अयोध्या: CM योगी रामलला मंदिर परिसर में जलाए जाएंगे घी के दीपक, टीवी पर होगा सीधा प्रसारण

अयोध्या में दीपोत्सव. (फाइल फोटो).
अयोध्या में दीपोत्सव. (फाइल फोटो).

इस दीपोत्सव अयोध्या (Ayodhya) में सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) रामलला मंदिर परिसर में देशी के दीपक जलाएंगे. इसका टेलिविजन (Television) पर सीधा प्रसारण किया जाएगा. रामलाल जन्मभूमि अखाड़े ने इसकी सारी तैयारियों को पूरा कर लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2020, 8:47 PM IST
  • Share this:
अयोध्या. अयोध्या (Ayodhya) में चौथे दीपोत्सव की तैयारी जोर-शोर से चल रही है. इस ऐतिहासिक आयोजन को और भव्य और दिव्य इसलिए बनाया जा रहा है क्योंकि अयोध्या विवाद पर फैसला आने के बाद यह पहला दीपोत्सव है. साथ ही राम मंदिर(Ram Temple) निर्माण शुरू होने के बाद पहली बार पहली बार भव्य दीपोत्सव (Deepotsav) होगा.

इस बार दीपोत्सव पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रामलला मंदिर परिसर में देशी घी के दीपक जलाएंगे. इसके लिए राम जन्मभूमि अखाड़ा परिसर ने लगभग सारी तैयारियां पूरी कर ली हैं. इस बार गोबर से निर्मित 11 हजार दीपक राम जन्म भूमि परिसर में जलाए जाएंगे, हालांकि इस दीपोत्सव में आमजन को शामिल होने की अनुमति नहीं है, लेकिन इस बार का दीपोत्सव बेहद खास है और इसको भव्यता के साथ मनाने के लिए जिला प्रशासन ने पूरी ताकत झोंक दी है. अयोध्या के प्रवेश द्वार पर भव्य गेट बनाए जा रहे हैं. यह गेट दीपोत्सव स्थल में जाएंगे.

दिवाली से पहले CM योगी ने यूपी की जनता से की यह खास अपील, आप भी जानें



गेट पर की गई लाइट लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र होंगी. पूरी अयोध्या को दुल्हन की सजाने-सवारने का काम तेजी के साथ किया जा रहा है. राम कथा पार्क दीपोत्सव स्थल और राम की पैड़ी पर दीपोत्सव का मुख्य आयोजन होगा, वहां पर 70 फीसदी से ज्यादा कार्य पूर्ण कर लिया गया है. नगर भ्रमण पर निकलने वाली झांकी का भी 75 कीर्ति काम पूरा कर लिया गया है.
पिछले साल की तुलना में इस बार का दीपोत्सव बेहद भव्य और खास है क्योंकि राम मंदिर निर्माण का कार्य शुरू होने के बाद यह पहला दीपोत्सव है. ऐसे में प्रशासनिक तैयारियां तेजी के साथ पूरी की जा रही हैं, लेकिन कोविड-19 प्रोटोकॉल भी चल रहा है. ऐसे में लोगों को सतर्क और जागरूक करते हुए काम कराया जा रहा है. दीपोत्सव में केवल पास धारकों को जाने की अनुमति दी जा रही है. योगी सरकार चौथा दीपोत्सव बना रही है और राम मंदिर के साथ यह पहला दीपोत्सव है.

अयोध्या के प्रवेश पर लगे बड़े द्वार
अयोध्या के प्रवेश द्वार पर बड़े-बड़े गेट लगाए गए हैं, जो आपको सीधे दीपोत्सव स्थल तक ले जाएंगे. इनके ऊपर की गई लाइटिंग आकर्षण का केंद्र होगी. लोग अपने घरों में बैठकर दीपोत्सव का सीधा प्रसारण देख सकेंगे. साथ ही एलईडी के माध्यम से पूरे नगर में लोगों को दीपोत्सव दिखाने की तैयारी की जा रही है. दीपोत्सव स्थल राम कथा पार्क की अगर बात की जाए तो वहां पर 80% कार्य पूरा हो चुका है. राम कथा वह स्थल है जहां पर भगवान राम पुष्पक विमान से माता सीता और भैया लक्ष्मण के साथ पहुंचेंगे. यहां पर मुख्यमंत्री उनकी अगवानी करेंगे. राम कथा पार्क में ही भगवान राम का राम राज्यभिषेक किया जाएगा.



यहीं पर प्रदेश में चल रही विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे. राम कथा पार्क में इस बार विदेशी रामलीला का मंचन नहीं होगा. कोविड-19 के कारण विदेश से मेहमान नहीं आएंगे मीडिया और मेहमानों को बैठने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के साथ क्षमता से आधे पास जारी किए जाएंगे, जिससे कि कोविड-19 प्रोटोकॉल पूरा हो सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज