अपना शहर चुनें

States

Ayodhya Ram Mandir: 15 दिसंबर के बाद शुरू होगी नींव की खुदाई, दो दिवसीय बैठक खत्म

15 दिसंबर के बाद शुरू होगी नींव की खुदाई
15 दिसंबर के बाद शुरू होगी नींव की खुदाई

राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष महंत गोविंद देव गिरि ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) अयोध्या को वैदिक सिटी बनाना चाहते हैं.

  • Share this:
अयोध्या. उत्तर प्रदेश के अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण के लिए नींव का काम 15 दिसंबर के बाद खुदाई का काम शुरू ही जायेगा. बताया जा रहा है कि 15 दिसंबर तक तकनीकी विशेषज्ञ ट्रस्ट व समिति को अपनी रिपोर्ट सौप देंगे. राम मंदिर निर्माण समिति की दो दिवसीय बैठक में मंदिर के निर्माण कार्य को लेकर गहन मंथन हुआ. इस दौरान निर्माण कार्य से जुड़ी एजेंसियों के प्रमुख के साथ श्रीराम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्र भी थे.

मंदिर निर्माण समिति ने टीम के साथ रामजन्मभूमि परिसर में निर्माण की तैयारियों का जायजा लिया. मंगलवार को बैठक में टेस्ट पाइलिंग की जांच से संबंधित रिपोर्ट के साथ मंदिर की नींव की मजबूती के लिए गहन विचार-विमर्श किया गया. राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरी महाराज ने कहा कि 67 एकड़ के बाहर राम मंदिर की भव्यता के अनुरूप विकास कार्य किये जायेंगे. अयोध्या जिला प्रशासन के साथ सामंजस्य बनाकर ट्रस्ट राम मंदिर का निर्माण करवाएगा.

सीएम योगी कल जाएंगे गोरखपुर, यूपी के पहले 'सल्फरलेस' शुगर प्लांट का करेंगे उद्घाटन



राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष महंत गोविंद देव गिरि ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या को वैदिक सिटी बनाना चाहते हैं, जो स्वागत योग्य व सराहनीय है. इस दौरान राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्र व ट्रस्ट के पदाधिकारी व सदस्यों ने राम जन्मभूमि परिसर में राम मंदिर निर्माण के प्रगति का जायजा भी लिया. माना जा रहा है कि राम मंदिर की नींव भरने का काम 15 दिसंबर को मिलने वाली रिसर्च रिपोर्ट के बाद शुरू हो जाएगा. इसके साथ ही अप्रैल तक नींव के पिलर बनाने का लक्ष्य है. राम मंदिर निर्माण को लेकर ट्रस्ट लगातार इजीनियरों के साथ बैठक कर रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज