अयोध्या में इस बार दो दिन मनाई जाएगी राम नवमी, जानिए पूजा विधि व मुहूर्त

राम जन्म भूमि के मुख्य पुजारी ने बताया कि कनक भवन में 13 अप्रैल को भगवान राम का जन्म मनाया जाएगा.

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 12, 2019, 4:49 PM IST
अयोध्या में इस बार दो दिन मनाई जाएगी राम नवमी, जानिए पूजा विधि व मुहूर्त
राम नवमी
News18 Uttar Pradesh
Updated: April 12, 2019, 4:49 PM IST
मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का जन्म इस बार दो दिन मनाया जाएगा. अयोध्या के मंदिरों में अलग-अलग दिन 13 अप्रैल व 14 अप्रैल को जन्म उत्सव होगा. भगवान श्री राम लला के जन्म स्थान रामजन्मभूमि परिसर में 14 अप्रैल को भव्य महोत्सव मनाए जाने की तैयारियां की जा रही हैं.

इस दिन राम लला की विशेष पूजा पंचामृत, इत्र और चंदन से होगी. साथ ही रामलला का स्नान होगा. नए वस्त्र रामलला धारण करेंगे. इसके अलावा मौसमी फल और व्यंजनों का भोग लगेगा. बता दें कि यह विशेष पूजन 9 दिनों तक चलती है.



राम जन्म भूमि के मुख्य पुजारी ने बताया कि कनक भवन में 13 अप्रैल को भगवान राम का जन्म मनाया जाएगा. उन्होंने कहा कि कड़ी सुरक्षा के बीच भगवान श्री राम जन्म उत्सव 14 अप्रैल को परिसर के अंदर विराजमान भगवान श्री राम लला के टेंट से बने मंदिर को नए पर्दे व फूल माला से सजाया जाएगा और जिसके बाद राम लला को पंचामृत से स्नान कराकर पीला वस्त्र धारण कराकर विधि विधान पूर्वक पूजन किया जाएगा.

14 अप्रैल को दोपहर 12 बजे भगवान के प्राकट्य उत्सव पर महाआरती की जायेगा. 13 अप्रैल को 8 बजकर 13 मिनट तक अष्टमी रहेगी. 14 अप्रैल को राम जन्म भूमि समेत अयोध्या के प्रमुख मंदिरों में रामनवमी का जश्न होगा.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार