लाइव टीवी

इकबाल अंसारी की मांग- अयोध्या में 5 एकड़ जमीन पर बने महिला अस्पताल और स्कूल!

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 17, 2020, 7:04 PM IST
इकबाल अंसारी की मांग- अयोध्या में 5 एकड़ जमीन पर बने महिला अस्पताल और स्कूल!
बाबरी मस्जिद पक्षकार इकबाल अंसारी

बाबरी पक्षकार इकबाल अंसारी (Iqbal Ansari) ने यह भी कहा कि 'टेलीविजन और रेडियो के माध्यम से यह पता लगता रहता है कि जमीन चिन्हित है. लेकिन कहां है ? यह नहीं पता और न ही अभी तक किसी सरकारी अधिकारी ने हम लोगों से संपर्क किया है.

  • Share this:
अयोध्या. राम जन्मभूमि विवाद (Ram janmabhoomi) पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मुस्लिम समाज को दी जाने वाली पांच एकड़ जमीन को लेकर बाबरी मस्जिद (Babri Masjid) के पक्षकार इकबाल अंसारी (Iqbal Ansari) ने सरकार से मांग की है कि फैसले के बाद जिस पांच एकड़ जमीन मुस्लिम समुदाय (Muslim community) को देने का वादा किया गया है वो जमीन अयोध्या (Ayodhya) में उनके घर के सामने ही दी जाए.

सौहार्द और एकता का संदेश
इकबाल अंसारी का कहना है कि ये जमीन उनके घर के सामने दिए जाने से पूरे देश में एक सौहार्द और एकता का संदेश जाएगा. इकबाल अंसारी ने कहा कि इस जमीन पर वह एक महिला हॉस्पिटल बनाएंगे और बच्चों को शिक्षा देने के लिए स्कूल बनाएंगे इसके साथ ही पास में ही स्थित बिजली शहीद की मजार और मस्जिद को ही विस्तार देकर उसे भव्य बनाएंगे. न्यूज़ 18 हिंदी से बातचीत में इकबाल अंसारी का कहना है कि राम जन्म भूमि मामले पर जो भी मसला था उस पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुना दिया है. कोर्ट ने जो भी जमीन दी है वह भी चिन्हित नहीं है ऐसे में हमारी यह मांग है कि राम मंदिर बने और मंदिर के साथ ही मस्जिद का भी निर्माण किया जाए.

नहीं पता कहां है जमीन!

इकबाल अंसारी ने कहा कि मेरे घर के सामने जो जमीन है उस पर मस्जिद भी है और मकबरा भी है. मैंने प्रस्ताव भी रखा था कि यहां पर एक हॉस्पिटल भी होना चाहिए तो मस्जिद को दी जाने वाली जमीन पर हम एक स्कूल और एक महिला हॉस्पिटल बनाएंगे और साथ ही मस्जिद का विस्तारीकरण कर दिया जाए. उन्होंने कहा अयोध्या धर्म की नगरी है यहां पर हिंदू और मुसलमान दोनों आते हैं. महिला अस्पताल और स्कूल में इलाज और शिक्षा हिंदू-मुसलमान सभी को मिलेगी. उन्होंने कहा हम सरकार से मांग करते हैं कि इस मसले पर इस तरीके से काम किया जाए कि हिंदू-मुसलिम एकता व सौहार्द पूरे देश में बना रहे.

बाबरी पक्षकार इकबाल अंसारी ने यह भी कहा कि 'टेलीविजन और रेडियो के माध्यम से यह पता लगता रहता है कि जमीन चिन्हित है लेकिन कहां है ? यह नहीं पता और न ही अभी तक किसी सरकारी अधिकारी ने हम लोगों से संपर्क किया है. हम चाहते हैं कि सबका भला हो,' साथ ही राम मंदिर निर्माण के लिए भी बनने वाले ट्रस्ट में न्यास अध्यक्ष नृत्य गोपाल दास को शामिल करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि हां यह बात सुनाई पड़ रही है और ये बहुत अच्छी बात है बाबरी मस्जिद और राम जन्म भूमि आंदोलन से जुड़े हुए अयोध्या के लोगों को ही ट्रस्ट में जगह मिले हमारी भी यही मांग है'.

ये भी पढ़ें- CAA Protest: एएमयू छात्रों ने बाब-ए-सैय्यद गेट पर पढ़ी जुमे की नमाज, देश में अमन-शांति की मांगी दुआ....

Sheroes Cafe की तर्ज पर वाराणसी में खुलेगा एसिड अटैक सर्वाइवर्स के लिए 'The Orange Cafe'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अयोध्या से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 17, 2020, 6:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर