रामनगरी अयोध्या में कांवड़ियों ने किया बवाल, मंदिर का गेट को तोड़ने की कोशिश की

राम नगरी अयोध्या में कांवड़ियों की भीड़ शाम से ही दिखने लगी है और भारी संख्या में कांवड़िए अयोध्या पहुंच रहे हैं और अयोध्या के शिवालयों में दर्शन-पूजन कर यहां से सरयू का जल लेकर अपने-अपने गंतव्य की ओर रवाना हो रहे हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 27, 2019, 12:17 AM IST
रामनगरी अयोध्या में कांवड़ियों ने किया बवाल, मंदिर का गेट को तोड़ने की कोशिश की
अयोध्या में कांवड़ियों का बवाल, मंदिर का गेट तोड़ने की कोशिश (फाइल फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 27, 2019, 12:17 AM IST
राम नगरी अयोध्या में कांवड़ियों की भीड़ शाम से ही दिखने लगी है और भारी संख्या में कांवड़िए अयोध्या पहुंच रहे हैं और अयोध्या के शिवालयों में दर्शन-पूजन कर यहां से सरयू का जल लेकर अपने-अपने गंतव्य की ओर रवाना हो रहे हैं. शुक्रवार को इसी क्रम में देर शाम प्रशासन की चाक-चौबंद व्यवस्था की पोल खुल गई जब नागेश्वरनाथ मंदिर के पट बंद होने के बाद कावरियों ने बवाल किया और मंदिर का गेट तोड़ने की कोशिश की. साथ ही वहां पर मौजूद लोगों के साथ धक्का-मुक्की भी की है.

कावड़िए मंदिर का पट खोलने के लिए दबाव बना रहे थे, जबकि मंदिर प्रशासन के अनुसार रात को 9:00 बजे भगवान को भोग लगाने और आरती करने के लिए गेट बंद किया गया है. आक्रोशित कांवड़ियों ने गेट को तोड़ने की तो मंदिर के अंदर मौजूद सेवकों ने गेट के अंदर से मोटी बल्ली लगाकर गेट को टूटने से बचाया और प्रशासन को सूचना दी. मौके पर देर से पहुंचे प्रशासन ने किसी तरह से स्थिति को संभाला. मंदिर प्रशासन ने प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया है.

27 जुलाई से 30 जुलाई तक विशेष पर्व के कारण रहेगी कांवड़ियों की भीड़
राम नगरी अयोध्या में 27 जुलाई से 30 जुलाई तक विशेष पर्व की वजह से कांवड़िए जलाभिषेक करने निकले हैं. अयोध्या के सरयू नदी से जल भरकर, दर्शन पूजन करके जल लेकर कांवड़िए अपने-अपने गंतव्य की ओर रवाना होंगे और वहां जल चढ़ाएंगे. इसी क्रम में शुक्रवार को हजारों की संख्या में श्रद्धालु देर शाम ही अयोध्या पहुंच गए और यहां पर दर्शन पूजन कर अपने-अपने गंतव्य के लिए जल लेकर रवाना होने लगे.

कांवड़ियों ने मंदिर के गेट पर धक्का-मुक्की की
अयोध्या के प्राचीन नागेश्वरनाथ मंदिर में भी कांवड़िए भारी संख्या में पहुंचे थे और शिव का दर्शन पूजन कर जल चढ़ाकर सरयू जल लेकर अपने गंतव्य की ओर रवाना होने के लिए तैयार थे लेकिन देर रात उस समय हड़कंप मच गया जब नागेश्वरनाथ मंदिर प्रशासन ने मंदिर में शयन आरती और भोग करने के लिए 9:00 बजे मंदिर का पट बंद कर दिया. इसके बाद हिंसक हुए कांवड़ियों ने मंदिर के गेट पर धक्का मुक्की की. साथ ही गेट तोड़ने की भी कोशिश की. इसके बाद मंदिर में मौजूद कर्मचारियों ने मोटी बल्ली लगाकर गेट को टूटने से बचाया. इस घटना ने पुलिस के दावों की पोल खोल के रख दी है.

ये भी पढ़ें -
Loading...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अयोध्या से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 27, 2019, 12:14 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...