अयोध्या: मंदिर में घुसकर बदमाशों ने हिस्ट्रीशीटर पर बरसाईं गोलियां, मचा हड़कंप
Ayodhya News in Hindi

अयोध्या: मंदिर में घुसकर बदमाशों ने हिस्ट्रीशीटर पर बरसाईं गोलियां, मचा हड़कंप
राजेश निषाद के ऊपर भी कई मुकदमे चल रहे थे और वह अयोध्या कोतवाली क्षेत्र का हिस्ट्रीशीटर बताया जाता है. (सांकेतिक फोटो)

अयोध्या के एसएसपी दीपक कुमार (SSP Deepak Kumar) का कहना है कि कलवार मंदिर के सामने ही मोटरसाइकिल सवार तीन युवक आए और आपस में विवाद के बाद उन्होंने राजेश निषाद को गोली मार दी.

  • Share this:
अयोध्या. उत्तर प्रदेश के अयोध्या (Ayodhya) में एक बड़ी खबर सामने आ रही है, जहां गोलियों की तड़तड़ाहट से पूरा इलाका गूंज उठा. कहा जा रहा है कि कलवार मंदिर (Kalwar Temple) में घुसकर राजेश निषाद (Rajesh Nishad) नाम के एक व्यक्ति को गोली मार दी गई है. राजेश निषाद को सीने में तीन गोलियां मारी गई हैं. उसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल भेजा गया, जहां से उसे लखनऊ रेफर कर दिया गया. अयोध्या के एसएसपी दीपक कुमार (SSP Deepak Kumar) का कहना है कि कलवार मंदिर के सामने ही मोटरसाइकिल सवार तीन युवक आए और आपस में विवाद के बाद उन्होंने राजेश निषाद को गोली मार दी. इनमें से एक आरोपी पंकज को गिरफ्तार कर लिया गया है. वहीं, तीन और आरोपी अभी पुलिस की पकड़ से दूर हैं. मुख्य आरोपी मोहित तिवारी और नवीन पांडे चिंटू अभी फरार है.

आपको बता दें कि राजेश निषाद के ऊपर भी कई मुकदमे चल रहे थे और वह अयोध्या कोतवाली क्षेत्र का हिस्ट्रीशीटर बताया जाता है. कलवार मंदिर पर भी इसी का कब्जा था और इसको लेकर विवाद भी चल रहा था. शनिवार को लगभग 8:00 बजे के आसपास जब राजेश कलवार मंदिर की छत पर बैठा था तो उसी समय मोटरसाइकिल सवार तीन युवक वहां पहुंचे, जिनसे राजेश की कुछ देर तक बात होती रही. इसी बातचीत के दौरान आपस में विवाद की नौबत आ गई. इसके बाद मोटरसाइकिल सवार तीनों युवकों ने राजेश के सीने पर एक के बाद एक ताबड़तोड़ तीन गोलियां मार दी. इसके बाद आनन-फानन में उसे श्रीराम अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया.

 गोली कांड को लेकर कई सवाल उठ खड़े हुए हैं
लेकिन अयोध्या के रिहायशी इलाके में जिस तरह से गोली कांड हुआ उसको लेकर कई सवाल उठ खड़े हुए हैं. इसमें एक सवाल मंदिर के विवाद से जुड़ा बताया जाता है. गोली कांड के बाद चारों तरफ अफरा तफरी का माहौल उत्पन्न हो गया और पुलिस भी मौके पर पहुंच गई. लोगों के आक्रोश को देखते हुए हरकत में आई पुलिस ने घटना में प्रयोग की गई मोटरसाइकिल को कब्जे में लेकर और आरोपी एक युवक पंकज को गिरफ्तार कर लिया. फिलहाल, घटना के कारणों को लेकर उससे पूछताछ की जा रही है. अन्य दोनों आरोपी मोहित तिवारी और नवीन पांडे फिलहाल फरार है और उनकी तलाश की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading