UP में आम आदमी पार्टी ने उठाया Lockdown में स्कूल फीस माफी का मुद्दा, सरकार से की ये मांग
Ayodhya News in Hindi

UP में आम आदमी पार्टी ने उठाया Lockdown में स्कूल फीस माफी का मुद्दा, सरकार से की ये मांग
आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने अयोध्या जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर 3 महीने की फीस माफ करने की मांग की.

आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने अयोध्या (Ayodhya) जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर स्कूलों में 3 महीने की फीस माफ करने की मांग की.

  • Share this:
अयोध्या. उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) ने प्राइवेट स्कूलों के फीस (Private School Fee) को लेकर मुद्दा बना लिया है. आज प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर आम आदमी पार्टी के नेताओं ने मुख्यमंत्री के नाम संबोधित जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा, जिसमें लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान 3 महीने की फीस माफ करने की मांग की गई. आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने अयोध्या जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर 3 महीने की फीस माफ करने की मांग की.

अभिभावक असमर्थ हैं, स्कूल बना रहे दबाव- सभाजीत सिंह

इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना के कारण लगभग पिछले 3 माह से देशभर में लॉकडाउन के कारण लोगों के कारोबार प्रभावित हुए इन परिस्थितियों में लोगों को परिवार चलाने में भी बहुत सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. ऐसी परिस्थिति में अभिभावक अपने बच्चों की फीस दे पाने में पूरी तरीके से असमर्थ हैं. ऐसी भी शिकायतें प्रकाश में आई हैं कि बच्चों की फीस न जमा करने के कारण स्कूलों से नाम काटे जा रहे हैं और उन पर फीस जमा करने के लिए निजी स्कूलों द्वारा दबाव डाला जा रहा है. ऐसी स्थिति में बच्चों की फीस 3 माह के लिए माफ की जानी चाहिए. वहीं दूसरी तरीके से भी निजी स्कूल अभिभावकों का शोषण कर रहे हैं, इस पर भी अंकुश लगाया जाना चाहिए.



ज्ञापन में 8 प्रमुख मांग
ज्ञापन में लिखा है कि आम आदमी पार्टी कुछ प्रमुख बिंदुओं पर आपका ध्यान आकर्षित करना चाहती है और इस समस्या के समाधान के लिए आवश्यक निर्देश देने की मांग करती है.

1- देशभर में लॉक डाउन के कारण अभिभावक आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं लोगों को परिवार चलाने का संकट है, ऐसे में बच्चों की 3 माह (अप्रैल, मई, जून) की फीस माफ की जाए.

2- निजी स्कूल हर वर्ष फायदे में रहते हैं. ऐसे में पूर्व की बचत से निजी स्कूलों के टीचर व अन्य कर्मचारियों को पूरी सैलरी दी जाए.

3- प्रदेश के सभी निजी स्कूलों में NCERT का पाठ्यक्रम की किताबों द्वारा ही पढ़ाया जाए.

4- छोटे बच्चों की ऑनलाइन क्लास पर रोक लगाई जाए क्योंकि यह सिर्फ फीस वसूलने का माध्यम है. इससे बच्चों का कोई भला होने वाला नहीं है.

5- सभी निजी स्कूलों में अभिभावक संघ का गठन किया जाए. बिना अभिभावकों की सहमति से प्रतिवर्ष फीस बढ़ाने की प्रक्रिया पर रोक लगाई जाए.

6- बच्चों से एक ही विद्यालय में प्रतिवर्ष री-एडमिशन फीस पर रोक लगाई जाए.

7- निजी स्कूलों के 3 वर्ष की बैलेंस शीट की जांच हो.

8- प्रदेश में कोरोना वायरस पर जब तक पूरी तरह से नियंत्रण न हो जाए, तब तक स्कूलों को खोलने पर रोक जारी रखी जाए.

आम आदमी पार्टी इन बिंदुओं पर जनहित में आप से समस्याओं के समाधान के लिए प्रभावी आदेश दिए जाने की मांग करती है.

ये भी पढ़ें:

आगरा एक्सप्रेसवे पर प्रवासी श्रमिकों से भरी बस पलटी, 41 घायल, 17 गंभीर

कोरोना संक्रमित 3 परिवार, 2 मां और एक पिता की दिल छूने वाली कहानी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज