CM योगी आदित्यनाथ बोले- 5 शताब्दियों बाद पूरा हुआ 'राम मंदिर' का सपना
Ayodhya News in Hindi

CM योगी आदित्यनाथ बोले- 5 शताब्दियों बाद पूरा हुआ 'राम मंदिर' का सपना
पांच शताब्दियों बाद पूरा हुआ 'राम मंदिर' का सपना

सीएम योगी (CM Yogi Adityanath) ने कहा कि इस घड़ी की प्रतीक्षा में हम सबकी कई पीढ़ियां चली गईं. पूज्य संतों ने अनेक महापुरुषों ने, अनेक वीरांगनाओं ने अपना बलिदान दिया

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 5, 2020, 2:44 PM IST
  • Share this:
अयोध्या. उत्तर प्रदेश के अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर भूमि पूजन (Ram Mandir Bhumi Pujan) कार्यक्रम संपन्न हो गया है. इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने संबोधित करते हुए कहा कि पांच शताब्दियों बाद राम मंदिर का सपना पूरा हुआ है. जिसे अवधपुरी को अहसास करने के लिए पांच शताब्दियां लग गईं. 135 करोड़ भारतवासियों को और पूरे विश्व के लोगों व नागरिकों की भावनाओं का मूर्तरूप देने का अवसर जिस महानुभाव के कारण प्राप्त हुआ वह है भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

सीएम योगी ने कहा कि इस घड़ी की प्रतीक्षा में हम सबकी कई पीढ़ियां चली गईं. पूज्य संतों ने अनेक महापुरुषों ने, अनेक वीरांगनाओं ने अपना बलिदान दिया. उन्होंने कहा कि एक ही तमन्ना लेकर के अपने आंखों के सामने ब्रह्मांड नायक मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण को हम अपनी आंखों से देख सकें. उन्होंने कहा कि भारत के लोकतांत्रिक मूल्यों, न्यायपालिका और कार्यपालिका की ताकत शांतिपूर्ण ढंग से, लोकतांत्रिक पद्धति से और संविधान सम्मत तरीके से समस्याओं का समाधान कैसे हो सकता है, आदरणीय प्रधानमंत्री ने दुनिया की सभी ताकतों को इस बात का अहसास कराया है.


कार्यक्रम को संबोधन करते हुए सीएम योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, हमारे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संचालक मोहन भागवत और पूज्य महंत नृत्य गोपाल दास महाराज. देश के समस्त संत और इस कार्यक्रम के उपस्थिल अतिथिगण की प्रणाम और उनका स्वागत करता हूं.



ये भी पढे़ं- राम मंदिर भूमि पूजन: भावुक होकर रो पड़े गोरखपुर के BJP सांसद रवि किशन

बता दें कि पीएम मोदी ने एक नया इतिहास भी रच दिया. आजादी के बाद यह पहला मौका था जब देश का कोई प्रधानमंत्री राम जन्मभूमि पहुंचा हो. वैसे मोदी से पहले इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री रहते अयोध्या पहुंचे थे, लेकिन कोई भी भूमि विवाद की वजह से इस जगह पर नहीं गए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज