Home /News /uttar-pradesh /

अयोध्या की सुरक्षा के लिए तैयार होगा हाईटेक सुरक्षा प्लान, दर्शन अवधि बढ़ेगी और बनेंगे नए मार्ग

अयोध्या की सुरक्षा के लिए तैयार होगा हाईटेक सुरक्षा प्लान, दर्शन अवधि बढ़ेगी और बनेंगे नए मार्ग

राम जन्मभूमि परिसर की सुरक्षा पर अहम बैठक में एडीजी जोन एसएन साबत पहुंचे.

राम जन्मभूमि परिसर की सुरक्षा पर अहम बैठक में एडीजी जोन एसएन साबत पहुंचे.

Ram Janmabhoomi Temple Security Plan: अयोध्या की सुरक्षा को लेकर नए सिरे से खाका खींचा जा रहा है. इसमें राम जन्मभूमि परिसर के साथ- साथ सभी प्रमुख मंदिरों और पंचकोसी परिक्रमा मार्ग की परिधि के भीतर तक के दायरे को शामिल किया गया है. ऐसा पहली बार हुआ है कि राम जन्मभूमि की सुरक्षा को लेकर होने वाली सुरक्षा परिषद की बैठक में एक विस्तृत सुरक्षा प्लान पर चर्चा हुई है.

अधिक पढ़ें ...

अयोध्या. अयोध्या (Ayodhya) की सुरक्षा को लेकर नए सिरे से खाका खींचा जा रहा है. इसमें राम जन्मभूमि (Ram Janmabhoomi) परिसर के साथ- साथ सभी प्रमुख मंदिरों और पंचकोसी परिक्रमा मार्ग की परिधि के भीतर तक के दायरे को शामिल किया गया है. ऐसा पहली बार हुआ है कि राम जन्मभूमि की सुरक्षा को लेकर होने वाली सुरक्षा परिषद की बैठक में एक विस्तृत सुरक्षा प्लान पर चर्चा हुई है. इसमें पर्यटकों और दर्शनार्थियों की लगातार बढ़ती संख्या को देखते हुए रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के पदाधिकारियों के साथ उच्च अधिकारियों ने गहन मंत्रणा की. इसी के साथ रामजन्मभूमि मंदिर में दर्शन अवधि बढ़ाने और आवागमन के लिए अन्य मार्ग निर्माण करने को लेकर भी ट्रस्ट को सुझाव दिए गए हैं.

दरअसल, पहले राम जन्मभूमि परिसर की सुरक्षा का मूल बिंदु वह अस्थाई राम मंदिर था जहां भगवान राम लला विराजमान हैं, लेकिन अब जहां भव्य राम जन्मभूमि मंदिर बन रहा है उस स्थल की सुरक्षा के साथ-साथ पूरी राम जन्म भूमि परिसर की सुरक्षा के लिए एक बृहद प्लान तैयार किया जा रहा है. इसमें दर्शनार्थियों की बढ़ती संख्या का विशेष ध्यान रखा जा रहा है, जिससे बिना किसी परेशानी के सुरक्षित दर्शन, सुरक्षा जांच के लिए अत्याधुनिक उपकरणों का इस्तेमाल, पूरे राम जन्मभूमि परिसर पर निगाह रखने के लिए उपकरणों का इंस्टॉलेशन, एक अत्याधुनिक और हाईटेक कंट्रोल रूम की स्थापना करने की तैयारी है. सुरक्षा व्यवस्था में ऐसा लचीलापन जिससे समय-समय पर उसे आसानी से अपग्रेड किया जा सके. यही नहीं सुरक्षा व्यवस्था के इस नए प्लान में 2023 के अंत में जब स्थाई राम मंदिर में पूजा अर्चना शुरू होगी उस समय दर्शनार्थियों की बढ़ी संख्या और उसके मुताबिक सुरक्षा प्लान को लगातार अपग्रेड करने की सोच भी शामिल है.

राम जन्मभूमि परिसर से सुरक्षा पर अहम बैठक के बाद निकले एडीजी जोन एसएन साबत ने कहा कि अयोध्या की सुरक्षा हमारे लिए हमेशा महत्वपूर्ण रही है. एक मैक शिफ्ट मंदिर में राम लला विराजमान हैं और साथ-साथ मंदिर का कंट्रक्शन भी चल रहा है, यह जाहिर सी बात है कि दोनों जगह की सुरक्षा हमारे लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है. वहां पर सुरक्षा का स्ट्रक्चर हम लोग किस प्रकार इनबिल्ट कर सकते हैं उसके सिस्टम में उसके बारे में हम लोग प्लान बना रहे हैं. योजना बना रहे हैं उसके साथ साथ जो हमारा निर्माण कार्य चलेगा उसी के दौरान विशेष ध्यान रखने के लिए किस प्रकार का गैजेट्स इस्तेमाल होगा. उसके बारे में ट्रस्ट के लोगों के साथ उच्चाधिकारियों का विचार विमर्श हुआ है.

राम जन्मभूमि परिसर के अपग्रेडेड सुरक्षा प्लान को लेकर डीजीपी यूपी मुकुल गोयल और सुरक्षा से जुड़े उच्च अधिकारियों के साथ राम मंदिर ट्रस्ट के पदाधिकारियों की लंबी बैठक चली. इसमें दर्शनार्थियों की बढ़ती संख्या और नए सुरक्षा प्लान को लेकर गहन मंत्रणा हुई. उच्च अधिकारियों ने राम मंदिर ट्रस्ट को दर्शनार्थियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए दर्शन अवधि बढ़ाने के लिए कहा. इसी के साथ राम जन्मभूमि मंदिर में दर्शन मार्ग बढ़ाने को लेकर भी गहन विचार विमर्श हुआ. बताया जाता है कि दर्शनार्थियों के सुगमता पूर्वक दर्शन के लिए दर्शन की समय अवधि बढ़ाने और एक से अधिक दर्शन मार्ग खोलने को लेकर सहमति बन चुकी है और इस पर शीघ्र ही अमल भी शुरू हो जाएगा.

Tags: Ayodhya City News, Ayodhya News, UP news, Up news today hindi

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर