होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Ganesh Chaturthi: गणेश विसर्जन के दौरान भूलकर भी ना करें ऐसी गलती, जानें क्‍या हैं नियम?

Ganesh Chaturthi: गणेश विसर्जन के दौरान भूलकर भी ना करें ऐसी गलती, जानें क्‍या हैं नियम?

गणपति बप्पा को विदा करने से क्षमा याचना जरूर कर लें.

गणपति बप्पा को विदा करने से क्षमा याचना जरूर कर लें.

Ganesh Chaturthi 2022: गणेश उत्सव की धूम इन दिनों पूरे देश में है. जबकि इस बार 9 सितंबर को अनंत चतुर्दशी के दिन गणपति क ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट: सर्वेश श्रीवास्तव

    अयोध्या. गणेश चतुर्थी से गणपति बप्पा हर घर में विराजमान हैं. स्थापना के साथ ही गणेश भगवान की पूजा-अर्चना की जा रही है. वहीं, 10 दिनों के बाद ये उत्सव बप्पा मोरया के विसर्जन के साथ समाप्त होता है. इस बार 9 सितंबर को अनंत चतुर्दशी के दिन गणपति का विसर्जन होगा. क्या आपको पता है भगवान गणेश को विसर्जन करने से पहले कुछ नियम अवश्य करने चाहिए. अगर नहीं पता तो आज हम आपको वही नियम बताने जा रहे हैं.

    ज्योतिषाचार्य पंडित कल्कि राम बताते हैं कि गणेश पूजन का महापर्व काल चल रहा है. गणेश विसर्जन के समय एक बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए. गणेश विसर्जन के दौरान जब घर से निकलें तब एक व्यक्ति घर पर मौजूद होना चाहिए. जब तक विसर्जन करने गए घर के लोग वापस ना आ जाएं, तब तक घर का दरवाजा बंद नहीं करना चाहिए.

    आपके शहर से (अयोध्या)

    अयोध्या
    अयोध्या

    विसर्जन से पहले इस बात का रखें ध्यान
    ज्योतिषाचार्य पंडित कल्कि राम बताते हैं कि भगवान गणेश की मूर्ति को विसर्जित करने से पहले उनकी पूजा आराधना जरूर करनी चाहिए. उनसे माफी मांगनी चाहिए कि हे गणपति भगवान 10 दिनों तक आप हमारे घरों में विराजमान रहे. हमसे कोई गलती हुई हो तो हमें क्षमा करें.

    गणपति बप्पा को ऐसे करें प्रसन्न
    गणपति बप्पा विघ्नहर्ता भी हैं और विघ्न कर्ता भी हैं. विसर्जन करने से पहले आरती उतारनी चाहिए.धूप अगरबत्ती जलानी चाहिए. इसके बाद हाथ जोड़कर गणपति बप्पा की आराधना करनी चाहिए. इसके साथ चंदन, कुमकुम,अक्षत, जलपान, सुपारी, दूर्वा इत्यादि को अर्पित करना चाहिए.

    (नोट- यहां दी गई जानकारी मान्यताओं पर आधारित है NEWS 18 LOCAL इसकी पुष्टि नहीं करता.)

    Tags: Ayodhya News, Ganesh Chaturthi, Ganesh Chaturthi History

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें