घूस लेते रंगे हाथ पकड़े गए CMO अयोध्या डॉ. हरिओम श्रीवास्तव

CMO अयोध्या डॉ. हरिओम श्रीवास्तव

CMO अयोध्या डॉ. हरिओम श्रीवास्तव

एसपी विजिलेंस अखिलेश कुमार निगम का कहना है कि डॉ. सरोज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रानीबाजार में तैनात थे. जून महीने में सीएमओ ने उन्हें शाहगंज स्वास्थ्य केंद्र से भी संबद्ध कर दिया था.

  • Share this:
अयोध्या. अयोध्या के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. हरिओम श्रीवास्तव को विजिलेंस टीम ने शुक्रवार शाम 20 हजार घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है. विजिलेंस टीम ने सीएमओ को उनके आवास से गिरफ्तार किया. जानकारी के मुताबिक डॉ. श्रीवास्तव पर उनके अधीन एक चिकित्सक डॉ. वीपी सरोज ने संबद्धता समाप्त करने के लिए 40 हजार रुपये घूस लेने का आरोप लगाया है. सीएमओ को गिरफ्तार लिए जाने की सूचना पाकर बड़ी संख्या में चिकित्सक व स्वास्थ्यकर्मी भी कोतवाली नगर पहुंचे.



एसपी विजिलेंस अखिलेश कुमार निगम का कहना है कि डॉ. सरोज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रानीबाजार में तैनात थे. जून महीने में सीएमओ ने उन्हें शाहगंज स्वास्थ्य केंद्र से भी संबद्ध कर दिया था. सप्ताह में तीन दिन उन्हें शाहगंज व तीन दिन रानीबाजार जाना पड़ता था. दूरी ज्यादा होने की वजह से डॉ. सरोज अपनी संबद्धता समाप्त कराना चाहते थे, जिसके लिए उन्होंने कई बार सीएमओ से कहा.



आरोप है कि संबद्धता समाप्त करने के लिए सीएमओ ने 40 हजार रुपये की मांग की. इसकी शिकायत डॉ. सरोज ने इसी माह विजिलेंस विभाग से की. विजिलेंस ने जांच कराई तो सीएमओ की छवि खराब पाई गई. घूस की रकम में से 20 हजार रुपये लेकर डॉ. सरोज सीएमओ से मिलने उनके आवास पहुंचे. रुपये लेते ही विजिलेंस टीम ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया.





जिलाधिकारी अनुज झा व एसएसपी आशीष तिवारी ने भी कोतवाली पहुंच प्रकरण के बारे में पूरी जानकारी हासिल की. वहीं डीएम व एसएसपी की मौजूदगी में सीएमओ व शिकायतकर्ता से पूछताछ की.
ये भी पढ़ें:



नोएडा व यमुना एक्सप्रेस-वे की जमीन बताकर करोड़ों की ठगी, एक गिरफ्तार



पत्नी ने लगाया AMU के प्रोफेसर पर उत्पीड़न कर तीन तलाक देने का आरोप



योगी के मंत्री पर पत्नी ने लगाया अवैध संबंध रखने का आरोप, बोलीं- रसूख के चलते दर्ज नहीं हो रही FIR



 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज