पहुंचे अपर नगर आयुक्त शशिभूषण राय ने कहा कि अयोध्या में बहुत सा ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट- सर्वेश श्रीवास्तव

अयोध्या: भगवान राम की नगरी अयोध्या में पानी समस्या को लेकर भाजपा के पार्षद अपने ही पार्टी के खिलाफ धरने पर बैठ गए हैं. इतना ही नहीं जलकल के अधिशासी अभियंता के खिलाफ भाजपा के पार्षदों ने जमकर नारेबाजी भी कर रहे हैं. पार्षदों ने अधिशासी अभियंता जलकल पर उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए समस्या के समाधान के प्रति सुनवाई ना करने को लेकर नाराजगी जताई है.

वहीं नगर निगम के पार्षदों का दावा है कि कई क्षेत्रों में जलपूर्ति बाधित है और जल समस्या के निदान के लिए लगातार केवल आश्वासन ही दिया जा रहा है. जबकि स्थानीय जनता परेशान है. भाजपा के सीता कुंड के पार्षद विनय जायसवाल समेत कई पार्षद धरने पर बैठे हुए हैं. उधर, अधिशासी अभियंता जलकल ने भी पार्षदों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. नगर निगम की अधिशासी अभियंता जलकल ने पार्षदों पर धन उगाही का आरोप लगाया है जिसके बाद पार्षद और भी ज्यादा नाराज हुए और पार्षदों ने कार्रवाई की मांग की है.

बीजेपी पार्षदों की नहीं सुन रहे अधिकारी
रामनगरी में नगर निगम की कमान बीजेपी के हाथ में है. महापौर बीजेपी से हैं और उन्हीं के राज में भाजपा के ही पार्षदों की नहीं सुनी जा रही है. इतना ही नहीं अधिकारी समस्याओं को सुनकर अनसुना कर देते हैं. कई महीनों से लगातार जलापूर्ति की समस्याओं से परेशान पार्षदों ने नगर निगम के जोन कार्यालय के सामने स्थित जलकल पर ही धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया और जलकल के अधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की है. पार्षदों ने जलकल अधिशासी अभियंता पर मनमानी का आरोप लगाया है किसी भी समस्या का जल आपूर्ति से संबंधित समाधान नहीं हो रहा है.

रामनगरी में 300 घर हैं प्यासे
सीताकुंड वार्ड के बीजेपी पार्षद विनय जायसवाल का आरोप है कि, हमारे वार्ड में विगत 6 महीने से पानी नहीं आ रहा है. जिसको लेकर कई बार लिखित में जलकल में शिकायत कराई है. यहां पर जलकल जेइ का तानाशाह रवैया चलता है. पार्षदों ने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि, इस जलकल पर जब से नई अधिशासी अभियंता आई है. तब से सारी व्यवस्थाएं ध्वस्त हो गई हैं. पार्षदों ने कहा कि, लगभग 300 परिवार पेयजल की समस्या से महज सीताकुंड वार्ड में ही परेशान हैं. इसलिए अनशन करना पड़ रहा है.वहीं अधिशासी अभियंता के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि, धन उगाही का आरोप वह अपने बचाव में लगा रही हैं

जल्द ही होगा समस्या का निवारण
पार्षदों के धरने की सूचना पर आनन-फानन में पहुंचे अपर नगर आयुक्त शशिभूषण राय ने कहा कि अयोध्या में बहुत सारी विकास की योजनाएं चल रही हैं और कई सारे विभाग विकास की योजनाओं को करवा रहे हैं. इसमें प्रमुख रूप से बिजली विभाग और जल निगम के द्वारा काम किया जा रहा है. जिसकी वजह से पेयजल सप्लाई की लाइन है बाधित हो गई है. नगर निगम से वार्ता करके विभागों से सामंजस्य बिठाकर जल्द से जल्द पेयजल की समस्या का निदान करने का प्रयास किया जा रहा है.

वहीं पार्षदों पर उगाही आरोप लगाने वाले मामले पर अपर नगर आयुक्त ने कहा कि यह आरोप लगाने वाला मामला गलत है और इस पर कार्रवाई होगी.

Tags: Ayodhya News, Drinking Water, Smart City Project

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें