होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

Janmashtami 2022: लड्डू गोपाल के जन्मदिवस पर व्रत का खास महत्व, हर कष्ट के लिए है अलग मंत्र

Janmashtami 2022: लड्डू गोपाल के जन्मदिवस पर व्रत का खास महत्व, हर कष्ट के लिए है अलग मंत्र

कृष्ण जन्माष्टमी पर किए गए व्रत का है खास महत्व.

कृष्ण जन्माष्टमी पर किए गए व्रत का है खास महत्व.

Ayodhya News: शास्त्रों में इस व्रत की महिमा का गुणगान किया गया है. इसे एक हजार एकादशी व्रत के बराबर माना जाता है. साथ ही यह व्रत करने से सभी पापों से मुक्ति मिलती है, सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं.

हाइलाइट्स

कृष्ण जन्माष्टमी पर अयोध्या में खास तैयारी.
पुराणों के अनुरा कृष्ण मंत्र के जाप से दूर होती है बाधाएं.

सर्वेश श्रीवास्तव

अयोध्या. द्वापर युग के नायक भगवान श्रीकृष्ण का जन्म भादो माह यानी अगस्त महीने में कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को हुआ था. इस दिन को सनातन धर्म के लोग श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के रूप में मनाते हैं. मठ-मंदिरों में भगवान कृष्ण के भजन कीर्तन और झांकियां सजाई जाती हैं. कृष्ण भक्त इस दिन श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का व्रत रखते हैं और रात्रि 12:00 बजे भगवान लड्डू गोपाल का पूजन-अर्चन करते हैं.

वहीं शास्त्रों में इस व्रत की महिमा का गुणगान किया गया है. इसे एक हजार एकादशी व्रत के बराबर माना जाता है. साथ ही यह व्रत करने से सभी पापों से मुक्ति मिलती है, सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं. ज्योतिषाचार्यों का कहना है कि जन्माष्टमी के दिन भगवान श्रीकृष्ण के मंत्रों का जाप करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं.

इन मंत्रों का करना चाहिए जाप
ज्योतिषाचार्य पंडित कल्कि राम बताते हैं कि, श्रीकृष्ण जन्माष्टमी में भगवान कृष्ण से संबंधित मंत्रों का जाप करने से अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है. साथ ही सभी मनोकामनाएं भगवान लड्डू गोपाल पूरी करते हैं.

रुके हुए काम बनाने के लिए
मंत्र-
ॐ श्रीं नम: श्रीकृष्णाय परिपूर्णतमाय स्वाहा

यदि कोई कार्य लंबे समय से रुका हुआ है. तो भगवान श्रीकृष्ण के इस मंत्र का जाप करना चाहिए.जाप से सभी मनोकामनाएं पूरी होता हैं.

संतान प्राप्ति के लिए
मंत्र-
देवकी सुत गोविंद वासुदेव जगत्पते, देहिमे तनयं कृष्ण त्वामहं शरणं गतः

पति-पत्नी मिलकर जन्माष्टमी के दिन इन मंत्रों का जाप करें और प्रभु से कामना पूर्ति की प्रार्थना करें.

शीघ्र विवाह के लिए
मंत्र-
ओम् क्लीं कृष्णाय गोविंदाय गोपीजनवल्ल्भाय स्वाहा.

यदि विवाह में देरी हो रही है, तो जन्माष्टमी के दिन से इस मंत्र का जाप शुरू कर देना चाहिए.

करियर में सफलता के लिए
मंत्र-
गोवल्लभाय स्वाहा

इस मंत्र का बहुत बड़ा महत्व होता है. इस मंत्र का जाप करने से व्यक्ति अर्श से फर्श तक पहुंच सकता है. मंत्र का जाप करने से संपूर्ण सिद्धियों की प्राप्ति होती है.

सभी बाधाओं को हटाने के लिए
मंत्र-
कृं कृष्णाय नमः

इस मंत्र का जाप करने से सभी बाधाओं से मुक्ति मिल जाती है.


नोट:
यहां दी गई जानकारी मान्यताओं पर आधारित.

Tags: Ayodhya News, Sri Krishna Janmashtami

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर